fbpx
Thursday, April 15, 2021
Home Tags Corona virus

Tag: corona virus

शिवराज के मंत्री का असंवेदनशील बयान: “मरने वाले तो मरते रहते हैं उनका क्या करें सरकार” देखें वीडियो

0

मध्यप्रदेश सरकार के पशुपालन मंत्री प्रेम सिंह पटेल का कोरोनावायरस पर लगातार हो रही मौतों पर असंवेदनशील बयान आया है। मंत्री जी का कहना है कि मरने वाले तो मरते रहते हैं उनका सरकार क्या करें कई की उम्र हो जाती है तो कई यूं ही मर जाते हैं अब उस पर हम क्या ही कर सकते हैं।

शिवराज के मंत्री का बेतुका बयान

मध्यप्रदेश में कोरोना का तांडव, आज हुई है इतनी मौतें

0

मध्य प्रदेश(Madhya Pradesh) कोरोना(corona) से मौत(death) का रिकाॅर्ड अपने चरम पर है। 13 अप्रैल को 51 मौतें सरकारी रिकार्ड में दर्ज की गई। यह एक दिन में सबसे ज्यादा है। पिछले 24 घंटे में रिकाॅर्ड 9720 नए पॉजिटिव केस मिले है। पॉजिटिविटी रेट(Positivity Rate) बढ़ कर 21.7% हो गया है।

मध्य प्रदेश में कोरोना की वजह से स्थिति बहुत खराब है। सरकारी आंकड़ों के विपरीत धरातल पर स्थिति है। मंगलवार को भोपाल में 1497 मरीज मिले हैं। श्मशान में शवों की लाइन लगी है। अंतिम संस्कार के लिए भी घंटों इंतजार करना पड़ा रहा है। ऑक्सीजन की कमी से मरीजों की जान जा रही है। वहीं सरकारी आंकड़ों में भोपाल में पिछले 24 घंटे में सिर्फ 4 लोगों की कोरोना की वजह से जान गई।

मंगलवार को भदभदा, सुभाषनगर विश्राम घाट और झदा कब्रिस्तान पर 84 शवों का कोविड प्रोटोकॉल से अंतिम संस्कार हुआ। भदभदा पर हालात ऐसे हैं कि जगह कम पड़ गई तो 30 नए चिता स्थल बनाना शुरू कर दिए है।

प्रदेश में एक्टिव केस बढ़ते जा रहे हैं और अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी और दवाओं की मारामारी चल रही है, उससे मौतों का आंकड़ा भी बढ़ता जा रहा है।

मध्यप्रदेश कांग्रेस के पूर्व मंत्री बीजेपी सरकार के खिलाफ कर रहे है आंदोलन

0

मध्य प्रदेश में कोरोना बेकाबू हो गया है। वहीं भोपाल में भी हालत गंभीर है। भोपाल में सोमवार को ऑक्सीजन की कमी से पांच कोरोना मरीजों की मौत हो गई थी। लेकिन सरकार बार बार दावा कर रही है कि राज्य में ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है।

ऐसे में मध्यप्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आज मिंटो हॉल में गांधी जी की प्रतिमा के नीचे खाली ऑक्सीजन सिलिंडर लेकर अपना विरोध जता रहे है। विधायक पी सी शर्मा, पूर्व मंत्री जीतू पटवारी, विधायक कुणाल चौधरी तीनों ही सरकार के खिलाफ मोर्चा लेकर बैठे है।

पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने ट्वीट किया कि , मध्य प्रदेश में ऑक्सीजन की डिमांड और सप्लाई में बड़ा अंतर है। भयावह स्थिति है। ऑक्सीजन की कमी से जानें जा रही है। .@narendramodi साँसों से आत्मनिर्भर करो मध्य प्रदेश को !

उन्होंने यह भी लिखा कि ,मध्यप्रदेश में ऑक्सीजन की कमी को लेकर आज भोपाल में मिंटो हॉल स्थित गांधी प्रतिमा स्थल पर गांधीवादी तरीके से प्रदर्शन कर प्रधानमंत्री @narendramodi जी से मध्यप्रदेश में ऑक्सीजन भेजने का अनुरोध कर रहा हूं।

मध्य प्रदेश सरकार दावा कर रही है कि राज्य में ऑक्सीजन की मात्रा पर्याप्त है। लेकिन भोपाल के 20 से ज्यादा अस्पतालों में ऑक्सीजन को लेकर अफरा-तफरी मची हुई है।

उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री कोरोना संक्रमित पाएं गए, खुद ट्वीट कर दी जानकरी

0

उत्तरप्रदेश में कोरोना से लगातार नेता संक्रमित हो रहे हैं। पूर्व सीएम अखिलेश यादव के बाद अब प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी कोरोना संक्रमित पाएं गए हैं। उन्होंने खुद ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है।

योगी ने ट्वीट किया कि मेरी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। मैं सेल्फ आइसोलेशन में हूं और चिकित्सकों के परामर्श का पालन कर रहा हूं। सभी कार्य वर्चुअली संपादित कर रहा हूं।

बता दे कि इससे पहले सीएम कार्यालय के कई अधिकारी संक्रमित मिले थे, जिसके बाद से याेगी आइसोलेशन में थे। कुछ दिन पूर्व सीएम के एक ड्राइवर कोरोना संक्रमित मिला था। जिसके बाद दूसरे ड्राइवर को बदलकर भेजा गया था।

इससे पहले मुख्यमंत्री के अपर मुख्य सचिव एसपी गोयल ओएसडी अभिषेक कौशिक, विशेष सचिव अमित सिंह सहित कुछ अन्य कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं।

उत्तराखंड से मुख्यमंत्री ने दिया अजीबो-गरीब बयान, कहा कुंभ की तुलना मरकज से करना गलत

0

अपने विवादित बयानों के लिए हमेशा मीडिया की सुर्खियों में रहने वाले उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने एक बार पुनः अजीबोगरीब बयान दिया है। उन्होंने कहा कि कुंभ में मां गंगा के आशीर्वाद से कोरोना वायरस नहीं फैलेगा और इसकी मरकज से तुलना करना सरासर गलत बात है।

रावत ने कहा कि पिछले साल निजामुद्दीन मरकज से जो कोरोना वायरस फैला था वह हरिद्वार और उत्तराखंड में नहीं फैल सकता क्योंकि यहां पर खुला वातावरण है।

हरिद्वार में उमड़ी लाखों लोगों की भीड़ पर रावत ने कहा कि हमने 16 घाट बनाए हैं जिसमें श्रद्धालु डुबकी लगा सकते हैं इसकी तुलना मरकज से करना गलत है । आपको बता दें कि कुंभ में तीसरा शाही स्नान चल रहा है और कोरोना वायरस के गाइडलाइन का बिल्कुल भी पालन नहीं हो रहा है जिससे कई लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं।

कुंभ मेला पुलिस नियंत्रण कक्ष के मुताबिक, दूसरे शाही स्‍नान में 31 लाख से ज्‍यादा भक्तों ने हिस्सा लिया था। और स्‍वास्‍थ्‍य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार, इस दौरान रविवार रात 11:30 बजे से सोमवार शाम पांच बजे तक महज 18,169 श्रद्धालुओं की कोरोना टेस्‍ट किया गया, जिसमें से 102 पॉजिटिव पाए गए हैं।

अखिलेश यादव भी कोरोना से संक्रमित पाए गए है। अखिलेश के केस में चिंता की सबसे बड़ी बात यह है कि वे हाल ही में हरिद्वार कुंभ मेले में हिस्सा लेकर लौटे थे। यानी कोरोना संक्रमण कहीं न कहीं कुंभ मेले में भी फैल रहा है।

कोरोना संकट: 10वीं,12वीं की बोर्ड परीक्षा टालने के आदेश जारी,अब इस महीने…

0

मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने कक्षा 10 तथा 12 की परीक्षाएं आगे के लिए टाल दी गई हैं। बता दें कि एमपी बोर्ड 10वीं, 12वीं की परीक्षाएं 30 अप्रैल से शुरू होनी थी। एमपी स्कूल एजुकेशन विभाग ने आदेश दिया है कि अब यह परीक्षा 1 जून 2021 से प्रारंभ की जाएगी।

परमार ने कहा कि मध्य प्रदेश में बढ़ते हुए कोरोना के कारण परीक्षाओं को टालने का फैसला लिया गया है। आपको बता दें कि राज्य क्लास पहली से आठवीं तक के स्कूल पहले ही बंद हैं।

मंत्री ने यह भी बताया कि 15 जून तक पहली से आठवीं तक के स्कूल बंद रहेंगे। बतादें बढ़ते कोरोना संक्रमण के चलते इस बार पहली से लेकर आठवी कक्षा के छात्रों को प्रिजकेट वर्क के आधार पर जनरल प्रमोशन दिया जाएगा। इसको लेकर स्कूल शिक्षा विभाग पहले ही आदेश जारी कर चुका है।

बता दें कि पहले के परीक्षा कार्यक्रम में हाईस्कूल की परीक्षा 30 अप्रैल 2021 से 19 मई 2021 तक और हायर सेकंडरी की परीक्षाएं 01 मई 2021 से 21 मई 2021 तक आयोजित होनी थी।

जबलपुर में जीआरपी पुलिस की देखी गई लापरवाही

0

मध्य प्रदेश में कोरोना का कहर बढ़ता ही जा रहा है। हालांकि, एक ऐसा मामला सामने आया है जिससे साफ है कि राज्य में कोरोना नियमों की किस तरह धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। ऐसे में देखा गया कि जबलपुर में जीआरपी पुलिस एक कोरोना पॉजिटिव आरोपी को दूसरे नेगेटिव आरोपी के साथ सड़क पर पैदल चलवाकर जेल तक ले जा रही है।

बताया गया है कि इन दोनों पर चोरी का आरोप था।जीआरपी के एक अधिकारी ने इस मामले को लेकर बताया कि , ‘कोर्ट में पेशी के बाद दोनों का कोरोना टेस्ट करवाया गया था। इनमें से एक की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। हमारी गाड़ी रास्ते में ही खराब हो गई थी इसलिए हम उन्हें पैदल जेल तक ले गए।’

मध्य प्रदेश में 13 अप्रैल को 8,998 लोगो की संक्रमण की पुष्टि हुई। वहीं 40 लोगों ने कोरोना से लड़ते हुए दम तोड़ दिया। प्रदेश में सबसे ज्यादा इंदौर में 1552, भोपाल में 1456, ग्वालियर में 576 और जबलपुर में 552 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले।

 

मंत्री विश्वास सारंग का बयान,कोरोना को लेकर झूठी खबर वायरल करने पर होगी सजा

0

मध्य प्रदेश में तेजी से कोरोना के मरीज सामने आ रहे है । प्रदेश में बढ़ते संक्रमण को लेकर राज्य के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास कैलाश सारंग ने कहा कि, कोरोना तेजी से फैल रहा है और मध्य प्रदेश ही नहीं बल्कि पूरे देश में कोरोना से भयावह स्थिति है। उन्होंने कहा कि इसका उपाय यही है कि हम सब कोरोना की आचार संहिता का पालन करते हुए मास्क का उपयोग करें, बिना किसी वजह के भीड़ इकट्ठा ना करें।

कोरोना एक बड़ा संकट है जिस तरह से संक्रमण बढ़ रहा है वह चिंताजनक है। इसीलिए प्रदेश के कुछ शहरों में कोरोना कर्फ्यू लगाया गया है। उन्होंने यह भी कहा कि कोरोना की इस चेन को हमें तोडना है, क्योंकि संक्रमण जब तक रुकेगा नहीं तब तक यह समस्या हल नहीं होगी।

विश्वास कैलाश सारंग

इन दिनों कोरोना संक्रमण और लॉकडाउन को लेकर फेक न्यूज सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल की जा रही है। इसको लेकर मंत्री सारंग ने कहा कि, कुछ लोग केवल अपनी नफरत को प्रदर्शित करते हुए झूठी खबर सोशल मीडिया पर डाल देते हैं। सोशल मीडिया हमारी अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का एक ताकतवर हथियार जरूर है, परंतु समाज के प्रति हमारा भी कहीं ना कहीं अधिकार और कर्तव्य है। इस कर्तव्य का पालन करते हुए हमें इस महामारी के समय संयम और अनुशासन का ध्यान रखना चाहिए।

उन्होंने कहा कि मैं देखता हूं कुछ लोग बिना तथ्यों के कोरोना महामारी से संबंधित जानकारी वायरल कर देते है, जिससे समाज में तनाव की स्थिति उत्पन्न हो जाती है। मैं निवेदन करना चाहता हूं कि हम स्वयं का अनुशासन बनाते हुए जब तक किसी भी खबर की पुष्टि ना हो उसको सोशल मीडिया पर ना डालें। उन्होंने यह भी कहा कि, कानून में जो भी नियम है उसके तहत यदि कोई भ्रामक खबर सेंसेशन बनाने के लिए सोशल मीडिया पर डालता है तब आईटी एक्ट के तहत उस पर कार्रवाई की जाएगी।

भोपाल के कोलार में हुआ लॉकडाउन का उल्लंघन

0

भोपाल में कोरोना के आकड़ो में कोई रोक नही लग रही है। ऐसे में ही आज भोपाल में कोरोना कर्फ्यू लगाने का फैसला लिया गया है। कुछ दिन पहले ही जिला प्रशासन ने कोलार और शाहपुरा में 19 अप्रैल तक लॉकडाउन लगाया है। लेकिन इसके बाद भी सोमवार सुबह शहर के अन्य स्थानों के लिए लॉकडाउन खुलते ही कोलार क्षेत्र में लोग घरों से बाहर निकल पड़े और सड़क पर वाहनों की लंबी-लंबी कतारें लग गईं।

ऐसे में कोलार से सरकारी कर्मचारियों व अफसरों के वाहन जाम में फंसकर रह गए। इधर, मौके पर तैनात पुलिस के जवानों ने आला अधिकारियों से बात करने के बाद नाकेबंदी हटाकर दोनों तरफ के वाहनों को निकलवाया और बाद में दोबारा से नाकेबंदी कर दी।

दरअसल सोमवार को सुबह बाकी हिस्सों से लॉकडाउन हटा तब कोलार के भी लोग अपने वाहनों से सड़क पर आ गए। बताया गया है कि इसमे अधिकांश सरकारी कार्यालयों के कर्मचारी, स्वास्थ्य कर्मचारी और अन्य लोग भी थे जिन्‍हें अपने काम के सिलसिले में शहर के दूसरे हिस्‍सों में पहुंचना था।

सुबह 10 बजे के बाद ऐसे लोगों के वाहनों के कारण कोलार के मुख्य मार्ग पर सर्वधर्म पुलिया से लेकर बीमा कुंज तक दो किमी का लंबा जाम लग गया था। दोनों तरफ के रास्तों पर वाहनों की लंबी कतारें लग गई थी। पुलिसकर्मियों ने काफी मशक्‍कत के बाद इस जाम को खुलवाया।

मौके पर तैनात कोलार पुलिस के जवानों ने जिनके पास पहचान पत्र थे, उनको जाने दिया। बाकी को वापस भेज दिया गया। इस दौरान कुछ वाहन चालक पुलिस से बहस करते भी नजर आए।

मध्यप्रदेश के स्वास्थ्य आयुक्त का हुआ तबादला, कोरोना को रोकने में रहे नाकाम

0

मध्य प्रदेश में तेजी से बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के बीच प्रदेश के स्वास्थ्य आयुक्त डॉ संजय गोयल पर गाज गिरी है। उन्हें पद से हटाकर मंत्रालय में सचिव बनाया गया है। कोरोना को रोकने में नाकाम रहे संजय गोयल की जगह अब आकाश त्रिपाठी को प्रदेश का नया स्वास्थ्य आयुक्त बनाया गया है।

वहीं भोपाल के अलावा प्रदेश के 19 जिलों में सात से नौ दिन के लिए कोरोना कर्फ्यू लगाया गया है। उनमें इंदौर,शाजापुर, उज्जैन, बड़वानी, राजगढ़, विदिशा, रतलाम, बैतूल, खरगोन, कटनी, छिंदवाड़ा, जबलपुर, बालाघाट,नरसिंहपुर, सिवनी, मंडला, देवास एवं पन्ना शामिल हैं।

बता दें कि राज्य में कोरोना से हालात बेकाबू हो रहे हैं।रोज नए मामले सामने आ रहे हैं. पिछले 24 घंटे की बात करें तो प्रदेश में 6 हजार 489 संक्रमित मिले हैं. वहीं 37 लोगों की कोरोना से मौत हो गई है।