Thursday, February 27, 2020
Home Tags Madhya pradesh election

Tag: madhya pradesh election

मध्यप्रदेश की झाबुआ सीट पर कांग्रेस की जीत लगभग तय, कांतिलाल भूरिया 17 हजार वोटों से आगे

0
झाबुआ विधानसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी कांतिलाल भूरिया

महाराष्ट्र और हरियाणा में विधानसभा चुनाव के साथ माध्यप्रदेश की झाबुआ विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव में कांग्रेस की जीत लगभग लय हो गई है। कांग्रेस प्रत्याशी कांतिलाल भूरिया इस समय भाजपा के भानू भूरिया से लगभग 17 हजार वोटों से आगे चल रहे हैं। विधानसभा के लिए मतगणना पॉलिटेक्निक कॉलेज में सुबह 8 बजे से शुरू हो गई थी।

बता दें कि विधायक गुमान डामोर के इस्तीफे के बाद 21 अक्टूबर को महाराष्ट्र और हरियाणा विधानसभा चुनाव के साथ ही झाबुआ में भी उपचुनाव के लिए मतदान हुआ था। जहां 62.01 प्रतिशत मतदान हुआ।

झाबुआ विधानसभा सीट से चुनावी मैदान में 5 प्रत्याशी उतरे। कांग्रेस से कांतिलाल भूरिया, भाजपा से भानु भूरिया के अलावा तीन निर्दलीय भाजपा के बागी कल्याणसिंह डामोर, नीलेश डामोर और रामेश्वर सिंगाड़ मैदान में उतरे।

Result of Jhabua legislative assembly in Madhya pradesh
दोपहर 2:30 बजे तक झाबुआ विधान सभा के नतीजे . सोर्स : इलेक्शन कमीशन ऑफ़ इंडिया

लोकसभा चुनाव में कांतिलाल भूरिया को मिली थी हार

साल 2018 विधानसभा चुनाव में झाबुआ सीट पर कांतिलाल भूरिया के बेटे डॉ. विक्रांत भूरिया कांग्रेस से और गुमानसिंह डामोर भाजपा से चुनावी मौदान में उतरे थे। उस समय डामोर चुनाव जीत गए थे। मई 2019 के चुनाव में भाजपा ने डामोर को रतलाम सीट से लोकसभा प्रत्याशी बना दिया। उन्होंने कांतिलाल भूरिया को हराया। जिसके बाद उन्होंने विधायक पद से इस्तीफा दे दिया था।

भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा के खिलाफ भोपाल कोर्ट ने जारी किया वॉरंट।

0
bjp spokeperson sambit patra at bjp headquaters in new delhi
संबित पात्रा की फाइल फोटो

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा के खिलाफ भोपाल कोर्ट ने गुरुवार को अचार संहिता के उल्लंघन के मामले में जमानती वॉरंट जारी किया। मामला मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव से जुड़ा हुआ है। दरअसल विधानसभा चुनाव में प्रचार के दौरान भोपाल पहुंचे संबित पात्रा अचार संहिता के बीच भोपाल के एमपी नगर में सड़क पर प्रेस वार्ता करने लगे।

अचार संहिता के उल्लंघन के इस मामले में पुलिस प्रशासन ने संबित पात्रा को उस समय आरोपी नही बनाया था। जिसके खिलाफ सामाजिक कार्यकर्ता भुवनेश्वर मिश्र कोर्ट चले गए। जिसके बाद भुवनेश्वर की याचिका पर सुनवाई करते हुए गुरुवार को कोर्ट ने पुलिस को फटकार लगाई और संबित पात्रा के खिलाफ जमानती वारंट जारी किया।

कोर्ट द्वारा जारी किया गया जमानती वॉरंट

भोपाल अदालत द्वारा संबित पात्रा के खिलाफ जारी किए गए जमानती वॉरंट की तस्वीर

मध्यप्रदेश कांग्रेस ने भी इस मुद्दे पर ट्वीट करते हुए कहा कि “भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा के लिये वारंट जारी : मप्र में चुनाव आचार संहिता उल्लंघन के मामले में भोपाल न्यायालय द्वारा भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा के विरूद्ध ज़मानती वारंट जारी किया गया है। कहाँ हैं संबित पात्रा जी..? पहले, -अबकी बार दो सौ पार। अब, -अबकी बार पात्रा फ़रार..? ”

https://twitter.com/INCMP/status/1078281391987703808?s=19

मध्यप्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में हारी तो “वन नेशन-वन इलेक्शन” का फ़ॉर्मूला लागू करेगी भाजपा ?

0

देश में वन नेशन-वन इलेक्शन की मांग काफी समय से चलती आ रही है। केंद्रीय सत्ता में आने के बाद से भाजपा भी इस मांग को समय-समय पर हवा देती रही है। वहीं 5 राज्यों में चल रहे विधानसभा चुनावों के बीच भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा ने एक बार फिर इस मांग को हवा दी है। प्रभात झा ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा है कि अब समय आ गया है कि देश में वन नेशन-वन इलेक्शन के फोर्मुले को लागू किया जाए और देश के सभी राजनैतिक दलों को इस पर मंथन करना चाहिए। इससे देश के मानव संसाधन और उर्जा की काफी बचत होगी।


अब समय आ गया है कि देश में वन नेशन-वन इलेक्शन के फोर्मुले को लागू किया जाए और देश के सभी राजनैतिक दलों को इस पर मंथन करना चाहिए। इससे देश के मानव संसाधन और उर्जा की काफी बचत होगी।

Prabhat Jha

इसके साथ ही मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव में ईवीएम को लेकर आ रही शिकायतों पर बोलते हुए प्रभात झा ने कहा कि कांग्रेस के नेता इन दिनों चुनाव आयोग और ईवीएम को लेकर काफी आरोप लगा रहे हैं। यह सारे आरोप गलत है और इससे संवैधानिक संस्था के प्रति अनास्था का माहौल बनता है, जो लोकतंत्र के लिए ठीक नहीं है।

प्रभात झा ने आगे कहा कि जब मुख्य चुनाव आयुक्त जब खुद कह चुके हैं कि ईवीएम पूरी तरह सुरक्षित है तो इस पर भरोसा करना चाहिए। चुनाव आयोग को बदनाम करने का अधिकार किसी को नहीं है, आयोग कोई गरीब की गाय नहीं है। आयोग ने जिस तरह प्रदेश में और नक्सल क्षेत्रों में भी शांतिपूर्ण ढंग से चुनाव कराए, उसके लिए वह बधाई का पात्र है।

सभी प्रभावित सीटों पर हो दुबारा मतदान : मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी

0
CPIM-Communist Party of India Marxist

मतदान के बाद ईवीएम को लेकर मिल रही भारी शिकायतों को लेकर मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के केंद्रीय समिति सदस्य एवं राज्य सचिव जसविंदर सिंह ने सभी प्रभावित विधानसभा सीटों पर दुबारा चुनाव करवाने की मांग की है। सिंह ने कहा कि “सागर में गृहमंत्री के निर्वाचन क्षेत्र की ईवीएम मशीनों का दो दिन बाद जमा होना, कई मशीनों का होटलों में पाया जाना, भोपाल में बड़े अधिकारियों द्वारा ई वी एम के स्ट्रांग रूम की बिजली काटने के निर्देश देकर बिली बंद करवाना, सैकड़ों मशीनों की खराबी जैसी ख़बरें बहुत चिंताजनक हैं। इन ख़बरों से डाले जा चुके वोटों में गड़बड़ी करने और बड़े पैमाने की धांधली कर जनादेश को प्रभावित करने के संकेत है।

इसके साथ ही सभी प्रभावित विधानसभा सीटों पर दुबारा मतदान हो और इन से जुड़े सभी प्रशासनिक अधिकारियों को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया जाए और जाँच के बाद उचित कार्यवाही की जाए।साथ ही जिन राजनीतिक नेताओं के निर्देश पर यह गड़बड़ी हुई है उन्हें तत्काल गिरफ्तार कर पुनर्मतदान होने तक जेल में रखा जाए।

ऑपरेशन क्लीनबोल्ड के चौथे भाग में प्रियंका ने उठाया बलात्कार और कुपोषण का मामला

0
priyanka chaturvedi with shobha soja holding press confress in bhopal

कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी ने शनिवार को प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए ऑपरेशन क्लीनबोल्ड का चौथा भाग जारी किया। ऑपरेशन के चौथे भाग में प्रियंका ने प्रदेश में बच्चों के साथ कुपोषण और महिलाओं के साथ बड़ते बलात्कार के मुद्दों को उठाया। प्रियंका ने सीधे तौर पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर हमला बोलते हुए कहा कि एक ओर मुख्यमंत्री शिवराज अपने आपको बच्चों का मामा बताते है और अपनी छवि पर करोड़ों रुपये खर्च करते है। वहीं दूसरी उर प्रदेश की बहन-बेटिओं के साथ बलात्कार और अपहरण जैसी घटनाएँ बढती जा रही है।

महिला अपराध के साथ ही प्रियंका ने प्रदेश में बढ़ते कुपोषण को लेकर भी मुख्यमंत्री शिवराज पर जमकर हमला बोला। प्रियंका के कहा कि मध्यप्रदेश में बच्चों एवं नवजात शिशुओं की म्रत्यु डर देश में सबसे ज्यादा है। कुछ आंकड़े पेश करते हुए प्रियंका ने कहा कि प्रदेश में हर वर्ष 90 हजार बच्चे अपना पहला जन्मदिन तक नही मना पाते। हर वर्ष 61 हजार बच्चे अपने जीवन का एक महीने के भीतर ही कुपोषण या लचर स्वास्थ व्यवस्था के चलते दम तोड़ देते है। मामा के राज में 32% नाबालिग बेटिओं की शादी करा दी जाती है।

प्रदेश में बड़ी बच्चों की तस्करी

प्रियंका ने कहा की मामा शिवराज जी के राज में बड़े पैमाने पर बच्चों की तस्करी हो रही है। प्रियंका ने बताया की प्रदेश में 2004 से 2017 तक 1,18,789 बच्चे गम हो गये, जिनमें से 70 हजार से जयादा बेटियां है। कानून यह कहता है कि कोई भी बच्चा अगर 3 महीने तक नही मिलता है तो मानव तस्करी का मुकदमा दर्ज होना चाहिए लेकिन मामा के राज में यह मुकदमा दर्ज नही किया जाता। यहाँ तक की बच्चों की तस्करी में भाजपा नेताओं के रिश्तेदारों का तक नाम आ रहे है। एक सोशल एक्टिविस्ट के स्टिंग ऑपरेशन में अलीराजपुर के एक भाजपा नेता पिंटू जैसवाल के समधी शैलेन्द्र जैन का नाम बच्चों की तस्करी में आया हैं।

लहार में फायरिंग, चुनाव आयोग से शिकायत करेगी कांग्रेस

प्रेस वार्ता के दौरान कांग्रेस मीडिया विभाग की प्रदेश अध्यक्ष शोभा ओझा ने लहार विधानसभा में फायरिंग का मामला भी उठाया। ओझा ने कहा कि लहार विधानसभा में भाजपा प्रत्याशी रसालसिंह के परिवार ने कांग्रेस प्रत्याशी गोविन्द सिंह के भतीजे और युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव अनुरुद्ध प्रताप सिंह पर जान से मारने की नियत से हमला किया।

कांग्रेस प्रत्याशी गोविन्द सिंह ने इस मामले में मुख्य निर्वाचन अधिकारी व्ही। एल कान्ताराव को पत्र लिखकर उचित कार्यवाही और सुरक्षा की मांग की।

मामा ने राफेल बनाने वाली कंपनी को दी जमीन, 2 साल 9 महीने बाद भी नही आया निवेश: सुरजेवाला

0
anil ambani with chief minister of madhyapradesh shivraj singh chouhan

फ्रांस के साथ मिलकर राफेल बनाने वाली अनिल अंबानी की कंपनी रिलायंस डिफेंस एण्ड एयरो स्पेस प्रायवेट लिमिटेड को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने फरवरी 2016 में भोपाल एयरपोर्ट के पास 76 एकड़ और धार जिले के पीथमपुर में 195 एकड़ जमीन काफी कम दामों पर दी। 2 साल और 9 महीने बीत जाने के बाद भी अंबानी की कंपनी रिलायंस डिफेंस ने यहाँ कोई निवेश नही किया। ऑपरेशन क्लीनबोल्ड के तीसरे भाग को जारी करते हुए कांग्रेस मीडिया विभाग के राष्ट्रीय अध्यक्ष रणदीप सुरजेवाला ने यह आरोप मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर लगाए।

शुक्रवार शाम प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में पत्रकार वार्ता को समोधित करते हुए सुरजेवाला ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा इन्वेस्टर्स मीट के नाम पर निवेश के फर्जी आंकड़े जारी करने का आरोप लगाया। सुरजेवाला ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने वर्ष 2007 से 2016 तक कुल 12 इन्वेस्टर्स मीट की। जिसमें मामा ने 6,821 निवेश के प्रस्तावों और कुल 17,49,739 करोड़ रूपये के निवेश का दावा करके झूठी प्रसिद्धि हासिल की। सच्चाई तो यह है कि निवेश के प्रस्ताव न तो ज़मीन पर आए और न ही लागू हुए। विशेषज्ञों के मुताबिक इन इन्वेस्टर्स मीट के 17,49,739 करोड़ के निवेश के प्रस्तावों में से 50,000 करोड़ का निवेश भी जमीन पर नहीं आया।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर हमला बोलते हुए सुरजेवाला ने आगे कहा कि सच्चाई यह है कि मामा ने उद्योगों में निवेश नहीं, स्वयं की खोखली छवि में निवेश किया है। अब इस ढोल की पोल खोलने का वक्त आ गया है।

कांग्रेस करेगी जनवरी की इन्वेस्टर्स मीट

जनवरी 2019 में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एक और इन्वेस्टर्स मीट करने जा रहे है, कांग्रेस अगर सरकार में आती है तो क्या यह मीट कराएगी ? के जवाब में सुरजेवाला ने कहा कि शिवराज जी झूठी इन्वेस्टर्स मीट करवाते है। कांग्रेस की सरकार आएगी तो मध्यप्रदेश के युवाओं और किसानों के लिए इन्वेस्टर्स मीट करवाएगी।

निवेश न करने वाली कंपनियों से जमीन वापिस लेगी कांगेस

एक सवाल के जवाब में सुरजेवाला ने कहा कि कांग्रेस सरकार में आएगी तो जमीन लेकर निवेश न करने वाली कंपनियों से जमीन वापिस लेगी और उन कंपनियों को देगी जो प्रदेश में निवेश भी करे और प्रदेश के युवाओं को रोजगार भी दे।

प्रधानमंत्री मोदी की झूठ बोलने की आदत जाती नही: सुरजेवाला

प्रधानमंत्री मोदी द्वारा कर्नाटक और पंजाब में कांग्रेस द्वारा किसानों का कर्जा माफ़ नही करने के दावे पर पलटवार करते हुए सुरजेवाला ने कहा कि “प्रधानमंत्री मोदी को झूठ बोलने की आदत है और शायद उन्हें यह आदत बचपन की है इसलिए जा ही नही रही। कांग्रेस ने कर्नाटक और पंजाब में किसानों का कर्जा माफ़ किया है। पंजाब में तो मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह जिला-जिला जाकर किसानों से मिल रहे है, जहां किसान मुख्यमंत्री को कर्ज माफ़ी की पर्ची दिखा रहे है। मैं प्रधानमंत्री से आग्रह करूंगा की वह मेरे साथ पंजाब चलें और खुद किसानों के कर्जमाफी के सबूत देखें।

बुंदेलखंड पैकेज में भाजपा ने किया भारी भ्रष्टाचार: सुरजेवाला

0

कांग्रेस मीडिया विभाग के राष्ट्रीय अध्यक्ष रणदीप सिंह सुरजेवाला ने गुरूवार शाम प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में प्रेस वार्ता को संबोधित करते शिवराज सरकार पर बुंदेलखंड पैकेज में भरी भ्रष्टाचार करने का आरोप लगाया। सुरजेवाला ने मीडिया से बातचीत में कहा कि यूपीए सरकार ने 2008 में बुंदेलखंड के विकास के लिए उत्तरप्रदेश को 3506 और मध्यप्रदेश को 3760 करोड़ का “स्पेशल बुंदेलखंड पैकेज” दिया था। जिसमे मध्यप्रदेश के बुंदेलखंड कहे जाने वाले 6 जिलों को शामिल किया गया था। बुंदेलखंड के विकास के लिए जारी किये गये इस पैकेज को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ा दिया।

हाईकोर्ट दिया था जांच का आदेश

सुरजेवाला ने बताया कि मध्यप्रदेश हाईकोर्ट में दायर एक जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने इस मामले में एक उच्च स्तरीय जांच कमेटी गठित की थी। जिसने बुंदेलखंड पैकेज की जांच कर 2015 में रिपोर्ट लोक सेवा यांत्रिकी विभाग के प्रमुख सचिव को सौप दी। जांच में पैकेज द्वारा चलाई गयी योजनाओं में भारी भ्रष्टाचार सामने आया। योजना के अनुसार 6 जिलों में 1287 नल-जल परियोजनाएं शुरू की जानी थी। जांच रिपोर्ट में इनमे से 997 परियोजनाएं बंद पाई गयी तो वहीं 18 योजनाएं तो शुरू ही नही हुई। रिपोर्ट में बुंदेलखंड पैकेज द्वारा शुरू की गयी सभी नल-जल परियोजनाओं की जांच ‘इकनोमिक ऑफिस विंग’ से कराने की सिफारिश की गयी। जिसके बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ‘इकनोमिक ऑफिस विंग’ से जांच करवाने की जगह मामले पर लीपापोती कर दी।

सुरजेवाला ने आगे कहा कि कांग्रेस की सरकार बनते ही बुंदेलखंड पैकेज में हुए भ्रष्टाचार की समयबद्ध जांच कांग्रेस जन आयोग द्वारा करवाएगी और दोषिओं को जेल पहुँचाने का काम करेगी।

राम मंदिर पर पूछे गये एक सवाल का जवाब देते हुए सुरजेवाला ने कहा कि भाजपा सिर्फ चुनावों से समय भगवान श्री राम के नाम का इस्तेमाल करती है। वहीं चुनाव बाद भगवान राम को वनवास भेज देती है।

वहीं राजनाथ सिंह द्वारा मध्यप्रदेश में चौथी बार भाजपा सरकार बनने के बयान पर पलटवार करते हुए सुरजेवाला ने कहा कि भाजपा में अब सिर्फ नरेंद्र मोदी और अमित शाह की चलती है। राजनाथ सिंह, सुषमा स्वराज, सुमित्रा महाजन और अरुण जेटली जैसे नेताओं को पता है बहुत जल्द उन्हें भी मार्गदर्शक मंडली में बैठा दिया जाएगा।

मुख्यमंत्री का विधानसभा क्षेत्र होने बावजूद मूलभूत सुविधाओं के लिए संघर्ष कर रहा बुधनी: अरुण यादव

0
Image of Formet President of Madhya Pradesh COngress Arun Yadav

प्रदेश कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और बुधनी में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के खिलाफ कांग्रेस प्रत्याशी अरुण यादव ने गुरूवार को प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में प्रेस वार्ता को संबोधित किया। प्रेस वार्ता में अरुण यादव ने सीधे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर हमला बोलते हुए कहा कि पिछले 15 साल से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह की विधानसभा होने के बावजूद बुधनी में कोई विकास नही हुआ। बुधनी के लोग आज भी अपनी मूलभूत सुविधाओं के लिए संघर्ष कर रहे है। 


यादव ने कहा कि ” मैंने पिछले 10 दिनों में बुधनी के 200 से ज्यादा गाँवों का दौरा किया है। यहां जनता के पास पीने के पानी और सड़क जैसी मूलभूत सुविधाएं तक नही है। गांव के गांव कीचड से सने हुए है। कांग्रेस को बुधनी में भारी जनसमर्थन मिल रहा है और हम भारी मतों से बुधनी में जीत दर्ज करने वाले है। “


मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर कुछ कंपनियो को फायदा पहुँचाने का आरोप लगाते हुए यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री ने बुधनी के किसानों से कम दाम पर जमीन खरीदकर ट्राइडेंट और वर्धमान जैसी कंपनियो को दी है। वहीं मुख्यमंत्री के कुछ पसंदीदा ठेकेदारों ने क्षेत्र में भय का माहौल बना रखा है।

मतदान में गड़बड़ी की आशंका


अरुण यादव ने बुधनी के कुछ मतदान केन्द्रों पर गड़बड़ी की आशंका जताते हुए कहा कि पिछले विधानसभा चुनावों के दौरान कांग्रेस को भारी जनसमर्थन के बावजूद कुछ मतदान केन्द्रों पर 5, 10, 25 और 50 वोट मिले है। जिसके कारण पार्टी को इन केन्द्रों में कुछ गड़बड़ी होने की आशंका है। 
प्रेस वार्ता के बाद अरुण यादव ने चुनाव आयोग से इन मतदान केन्द्रों की विशेष निगरानी करने की मांग की है।

कांग्रेस ने जलाई ‘बदलाव की बाती’

0
congress celebrating

मध्यप्रदेश कांग्रेस ने भोपाल के न्यू मार्केट स्थित हनुमान मंदिर के बाहर बुधवार शाम ‘बदलाव की बाती’ कार्यक्रम का आयोजन किया। आयोजन में मीडिया विभाग की अध्यक्ष शोभा ओझा, जेपी धनोपिया के साथ कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्त्ता एवं न्यू मार्केट के व्यापारी मौजूद रहे।

कार्यक्रम शुरू करते हुए शोभा ओझा समेत सभी कांग्रेस नेताओं ने दिया जलाया और वक़्त है ‘बदलाव का’ के साथ कांग्रेस पार्टी और राहुल गाँधी जिंदाबाद के नारे लगाए। शोभा ओझा ने मीडिया से बातचीत में कहा कि “आज हर वर्ग प्रदेश की सत्ता में बदलाव चाहता है फिर चले वो व्यापारी हो, किसान हो, मजदूर हो या फिर युवा हो। प्रदेश की जनता ने बदलाव का मन बना लिया है।”

भाजपा द्वारा आयोजित कमल दीपावली से जुड़े एक सवाल पर बोलते हुए शोभा ओझा ने कहा कि “कमल दीपावली मनाकर भी प्रदेश की जनता आदरणीय कमलनाथ जी के नेतृत्व में कांग्रेस की सरकार बना रही है।”

बसपा को कमजोर करना चाहती है कांग्रेस : मायावती

0
bsp president mayavati in bhopal

मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव में बहुजन समाज पार्टी के पक्ष में प्रचार करने के लिए मंगलवार को बसपा प्रमुख मायावती ने भोपाल के दशेहरा मैदान में चुनावी सभा को संबोधित किया। इससे पहले मायावती ने बालाघाट के वारासिवनी में चुनावी सभा को संबोधित किया था। जिसके कारण वह भोपाल की सभा में लगभग आधे घंटे देरी से पहुंची। सभा में मायावती ने नोटबंदी और राफेल के मुद्दे पर भाजपा पर हमला किया तो वहीं गठबंधन न करने पर कांग्रेस को आड़े हांथों लिया।

मोदी सरकार और बीजेपी पर हमला करते हुए मायावती ने कहा कि भाजपा ने देश और प्रदेश में विकास के नाम पर लोगों के साथ छल और धोखा किया हैं। भाजपा की नीतिओं से प्रदेश का किसान वर्ग और मजदूर वर्ग दोनों परेशान है। पेट्रोल व डीजल के दाम में बढ़ोतरी ने भी सबको परेशान किया हुआ हैं। वहीं भाजपा की गलत आर्थिक नीति के चलते देश और प्रदेश में गरीबी और बेरोजगारी बढ़ी हैं। मायावती ने आगे कहा कि “सिर्फ बसपा ने ही सभी जाती और सभी वर्गों के लोगों के विकास का कार्य किया है। उत्तरप्रदेश में हमने ऐसा कार्य करके दिखाया है और आगे भी करना है, इसके लिए हमे बसपा को देश और प्रदेश में मजबूत करना होगा।”

प्रदेश में महागठबंधन न बन पाने के मुद्दे पर मायावती ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि कांग्रेस ने पहले तो गठबंधन करने की बातें की लेकिन बाद में गठबंधन नही किया। कांग्रेस बसपा को कमजोर या ख़त्म करना चाहती है, इसी कारण वह बसपा को चुनाव में कम सीटें दे रही थी, इसलिये हमने मध्यप्रदेश में अकेले ही चुनाव लड़ने का फैसला किया है।

Skip to toolbar