व्यापम घोटाले में आरोपी गुलाब सिंह किरार ने मंगलवार को कांग्रेस की सदस्यता ली थी। एक दिन बाद ही किरार की सदस्यता कांग्रेस की समस्या बन गई। दरअसल राहुल गांधी के दो दिवसीय मालवा-निमाड़ दौरे में गुलाब सिंह किरार समेत नरसिंहपुर के तेंदूखेड़ा विधायक संजय शर्मा के अलावा इंदौर क्षेत्र के एक पूर्व विधायक कमलापत आर्य ने कांग्रेस का दामन थामा था, पर बुधवार को कांग्रेस किरार से पल्ला झाड़ते द्खिाई दी। 

गुलाब सिंह किरार का मामला :

गुलाब सिंह किरार पर व्यापम घोटाले में मुख्य आरोपी जगदीश सागर को पैसे देने का आरोप है। दरअसल गुलाब सिंह किरार अपने बेटे शक्ति प्रताप सिंह को एडमिशन दिलाने के लिए जगदीश को पैसे दिए थे। उन पर ग्वालियर के झांसी रोड थाने में मामला दर्ज होने के बाद से वे लंबे समय तक फरार थे। गुलाब सिंह शिवराज के खास थे, जिस कारण शिवराज ने उन्हें राज्य पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ का अध्यक्ष और राज्यमंत्री का दर्जा दिया था। लेकिन व्यापमं घोटाले में नाम आने के बाद किरार को पार्टी ने निलंबित कर दिया था।

गुलाब सिंह किरार

कांग्रेस ने झाड़ा पल्ला :

शिवराज सरकार पर खुल कर व्यापम घोटाले का आरोप लगाने के बाद राहुल गांधी ने व्यापम के आरोपी किरार को इंदौर में कांग्रेस की सदस्यता दिलाई, इसके साथ ही किरार और राहुल गांधी की फोटो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुई थी। कांग्रेस मीडिया सेल की चेयरमैन शोभा ओझा का कहना है कि ‘किरार सिर्फ सिंधिया से मिलने आए थे। पार्टी में वो शामिल नहीं हैं।’ शोभा ओझा के इस बयान के बाद सिंधिया के लिए ये समस्या का कारण बनती नजर आ रही है।

Loading...

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.