fbpx
Monday, May 10, 2021
Home Tags Uncategorized

Tag: Uncategorized

मौन मोदी जी, जनता इन मुद्दों पर जानना चाहती है आपका जवाब !

0

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 2018 में अपना पहला इंटरव्यू ज़ी न्यूज़ के पत्रकार सुधीर चौधरी को दिया। जीएसटी लागू करने के बाद यह प्रधानमंत्री मोदी का पहला इंटरव्यू था। इंटरव्यू के चलते #ModiOnZee Twitter पर घंटों ट्रेंड किया। लोगों को उम्मीद थी कि प्रधानमंत्री मोदी नोटबंदी, जीएसटी और रोजगार के मुद्दे पर अपनी राय रखेंगे।

सुधीर चौधरी को दिए गए इस इंटरव्यू में प्रधानमंत्री मोदी से कई सवाल पूछे गए। प्रधानमंत्री मोदी ने कई सवालों के जवाब दिए लेकिन प्रधानमंत्री मोदी के इस इंटरव्यू में से शिक्षा, स्वास्थ और रोजगार जैसे अहम और महत्वपूर्ण मुद्दे गायब रहे ।

प्रधानमंत्री ने इस इंटरव्यू में रोजगार के मुद्दे पर बात तो की लेकिन बेरोजगारी के आंकड़ों से बचते दिखाई दिए। प्रधानमंत्री मोदी ने सुधीर चौधरी से कहा कि ‘अगर आपके चैनल के बाहर कोई पकोड़ा बेच रहा है तो क्या वो रोजगार नही है ? ‘

प्रधानमंत्री मोदी के इस जवाब की हर जगह आलोचना हो रही है। प्रधानमंत्री मोदी के इस जवाब पर लोगों का भारी गुस्सा फूटा और ट्विटर पर #PakodaModal और #Modinomics ट्रेंड किया।

प्रधानमंत्री के इस इंटरव्यू में से महँगाई और शिक्षा जैसे मुद्दे भी गायब रहे। लोगों को उम्मीद थी कि प्रधानमंत्री जीएसटी, नोटबंदी और डोकलाम जैसे मुद्दे पर अपनी राय रखेंगे। प्रधानमंत्री मोदी ने इस इंटरव्यू में किसानों से जुड़े मुद्दों पर भी बात नही की।

लोकतंत्र को फेक न्यूज़ से ख़तरा, रविश कुमार का प्रधानमंत्री मोदी पर हमला !

0

फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों ने एक कानून लाने का वादा दिया है जो फ्रांस के चुनावी अभियानों के दौरान फेक न्यूज़ पर रोक लगाएगा। उनका कहना है कि लोकतंत्र को बचाने के लिए नए कानून की ज़रूरत है। भारत मे तो प्रधानमंत्री ही चुनावी भाषणों में फेक न्यूज़ का इस्तमाल कर देते हैं। आल्ट न्यूज़ जैसी कुछ वेबसाइट के अलावा फेक न्यूज़ के खिलाफ कोई भी सघन तरीके से नहीं लड़ रहा है। 

फरवरी महीने 18 से दो साल तक सिंगापुर में कोई भी नई कार नहीं ख़रीद सकेगा। वहां की सरकार ने कार ख़रीद पर तरह तरह के प्रतिबंध लगाकर 0.25 प्रतिशत तक ला दिया था जिसे अब शून्य किया जा रहा है। 2000 से सिंगापुर की आबादी में 40 फीसदी वृद्धि हुई है। 6 लाख कारें हो गई हैं। सरकार का कहना है कि अब और जगह नहीं बची है।
केप टाउन के प्रशासन ने लोगों से कहा है कि जब ज़रूरत हो तभी फ्लश करें। तीन बार फ्लश करने से 27 लीटर पानी ख़र्च हो जाता है। कहा जा रहा है कि एक बार ही हाथ और चेहरा धोएं। बर्तन दिन में एक बार ही धोएं। यहां तक कि यह भी सुझाव दिया जा रहा है कि हर दिन दो लीटर की जगह पौने दो लीटर ही पानी पीने की कोशिश करें। बताया जा रहा है कि प्रतिदिन 84 लीटर पानी के इस्तमाल का किस तरह बंटवारा करें और सदुपयोग करें।  

 
केप टाउन में सूखा पड़ा है। शहर में पानी की भयंकर कमी हो गई है। वहां एक जनवरी 2018 से पानी के इस्तमाल पर तरह तरह के प्रतिबंध लगे हैं। जो नियम तोड़ेगा उस पर भारतीय मुद्रा में 5000 से 10000 तक का जुर्माना लगेगा। आप गूगल सर्च करेंगे तो पता चलेगा कि केप टाउन के लोग टॉयलेट और फ्लश की ज़्यादा चर्चा कर रहे हैं। लोग बता रहे हैं कि कैसे बिना फ्लश और पानी के शौच करने लगे हैं। आप यह सब पढ़ेंगे तो अंदाज़ा रहेगा कि पानी की समस्या क्या हालत करने वाली है। इस तरह के संकट भारत में भी पैदा होते ही रहते हैं। 
दुनिया में हर साल तीस लाख लोग वायु प्रदुषण के कारण समय से पहले मर जाते हैं। अमरीका में 1970 के दशक में CLEAN AIR ACT पास हुआ था। वायु प्रदूषण की मात्रा तय कर दी गई थी। अब नए शोध से पता चल रहा है कि यह मात्रा खास उम्र के लोगों के लिए भी जानलेवा साबित हो रही है। 

Journal of the Americal Medical Association में एक नया रिसर्च पेपर प्रकाशित हुआ है। इसके लिए शोधकर्ताओं ने 2 करोड़ 20 लाख मौतों के दस्तावेज़ों का अध्ययन किया है। इनके अध्ययन से देखा गया है कि 65 साल से ऊपर के बुज़ुर्ग वायु प्रदूषण की न्यूनतम मात्रा से भी मारे जा रहे हैं। 
दिल्ली में बहस ही हो रही है। होती रहेगी। आज हिन्दू मुस्लिम टापिक में वैसे क्या है टीवी पर।

शिवराज सरकार को उखाड़ फेंकने तक नही पहनूंगा फूलों की माला: ज्योतिरादित्य सिंधिया

0

कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मंगलवार को संकल्प लिया कि जब तक वह शवराज सरकार को मध्यप्रदेश के सत्ता से उखाड़ फेंकने में सफल नही हो जाते , तब तक वह फूलों की माला नही पहनेंगे।

आपको बता दें कि मध्यप्रदेश के अशोकनगर जिले के मुंगवाली में विधानसभा उपचुनाव होने है। जिसकी तैयारियों के सिलसिले में सिंधिया तीन दिन के दौरे पर निकले हुए है। इस दौरान सिंधिया ने मुंगवाली में कई जनसभाएं संबोधित की और कई कार्यकर्ताओं से मिले।

शिवराज सरकार पर किया हमला
इस दौरान एक जनसभा को संबोधित करते हुए सिंधिया ने कहा कि इस समय मध्यप्रदेश में ऐसी सरकार है जिसने किसानों को हक़ मांगने पर गोली मारी। सिंधिया ने आगे कहा कि शवराज सरकार किसान, गरीब मजदूर और नौजवानों पर जुल्म कर रही है।
हम गांधी के सिद्धांतों से नाता रखते है: सिंधिया
सिंधिया ने कहा की वह महात्मा गांधी के सिद्धांतों पर चलने वाली कॉग्रेस पार्टी से नाता रखते है। सिंधिया ने कहा कि आने वाले विधानसभा चुनाव में जनता भाजपा सरकार को सबक सिखाएगी। इसके साथ ही सिंधिया ने नोटबंदी और जीएसटी को लेकर भी मोदी सरकार पर हमला बोला।

गुजरात में हारने के लिए नीतीश कुमार की जेडीयू लड़ेगी 50 सीटों पर चुनाव : तेजस्वी यादव

0

नीतीश कुमार ने घोषणा की है की जेडीयू गुजरात विधानसभा चुनाव में 50 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। इसके साथ ही नीतीश कुमार ने कहा है कि गुजरात में भाजपा बड़ी जीत दर्ज करेगी। ऐसे में सोचने वाली बात यह है कि एक तरफ जेडीयू गुजरात में 50 सीटों पर अकेले चुनाव लड़ रही है वहीं कह रही है कि भाजपा गुजरात में बड़ी जीत दर्ज करेगी। ऐसे में सवाल उठता है कि जेडीयू गुजरात में जीतने के लिए चुनाव लड़ेगी या फिर भाजपा को जिताने के लिए। या फिर जेडीयू गुजरात में हारने के लिए चुनाव लड़ रही है। 

गुजरात में हारने के लिए चुनाव लड़ेगी जेडीयू: तेजस्वी यादव
बिहार के पूर्व उपमुुख्यमंत्री और लालू प्रसाद यादव के बेटे तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार के इस बयान पर पलटवार करते हुए कहा है कि

BJP गुजरात चुनाव जीतेगी :नीतीश जी
जदयू गुजरात में अकेले 50 सीटों पर चुनाव लड़ेगी : नीतीश

साहब अब आप ये बतायें, अगर BJP वहाँ जीत रही है तो आप वहाँ क्या हारने के लिए लड़ रहे है?अगर हार रही है तो क्या उन्हें जिताने के लिए लड़ रहे है? सब बेवक़ूफ़ है जी!


https://twitter.com/yadavtejashwi/status/933239545557958656



शरद यादव की जेडीयू गुजरात में करेगी कांग्रेस का समर्थन।
आप को बता दें कि गुजरात चुनाव में इस बार दो जेडीयू चुनाव लड़ेगी। एक असली और एक नकली। यह बताना बहुत मुश्किल है कि कौनसी जेडीयू असली है, शरद यादव की या नीतीश कुमार की। शरद यादव की जेडीयू कांग्रेस के साथ मिलकर गुजरात में चुनाव लड़ेगी और नीतीश कुमार की जेडीयू भाजपा को जिताने के लिए।

मोदी तुझे रमन पर भरोसा नही क्या ? 

0

आपने सुना होगा कि केंद्र सरकार को राज्य सरकार की रिपोर्ट पर भरोसा नहीं है ? आपने यह भी सुना होगा कि राज्य सरकार जो रिपोर्ट बनाकर भेजती है केंद्र सरकार उसे खारिज कर देती है। पर क्या यह सब तब हो सकता है जब भाजपा की राज्य सरकार रिपोर्ट ने रिपोर्ट बनाई हो और भाजपा की केंद्र सरकार उसे रिजेक्ट कर दे और वो भी एक या दो नही बल्कि 3 बार। 

जी हां ये कीर्तिमान स्थापित करने वाला कोई और नहीं अपना छत्तीसगढ़ ही है। जिसने पहले 96 तहसीलों को सूखा घोषित किया था और फिर 4100 करोड़ की केंद्र से मांग की थी। जिसके बाद केंद्र ने रिपोर्ट देखते ही नसीहत दी कि अफसर ग्राउंड पर जाकर हकीकत जानें और इस रिपोर्ट पर फंड नहीं दिया जा सकता है। केंद्र की मोदी सरकार ने कहा कि रमन सरकार रिपोर्ट दोबारा बनाकर भेजें।

जिसके बाद रमन सरकार द्वारा फिर रिपोर्ट बनाकर भेजी गई। खास बात ये है कि इस बार भी वही रिपोर्ट भेजी हई जो पहले भेजी गई थी। केंद्र ने फिर फंड नहीं दिया और हकीकत जानने के लिए अपने अफसरों की टीम छत्तीसगढ़ भेज दी। 

केंद्रीय सूखा राहत जांच टीम की छत्तीसगढ़ के अफसरों के साथ बैठक हुई। बैठक में एसीएस अजय सिंह ने प्रजेंटेशन दी लेकिन केंद्रीय सूखा राहत जांच टीम के प्रमुख श्रीनिवास ने साफ कह दिया कि हमने 10 सदस्य तीन अलग अलग टीमें बनाई हैं जो पूरे इलाके का 23 तारीख तक दौरा करेंगी और हकीकत खुद ही जानेंगी और जिसकी रिपोर्ट हम 1 हफ्ते में केंद्र सरकार को सौंपेगे और इसी के आधार पर सूखा राहत कोष जारी होगा।

मतलब साफ है कि रमन सरकार की रिपोर्ट पर मोदी सरकार को भरोसा नही है। 

8वी और 10वी पास के लिए बैंक में निकली नौकरियां, 40,000 तक है सैलरी !

0

बेरोजगारी के इस दौर में बैंक ऑफ बड़ौदा ने बहुत ही शानदार नौकरी निकाली है। बैंक ऑफ बड़ौदा ने 10वी और 8वी पास लोगों के लिए नौकरी पाने का सुनहरा अवसर दिया है। बैंक ऑफ बड़ौदा ने स्पेशलिस्ट ऑफिसर्स के पदों पर आवेदन आमंत्रित किए हैं। 

  • पदों का विववरण: स्पेशलिस्ट ऑफिसर
  • पदों की कुल संख्या: 426
  • अंतिम तिथि: 5 दिसंबर, 2017

योग्यता 

मार्केटिंग/सेल्स/रिटेल में अच्छा अनुभव और 2 साल का फुल टाइम एमबीए या समकक्ष पोस्ट ग्रैजुएट डिग्री/डिप्लोमा आदि होना अनिवार्य है.

इसके एलावा 10वी 12वी पास छात्रों के लिए भी नौकरी निकली है। 

आयु सीमा। 

इन पदों पर आवेदन करने वाले उम्मीदवारों के लिए पदों के मुताबिक अलग-अलग आयुसीमा तय की गई है. जिसमें न्यूनतम 21 साल 35 साल तक सीमा तय की गई है. अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए नोटिफिकेशन देखें.

ऐसे करें आवेदन।

आवेदन करने के लिए इच्छुक उम्मीदवार बैंक ऑफ बड़ौदा की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर नोटिफिकेशन को ध्यानपूर्वक पढ़ें। नोटिफिकेशन में आवेदन करने की पूरी जानकारी दी गई है। जिसके बाद आप अपनी योग्यता के अनुसार मौजूद पदों पर आवेदन कर सकते है। 

गुजरात में पार्टी से नाराज नेताओं ने अमित शाह के सामने लगाए ‘बीजेपी हाय-हाय’ के नारे !

0

गुजरात में भाजपा पिछले 22 सालों से राज कर रही है। एक के बाद एक भाजपा ने गुजरात में चुनाव जीते और बहुमत के साथ सरकार बनाई। जिसके कारण गुजरात को भाजपा का गढ़ माना जाने लगा। नरेंद्र मोदी और अमित शाह की जोड़ी ने गुजरात को दूसरी पार्टियों के लिए एक अभेद किले में तपदील कर दिया लेकिन इस बार भाजपा के लिए गुजरात में अपना किला बचाना मुश्किल हो गया है।

यह भी पढ़ें: एक हो रहा विपक्ष, 2 पार्टियां करने जा रही कांग्रेस से गठबंधन

 

दलित विधायक जेठा सोलंकी ने छोड़ी पार्टी,दिया सभी पदों से इस्तीफा

भाजपा के लिए गुजरात में एक और बड़ी मुश्किल सामने आई है। चुनाव की तैयारियों के बीच बीजेपी को बड़ा झटका देते हुए कोडिनार सीट से बीजेपी विधायक व दलित नेता जेठा सोलंकी ने शनिवार को पार्टी छोड़ दी और सभी पदों से इस्तीफा दे दिया। जिग्नेश मेवानी के कांग्रेस को समर्थन के बाद से ही दलित वोटबैंक भाजपा के पाले से खिसकता नजर आ रहा था। ऐसे में सोलंकी का इस्तीफा भाजपा के लिए बड़ी मुसोबत साबित हो सकता है। 

 

यह भी पढ़ें: सामने आया मेक इन इंडिया का जुमला, चीन से चुनाव सामग्री आयात कर रही बीजेपी !

पहली लिस्ट के बाद अमित शाह के सामने लगे भाजपा हाय हाय के नारे

विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा ने शुक्रवार को 70 उम्मीदवारों की लिस्ट जारी की। लिस्ट जारी होने के बाद से ही भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं में असंतोष बढ़ता जा रहा है। पार्टी कार्यकर्ताओं में असंतोष इस कदर बड़ गया है कि कार्यकर्तों ने पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के सामने ही हंगामा करने शुरू कर दिया। सूत्रों के अनुसार हंगामे के बीच कई नेताओं और कार्यकर्ताओं ने अमित शाह के सामने ही भाजपा हाय हाय के नारे लगाने शुरू कर दिया। 

आपको बता दें कि शनिवार को भाजपा द्वारा जारी दूसरी लिस्ट में 36 उम्मीदवारों के नाम की घोषणा की गई है। इससे पहले शुक्रवार को बीजेपी ने 70 उम्मीदवारों की लिस्ट जारी की थी। कुल 182 सीटों में से बीजेपी 106 उम्मीदवारों के नाम घोषित कर चुकी है। ऐसे में अब बीजेपी को 76 और उम्मीदवारों के नाम तय करने हैं।


एकजुट हो रहा विपक्ष, 2 पार्टियां करने जा रही कांग्रेस से गठबंधन

0

गुजरात चुनाव में भाजपा के खिलाफ विपक्ष एकजुट होता दिख रहा है। शरद पवार की एनसीपी और शरद यादव की जेडीयू के साथ कांग्रेस का गठबंधन अपने अंतिम चरण में पहुंच गया है। सूत्रों के अनुसार बहुत जल्द गठबंधन का औपचारिक ऐलान हो जाएगा।

अशोक गहलोत ने दिया संकेत
गुजरात में कांग्रेस के प्रभारी अशोक गहलोत ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि शरद यादव की जेडीयू से गठबंधन की बातचीत में काफी प्रगति हुई है कांग्रेस जेडीयू के लिए कुछ सीटें छोड़ सकती है।
वहीं शरद यादव की एनसीपी के बारे में अशोक गहलोत ने कहा है कि एनसीपी से सीटों के बटवारे को लेकर बातचीत जारी है। गहलोत ने कहा कि दोनों पार्टियों ने कांग्रेस के साथ गठबंधन की इच्छा जाहिर की जेके बाद कांग्रेस ने भी सकारात्मकता दिखाई।

आपको बात दें कि गुजरात में 9 और 14 दो चरणों में विधानसभा चुनाव होने है और सभी पार्टियां अपनी ऐड़ी चोटी का जोर लगा रही है। राहुल गांधी के गुजरात दौरों ने बीजेपी के गढ़ गुजरात में मोदी का सिंहासन हिला दिया है। हार्दिक पटेल, जिग्नेश मेवानी और अल्पेश ठाकोर जैसे युवा नेताओं ने कांग्रेस के साथ आकर पहले ही भाजपा की मुश्किलें बढ़ा रखी है। ऐसे में अगर एनसीपी और जेडीयू कांग्रेस के साथ आ जाती है तो भाजपा के लिए अपनी कुर्सी बचना मुश्किल हो जाएगा।

दूध से धुले, गंगा में नहाए और गौमूत्र पीकर आपके सामने हाजिर है श्री श्री 108 नरेन्द्र मोदी जी।

0

बात आज हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र दामोदरदास मोदी की। एक चाय बेचने वाला कैसे दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र का प्रधानमंत्री बना । कैसे एक व्यक्ति ने देश के लिए अपना घर परिवार सब त्याग दिया। कैसे एक व्यक्ति ने नोटबंदी जैसा कठोर फैसला लेने की हिम्मत की। कैसे एक व्यक्ति ने कुछ ही महीनों के भीतर आतंकवाद की कमर तोड़ दी। कैसे एक व्यक्ति ने सिर्फ एक फैसले से देश में मौजूद करोड़ों के जाली नोटों को रद्दी बना दिया।  कैसे एक व्यक्ति ने भारत को भ्रष्टाचार मुक्त बना दिया। कैसे एक व्यक्ति ने एक रुपये और एक रोटी से बनी राजनैतिक पार्टी को देश की सबसे अमीर पार्टी बना दिया।

यह सब सुनकर देश के किस व्यक्ति को अपने प्रधानमंत्री पर गर्व नही होता होगा। माना कि देश के लोगों को थोड़ी परेशानी हुई। आम जनता को, गरीबों को परेशानी हुई कुछ लोगों की मौत भी हुई पर नया जूता भी तो पहले कुछ समय काटता है। गरीबों की परेशानी देखने वालों अमीरों को देखो कैसे वो सड़क पर आ गए। देखो कैसे बीएमडब्लू और मर्सडीज़ से घूमने वाले एटीएम की लाइनों में लगने को मजबूर हो गए। देखो कैसे मोदी जी ने नए नोटों में नैनो जीपीएस चिप लगाकर सभी भ्रष्टाचारियों को जेल के अंदर डाल दिया। 
देखो आज दाऊद डरा हुआ है। देखो आज विजय माल्या जैसे भगोड़े देश में वापिस आने के लिए मजबूर है। देखो कैसे मोदी जी ने महँगाई डायन को विकास बना दिया। कैसे मोदी जी ने देश को अपराधमुक्त बना दिया। कैसे मोदी जी ने बेरोजगारों को रोजगार दिया। भूखों को खाना दिया। 
माना कि कुछ महिलाएं सुरक्षित नही है, माना कि अस्पताल में बच्चे मर रहे है पर गाय तो सुरक्षित है। आज तो बिटकॉइन भी रुपये के सामने पानी भर रहा है, डॉलर की तो बात ही छोड़ दो। 

इतना सब किया मोदी जी ने लेकिन फिर भी आज कुछ खांग्रेसी जिनने देश को 60 साल लूटा है वह मोदी जी से 3 साल का हिसाब मांगते है। कहते है कि मोदी जी ने देश की अर्थव्यवस्था की लुटिया डुबो दी। अरे हमारे मोदी जी कैसे कुछ गलत कर सकते है ? हमारे मोदी जी देश के लिए घर-बार छोड़ कर आए है, वह किसके लिए भ्रष्टाचार करेंगे ? कोई इन लोगों को बताइये की हमारे मोदी जी दूध से धुले, गंगा में नहाए और गौमूत्र पीकर प्रधानमंत्री बने है।
मित्रों आप ही बताइए मोदी जी पर आरोप लगाने वाले ऐसे लोगों का क्या करना चाहिए ? भाइयों और बहनों बताइये ऐसे देशद्रोहियों का क्या करना चाहिए ? क्या इन लोगों की कमर तोड़ दूँ ? भाइयों और बहनों क्या इन लोगों को पाकिस्तान भेज दूँ ? 

भक्त: मोदी! मोदी! मोदी!

बड़ा खुलासा: RBI की सांठ-गांठ से नोटबंदी के एक साल बाद तक बदले जा रहे पुराने नोट !

0

आप को सुनकर हैरानी होगी पर यह सच है। भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए लागू की गई नोटबंदी एक साल बाद तक सिर्फ मनी लॉन्ड्रिंग स्कीम यानी काळा धन को सफेद करने की योजना बन कर रह गयी है। आपको जानकर हैरानी होगी कि नोटबंदी के एक साल बाद तक पुराने नोट बदले जा रहे है।

इंडिया टुडे के ऑपरेशन डेमो माफिया में हुआ खुलासा

अंग्रेजी न्यूज़ चैनल इंडिया टुडे ने अपने एक्सक्लूसिव स्टिंग ऑपरेशन डेमो माफिया में एक ऐसे गैंग का पर्दाफाश किया है जो नोटबंदी के एक साल बाद अभी तक मोटी कमीशन पर पुराने नोट बदल रहा है। आप को बता दें कि इंडिया टुडे के पत्रकार नितिन जैन ने स्टिंग ऑपरेशन कर दिल्ली की एक ऐसे गैंग का खुलासा किया है जो आरबीआई में काम कर रहे अफसरों से सांठ गांठ करके पुराने नोट बदल रहे है।

इंडिया टुडे के इस स्टिंग ऑपरेशन में दिल्ली के सरिता विहार के रहवासी शिवानंद अपने कुछ साथियों के साथ मिलकर पुराने नोट को बदलवाने का दावा कर रहा है। रिपोर्टर नितिन जैन ने जब शिवानंद से पूछा कि वह कितना पैसा बदलवा सकता है ? तो जवाब में शिवानंद कहता है कि आप 100 करोड़ ले आओ या 200 करोड़ ले आओ हम बदलवा देंगे।
नोटबंदी से सिर्फ भ्रष्टाचारियों के आए अच्छे दिन
नोटबंदी में जहां 150 से ज्यादा लोगों की मौत हो गयी, हजारों की संख्या में कारखाने बंद हो गए, लाखों लोगों की नौकरी चली गयी और सरकार जश्न मना रही है। कुछ भी कहा लेकिन नोटबंदी के बाद अच्छे दिन तो आए ही है फिर चाहे वो भ्रष्टाचारियों के ही क्यों नही हो।

देखें इंडिया टुडे का ऑपरेशन डेमो माफिया

https://twitter.com/IndiaToday/status/928953471230820352