Advertisements
Home Tags Rajasthan

Tag: Rajasthan

Here you can get all news related to politics and all other sectors. Newbuzzindia

राजस्थान की तीनों सीटों पर कांग्रेस का कब्जा, भाजपा का सूपड़ा साफ।

0

Update: राजस्थान उपचुनाव में दोनों लोकसभा और एक विधानसभा सीटों पर कांग्रेस ने नेताओं ने भारी बढ़त बनाकर अपनी जीत सुनिश्चित कर ली है। 

राजस्‍थान की दो लोकसभा और एक विधानसभा तथा पश्चिम बंगाल की एक लोकसभा सीट पर मतों की गणना जारी है। गुरुवार (1 फरवरी) को सुबह 8 बजे मतगणना प्रारंभ हुई। ताजा अपडेट के अनुसार, अलवर में कांग्रेस को अब तक 2,66,814 मत प्राप्‍त हुए हैं, जबकि बीजेपी को 2,06,879, नोटा को 6,173 लोगों ने चुना है। अजमेर में अब तक कांग्रेस उम्‍मीदवार को 1,54,336, बीजेपी को 1,28,291, नोटा को 2,187 मत मिले हैं। 

मंडलगढ़ में कांग्रेस उम्‍मीदवार विवेक धाकड़ को अब तक 45,011 तथा बीजेपी के शक्ति सिंह को 42,999 वोट मिले हैं। राजस्‍थान के अलवर में भाजपा के जसवंत सिंह यादव का मुकाबला कांग्रेस के करण सिंह यादव से है, जबकि अजमेर में कांग्रेस के रघु शर्मा को भाजपा के राम स्वरूप लांबा से चुनौती मिल रही है। मंडलगढ़ सीट पर मुख्य मुकाबला भाजपा के शक्ति सिंह हाडा और कांग्रेस के विवेक धाकड़ के बीच है। अजमेर में कांग्रेस के रघु शर्मा 26,045 से ज्‍यादा वोटों से आगे हैं। वहीं, अलवर में करण सिंह यादव 59,935 वोटों से आगे चल रहे हैं। मंडलगढ़ में भी कांग्रेस के विवेक धाकड़ लगभग 2012 वोट से आगे चल रहे हैं।
 

पश्चिम बंगाल के नोआपारा, जहां कांग्रेस विधायक मदुसूदन घोष के निधन के चलते उपचुनाव हुआ, तृणमूल के सुनील सिंह ने अपने करीबी प्रतिद्वंदी भाजपा के संदीप बनर्जी को 63,000 से ज्यादा वोटों से मात दे दी। उलुबेरिया में तृणमूल की सजदा अहमद जो दिवगंत सांसद सुल्‍तान अहमद की बेवा हैं, वे भाजपा के अनुपम मलिक से 1,84,949 मतों से आगे हैं।

  •  उलुबेरिया में तृणमूल कांग्रेस की उम्‍मीदवार निकटतम भाजपा प्रतिद्वंदी से अब 1,84,949 वोटों से आगे चल रही हैं। यहां भाजपा मुख्‍य विपक्षी पार्टी बनकर उभरी है। इस सीट पर 40 फीसदी से ज्‍यादा मुस्लिम आबादी है और यहां से मुस्लिम उम्‍मीदवार दशकों से जीतते आए हैं।
  •  कांग्रेस अब राजस्‍थान की सभी सीटों पर लीड कर रही है। अजमेर में कांग्रेस को अब तक 108161 वोट मिले जबकि बीजेपी को 85510। यहां कांग्रेस 22651 मतों से आगे है। अलवर में कांग्रेस ने 172535 मत हासिल किये हैं, जबकि बीजेपी को 133289 वोट मिले हैं। कांग्रेस की बढ़त 39,246 मतों की है। मंडलगढ़ में कांग्रेस को 35166 वोट, बीजेपी को 35050 वोट मिले हैं। यहां कांग्रेस 116 वोट से आगे है।
  • एएनआई से बातचीत में कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने कहा, ”शुरुआती रुझान साबित करते हैं कि जनादेश सरकार के खिलाफ है। उम्‍मीद है कि कांग्रेस की बढ़त और बढ़ेगी। वसुंधरा जी और उनकी सरकार को लोगों ने पूरी तरह खारिज कर दिया है।”
  •  न्‍यूज 18 के अनुसार, नोआपारा में टीएमसी उम्‍मीदवार सुनील सिंह 63,018 वोट्स से जीत गए हैं। टीएमसी को कुल 1,11,729 वोट मिले। दूसरे नंबर पर भाजपा रही, जिसके उम्‍मीदवार को 38,771 वोट मिले। सीपीआई (एम) उम्‍मीदवार को 35,497 वोट हासिल हुए। कांग्रेस उम्‍मीदवार को केवल 10,527 वोट मिले।
  • रिपोर्ट्स के अनुसार, नोआपारा में 11 राउंड की मतगणना के बाद टीएमसी के सुनील गुप्‍ता को 77,983 वोट्स मिले हैं। भाजपा उम्‍मीदवार 30,220 वोटों के साथ दूसरे नंबर पर चल रहे हैं। सीपीआई (एम) की गार्गी चटर्जी को 28,732 वोट मिले हैं।
  •  मंडलगढ़ विधानसभा सीट पर बीजेपी ने बढ़त बना ली है। रिपोर्ट्स के अनुसार, यहां से शक्ति सिंह हदा 15,419 वोट्स से आगे चल रहे हैं। बंगाल की दोनों सीटों पर टीएमसी क्‍लीन स्‍वीप की ओर बढ़ रही है
  • एएनआई के अनुसार, अलवर में कांग्रेस उम्‍मीदवार करण सिंह यादव 30,985 वोट पाकर सबसे आगे चल रहे हैं। बीजेपी के जसवंत सिंह दूसरे नंबर पर हैं। वहीं अजमेर में भी कांग्रेस उम्‍मीदवार 7,585 वोटों के साथ सबसे आगे चल रहे हैं।
  •  मंडलगढ़ में बीजेपी के शक्ति सिंह अब 699 वोट पाकर आगे चल रहे हैं। निर्दलीय उम्‍मीदवार गोपाल मालवीय दूसरे स्‍थान पर हैं जबकि कांग्रेस के विवेक धाकड़ तीसरे नंबर पर चल रहे हैं।
  • नोआपारा विधानसभा उपचुनाव में पहले रुझान के बाद टीएमसी को 7,329 वोट मिले हैं। लेफ्ट उम्‍मीदवार गार्गी चटर्जी 2,290 वोट्स के साथ दूसरे नंबर पर ल रही हैं। बीजेपी 2,286 वोटों के साथ तीसरे स्‍थान पर है। कांग्रेस के गौतम बोस को 1,503 वोट्स मिले हैं।
  • अलवर और अजमेर, दोनों की सीटों पर शुरुआती रुझान में कांग्रेस ने बढ़त बनाई है। अमजेर से कांग्रेस उम्‍मीदवार रघु शर्मा 4500 वोट से आगे चल रहे हैं। अलवर में 65.2 फीसदी जबकि अमजेर में 61.86 प्रतिशत मतदान हुआ था। मंडलगढ़ में भी कांग्रेस के विवेक धाकड़ बीजेपी के शक्ति सिंह से आगे चल रहे हैं।
  • सभी सीटों पर मतगणना सुबह 8 बजे शुरू हो गई है। मतगणना केंद्रों पर सुरक्षा व्‍यवस्‍था के पुख्‍ता इंतजाम किये गए हैं। बंगाल के नोआपारा में टीएमसी ने सुनील सिंह को उम्‍मीदवार बनाया है, उनके सामने सीपीआई (एम) की गार्गी चटर्जी, कांग्रेस के गौतम बोस
Advertisements

पंजाब के बाद अब राजस्थान में कांग्रेस ने दर्ज की बड़ी जीत,  25 में से 16 सीटों पर किया कब्जा । 

0

गुजरात चुनाव में भले ही कांग्रेस को हार मिली हो लेकिन इस चुनाव ने जनता के बीच कांग्रेस के प्रति विश्वास जरूर जग दिया है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने जिस तरह गुजरात चुनाव लड़ा उससे पूरे देश के कांग्रेस कार्यकर्ताओं में काफी उत्साह है। कहा जाए तो गुजरात चुनाव के बाद राहुल गांधी अपने आप को नरेंद्र मोदी के विकल्प के तौर पर स्थापित करने में कामयाब रहे ।

पंजाब में हुए नगरीय निकाय चुनाव में शानदार जीत दर्ज करने के बाद कांग्रेस ने राजस्थान में भी जीत का सिलसिला जारी रखा हैं। राजस्थान में हुए पंचायत उपचुनाव में कांग्रेस ने 25 में से 16 सीटों पर कंज जमाया है। इसके साथ ही नगरीय निकाय उपचुनाव में कांग्रेस समर्थित और भाजपा समर्थित उम्मीदवारों ने 7-7 सीटों पर जीत दर्ज की।

कांग्रेस को होगा जीत का फायदा।
कांग्रेस के लिए यह जीत इसलिए भी बड़ी है क्योंकि राजस्थान में अगले साल अलवर और अजमेर लोकसभा सीट पर उपचुनाव और राजस्थान विधानसभा चुनाव होना है। ऐसे में इस जीत से कांग्रेस कार्यकर्ताओं का मनोबल बढ़ा है।

तैयारियों में जुटे अशोक गहलोत और सचिन पायलट
गुजरात चुनाव से लौटकर राजस्थान आए अशोक गहलोत और सचिन पायलट राजस्थान चुनाव की तैयारियों में जुट गए है। राजस्थान की जनता में वसुंधरा सरकार के प्रति गुस्सा है जिसका फायदा उठाकर कांग्रेस राजस्थान में सरकार बनाने चाहती है।

सरकार की नीतियों से परेशान पुलिसकर्मी, राजनाथ सिंह को सलामी देने से किया इंकार !

0

मोदी सरकार को इस समय चौतरफा विरोध का सामना करना पड़ रहा है । ताजा मामला मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के राज्य राजस्थान से आया है ।

दरअसल राजस्थान सरकार द्वारा हर महीने की जा रही सैलरी कटौती से नाराज पुलिस कर्मियों ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है । जिससे गृहमंत्री राजनाथ सिंह भी बच नही पाए ।

दरसल जोधपुर दौरे पर गये गृहमंत्री राजनाथ सिंह को ‘गार्ड ऑफ ऑनर ‘ देने के लिए 8 जवानों को तैयार किया गया था लेकिन आखरी समय पर सभी जवान छुट्टी पर चले गए ।

जिसके बाद आखरी समय में दूसरी टीम से गृहमंत्री को सलामी दिलवाई गयी । इससे पहले जोधपुर दौरे पर गये ADG एम एल लताड़ को भी पुलिस ने सलामी देने से मना कर दिया था और तब भी दूसरी टीम बुलवाकर सलामी दिलवाई गयी थी ।

नोटबंदी पर जनता ने दिया जवाब, राजस्थान की सभी 17 सीटों पर भाजपा को मिली करारी हार

0

Newbuzzindia:नोटबंदी को ले कर के जिस तरह का रोष लोगों के बीच है वो मौका मिलने पर सामने आने लगा है। इस घोषणा के बाद भाजपा को सबसे बड़ा झटका राजस्थान के निकाय चुनाव में लगा है। इस चुनाव में भाजपा को करारी हार का मुंह देखना पड़ा है।राजस्थान के झालावाड़ निकाय चुनावों में बीजेपी ने 17 सीटें गवां दी हैं। सारी सीटों पर कांग्रेस का कब्जा हुआ है। नोटबंदी के बाद बीजेपी की ये सबसे बड़ी हार है। इससे पता चल रहा है कि देश की जनता नोटबंदी के बाद कितनी परेशान है।

कांग्रेस ने खोला नरेंद्र मोदी का नया “जीएसपीसी घोटाला” । 20,000 करोड़ का है घोटाला !

राजस्थान के झालावाड़ जिले में मुख्यमंत्री और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वसुंधरा राजे के झालरापाटन सीट से चुनाव मैदान में होने से राजनीतिक दृष्टि से यह सीट काफी महत्वपूर्ण हो गया था।

1978 में मोदी की डिग्री कंप्यूटर से कैसे छपी? क्या बिल गेट्स ने कोई स्पेशल कंप्यूटर भेजा: आप

इससे कहीं अधिक इस जिले का राजनीतिक महत्व इस बात को लेकर है कि जिले के शेष तीन विधानसभा सीटों खानपुर, मनोहरथाना और डग में राजे की उपस्थिति के बावजूद भाजपा के अपनी ही पार्टी के बागियों से कड़ी चुनौती का सामना करना पड़ रहा।

जिन भाषणों से दूसरों को हराया, उसी से हार रहे हैं मोदी : रविश कुमार

भाजपा राज में महँगाई बढ़ने के कारण आए “बुरे दिन” : सचिन पायलट

0

Newbuzzindia: राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सचिन पायलट ने प्रदेश की भाजपा सरकार द्वारा विद्युत दरों में एक बार फिर अप्रत्याशित वृद्धि किए जाने को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए इसे कमरतोड़ महंगाई के दौर में सरकार की लापरवाही के कारण हो रही विद्युत चोरी व छीजत से बढ़ रहे घाटे की भरपाई के लिए उठाया गया कदम बताया है।

पायलट ने कहा कि सरकार द्वारा गत वर्ष फरवरी माह में विद्युत दरों में 17 से 24 प्रतिशत की वृद्धि कर हर श्रेणी के उपभोक्ता पर भार डाला गया था और अब पुन विद्युत दरों में औसत 9.6 प्रतिशत की वृद्धि कर बढ़ती महंगाई के दौर में आम जनता की कमर तोडने का काम किया है जिससे घरेलू उपभोक्ताओं पर 11 से 12 प्रतिशत तक का अतिरिक्त भार पडेगा।

उन्होंने कहा कि शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में सुचारू रूप से विद्युत आपूर्ति करने में विफल रही वाली भाजपा सरकार ने विद्युत चोरी व छीजत रोकने के स्थान पर पुन विद्युत दरों को बढ़ाकर जनविरोधी कदम उठाया है। उन्होंने कहा कि सरकार ने अपने घाटे को पाटने के उद्देश्य से विद्युत दरों में वृद्घि की है।

इससे आगामी बजट आने से पूर्व ही सरकार को 1600 करोड़ रुपये की राजस्व प्राप्ति हो जायेगी। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा की गई उक्त वृद्घि एक सितम्बर से लागू होगी। सरकार ने पहले से ही जनता पर अनेक कर, उपकर व सेस लगाकर सब कुछ को महंगा कर रखा है, जबकि भाजपा सरकार ने चुनावों के दौरान महंगाई कम करने का वादा किया था।

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि सरकार ने कुछ समय पहले ही पानी की दरों में भी अप्रत्याशित वृद्धि की गई थी जबकि सरकार पानी की सुचारू आपूर्ति में पूरी तरह से विफल है।

पायलट ने आगे कहा कि गत समय में विद्युत नियामक आयोग के समक्ष कांग्रेस सहित विभिन्न संस्थाओं ने सरकार के विद्युत तंत्र की नाकामी पर सुझाव दिए थे। जिससे प्रमाणित हुआ था कि सरकार अपने वित्तीय कुप्रबन्धन का भार आमजनता पर डाल रही है। उन्होंने सरकार से मांग की है कि बढ़ी हुई विद्युत दरों को वापस लेकर जनता को राहत देनी चाहिए।

सावधान ! अब तम्बाकु खाने वाले को नही मिलेगी सरकारी नौकरी

0

#Newbuzzindia/सुमेरपुर । जी हाँ ! अब यदि आपको सरकारी नौकरी करना है तो अपनी आदतों में आपको बदलाव करना होगा। अपने शौक को भी बदलना या भूलना पड़ेगा।

राजस्थान सरकार जल्द ही ऐसे नियम लागू करने जा रही है, जिसके अंतर्गत यदि आप तम्बाकू, गुटका इत्यादि का सेवन करते है तो आप नौकरी के लिए अपात्र घोषित कर दिए जाओगे।

इस फैसले के अंतर्गत सबसे पहले डॉक्टरों से सपथ पत्र लिया जाएगा। वहीं सरकार ने ये कदम तम्बाकू व् नशा मुक्ति को लेकर उठाया है।

NewBuzzIndia से फेसबुक पर जुड़ने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें..
**Like us on facebook**
[wpdevart_like_box profile_id=”858179374289334″ connections=”show” width=”300″ height=”150″ header=”small” cover_photo=”show” locale=”en_US”]

कांग्रेस के बुरे दिन हुए शुरू, फिर मिला झटका, राजस्थान प्रभारी गुरुदास कामत ने दिया इस्तीफा

0

#newbuzzindia/जयपुर । एक ऐसा समय था जब कांग्रेस देश की सबसे मजबूत और दमदार पार्टी हुआ करती थी। 2014 के लोकसभा चुनाव के बाद से मानो कांग्रेस की जड़े ही हिल गयी हो। एक के बाद एक कांग्रेस को झटके लगते रहे, और लगातार कांग्रेस कमजोर पड़ती रही।

एक नया झटका हाल ही में कांग्रेस को लगा है, जिसने कांग्रेस को अंदर तक झकझोर दिया है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राजस्थान के प्रभारी गुरुदास कामत ने अपने राजनैतिक जीवन से त्यागपत्र दे दिया है।

**Like us on facebook**
[wpdevart_like_box profile_id=”858179374289334″ connections=”show” width=”300″ height=”150″ header=”small” cover_photo=”show” locale=”en_US”]

आपको बता दे कि, कुछ दिन पहले ही कांग्रेस को छत्तीसगड़ में मुह की खानी पड़ी थी, वहां के सबसे दमदार नेता ने कांग्रेस से पल्ला झाड़ा था, तो उसी के बाद इस घटना से कांग्रेस पूरी तरह हिल चुकी है।

गुरुदास कामत, 44 साल से कांग्रेस में बने हुए थे, 10 पहले ही उन्होंने कांग्रेस सुप्रीमो सोनिया गांधी से मुलाकात की थी और इस्तीफा सौपा था, पर इस्तीफे पर कार्रवाई न होने से श्री कामत ने सन्यास की घोषणा कर दी।

वहीं इस मुद्दे पर ये भी कयास लगाए जा रहे है कि, कामत कांग्रेस से इसलिए भी पीछा छुड़ा रहे है कि राहुल गांधी को कांग्रेस की कमान सौपी जायेगी या कांग्रेस की बढ़ती कमजोरी भी एक कारन हो सकती है।

“भाजपा ने अच्छे दिन नही बल्कि विकास को ठप्प करने का काम किया है”- भगोरा

0

“भाजपा ने अपने कार्यकाल में जनता को अच्छे दिन नही बल्कि पिछली सरकार की कल्याणकारी योजनाओं और विकास के कार्यों को ठप्प करने का कार्य किया है।” यह बात कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव और बांसवाड़ा डूंगरपुर के पूर्व सांसद ताराचंद भगोरा ने अपने निवास स्थल पर प्रेस कॉन्फ्रेंस कर के कही।

प्रेस कॉन्फ्रेंस में भगोरा ने भाजपा पर एक के बाद एक तीर छोड़े। भगोरा ने भाजपा पर निशाना साधा और कहा कि, भाजपा कार्यकर्ताओं की मन की बात सुनने आये भाजपा मंत्रियो के सामने भाजपा कार्यकर्ताओं ने ही भाजपा सरकार की पोल खोल कर रख दी है।

वहीँ भगोरा ने राज्य के गृहमंत्री गुलाबचंद कटारियों ने कांग्रेस के 50 वर्ष  और भाजपा के ढाई वर्ष के कार्यकाल पर खुली बहस की चुनौती को स्वीकारते हुए कहा की वे कटारिया से बहस के लिए पूरी तरह तैयार है।

**Like us on facebook**
[wpdevart_like_box profile_id=”858179374289334″ connections=”show” width=”300″ height=”150″ header=”small” cover_photo=”show” locale=”en_US”]

कार्यकर्ताओं की लगन से कांग्रेस फिर आएगी सत्ता में- डॉ. करणसिंह यादव

0

Newbuzzindia: “यदि कांग्रेस एकजुटता और लगन से कार्य करती है और इसमें कार्यकर्ता पूरी तरह सहभागिता निभाते है तो एक बार फिर कांग्रेस सत्ता में वापिस आएगी।” यह बात राजस्थान के प्रदेश उपाध्यक्ष डॉ. करणसिंह यादव ने नवगठित जिलाकार्यकारिणी के शुभारम्भ और शपथ ग्रहण समारोह में अलवर में कही।

इस मौके पर पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस के दिग्गज नेता जितेंद्र सिंह ने भी कार्यकर्ताओं को खरी खरी सुनाई और कहा कि, यदि कांग्रेस को फिर से सत्ता में लाना है तो सभी को स्वयं के काम पर ध्यान देना होगा न कि दूसरे के।

**Like us on facebook**
[wpdevart_like_box profile_id=”858179374289334″ connections=”show” width=”300″ height=”150″ header=”small” cover_photo=”show” locale=”en_US”]

इस बैठक में कांग्रेस के कई बड़े नेता मौजूद थे, जिनमे जुबेर खाँ, जीआर खटाणा, सकुंतला रावत सहित अनेक दिग्गज लोग मौजूद थे।

अगस्ता वेस्टलैंड मामले में आया भाजपा के 2 मुख्यमंत्रियों का नाम !

0

Newbuzzindia: कांग्रेस ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा की मोदी सरकार ने वसुंधरा राजे के खिलाफ कोई एक्शन क्यों नहीं लिया, जबकि कैग की रिपोर्ट के मुताबिक राजस्थान सरकार ने अगस्ता वेस्टलैंड हेलिकॉप्टर खरीद कर जनता के 1.14 करोड़ रुपए का नुकसान किया था।

अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलिकॉप्टर डील पर कांग्रेस ने मोदी सरकार से सवाल किए हैं। कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि कंपनी पर लगे बैन को मोदी सरकार ने हटा दिया। अपने सवालों में कांग्रेस ने बीजेपी के दो मुख्यमंत्रियों वसुंधरा राजे और रमन सिंह पर भी आरोप लगाए हैं।

कांग्रेस ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा की मोदी सरकार ने राजस्थान की सीएम वसुंधरा राजे के खिलाफ कोई एक्शन क्यों नहीं लिया, जबकि कैग की रिपोर्ट के मुताबिक राजस्थान सरकार ने अगस्ता वेस्टलैंड हेलिकॉप्टर खरीद कर जनता के 1.14 करोड़ रुपए का नुकसान किया था।

दरअसल राज्य सरकार ने वीआईपी के लिए करीब 20 करोड़ की लागत में हेलिकॉप्टर खरीदा था। यह राजे सरकार के पिछले कार्यकाल का मामला है, तब 2005 में यह सौदा हुआ था।

अब यह सौदा रक्षा मंत्रालय की जांच के घेरे में है। राज्य सरकार को लिखे पत्र में रक्षा मंत्रालय की ओर से अगस्ता ई-190 पावर हेलिकॉप्टर की खरीद संबंधी दस्तावेज मांगे गए थे। 31 मार्च 2008 को समाप्त हुए वित्त वर्ष में कैग की रिपोर्ट में इस सौदे को लेकर कई अनियमितताओं का जिक्र किया गया था।

उसके अनुमान के मुताबिक इससे खजाने को करीब 1.14 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ। सीबीआई अगस्ता वेस्टलैंड से वीवीआईपी हेलिकॉप्टर खरीद के 3,600 करोड़ के मामले में आर्थिक अनियमितताओं की जांच कर रही है।

राजे सरकार ने करीब 20 करोड़ रुपए में यह हेलिकॉप्टर खरीदा था, जो मुख्यत: मुख्यमंत्री, राज्यपाल जैसे वीआईपी के दौरों के लिए था, लेकिन यह हेलिकॉप्टर सजावटी हाथी ही साबित हुआ क्योंकि प्रशिक्षित पायलट के अभाव में यह खड़ा रहा एवं पहली बार 2007 में ही उड़ा।

राज्य सरकार ने इसके लिए कंपनी से अनुबंध किया था, जबकि देश में उस श्रेणी के हेलिकॉप्टर के लिए कोई प्रशिक्षित पायलट नहीं था। इस तरह जहां हेलिकॉप्टर की खरीद एवं रखरखाव पर काफी पैसा खर्च किया गया, वहीं पायलट न होने से दूसरे हेलिकॉप्टरों पर भी काफी खर्चा हुआ। कैग की रिपोर्ट में बताया गया है कि हेलिकॉप्टर 29 जुलाई 2005 में दिल्ली पहुंचा और 22 सितंबर 2005 को जयपुर आया।
इसका कोई उपयोग नहीं हुआ, क्योंकि उड़ान के लिए आवश्यक प्रशिक्षण जनवरी 2006 में सिर्फ एक पायलट को दिया गया। जबकि अनुबंध की शर्तों के अनुसार फर्म को दो पायलट को प्रशिक्षण देना था। इसके अलावा एक अतिरिक्त पायलट को प्रशिक्षण एवं तीन हफ्तों के लिए दो टेक्नीशियन को मैंटेेनेंस ट्रेनिंग देनी थी।

NewBuzzIndia से फेसबुक पे जुड़ने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें..
**Like us on facebook**
[wpdevart_like_box profile_id=”858179374289334″ connections=”show” width=”300″ height=”150″ header=”small” cover_photo=”show” locale=”en_US”]

सोशल मीडिया पर जुड़ें

38,119FansLike
0FollowersFollow
1,231FollowersFollow
1FollowersFollow
1,256FollowersFollow
799FollowersFollow

ताजा ख़बरें