Friday, September 24, 2021
Home Tags Bhopal

Tag: Bhopal

राजधानी भोपाल में रहेगा 56 घंटो का कोरोना कर्फ्यू , 25% दुकानें खोलकर किया जाएगा अनलॉक

0

मध्य प्रदेश अब अनलॉक की तरफ बढ़ रहा है। आज जिला क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक में राजधानी भोपाल को अनलॉक करने पर कई फैसले लिए गए है। सरकार ने अपनी ओर से गाइडलाइन बनाई है जिसके अनुसार राजधानी को अनलॉक किया जाएगा।

बता दे कि भोपाल में पिछले 10 दिनों में कोरोना की संक्रमण दर 10 फीसद से गिरकर तीन फीसद पर आ गई है। ऐसे में भोपाल के बाजारों की 25 फीसद दुकानें खोलकर अनलॉक किया जाएगा। वहीं निजी दफ्तर 50 फीसद क्षमता के साथ खुल सकेंगे।

इस बीच सप्‍ताह में शुक्रवार रात 10 बजे से सोमवार सुबह 6 बजे तक का कोरोना कर्फ्यू जारी रहेगा। यह निर्णय रविवार को वल्‍लभ भवन में हुई जिला आपदा प्रबंधन समिति की बैठक में लिया गया है। इसके आदेश जल्‍द भोपाल कलेक्टर अविनाश लवानिया जारी करेंगे।

वहीं बाजार में इलेक्‍ट्रीकल्‍स, बिल्डिंग मटेरियल और हार्डवेयर की दुकानें भी सप्‍ताह में दो दिन खोले जाने का निर्णय लिया गया है। हालांकि अभी ये दो दिन कौन से होंगे यह कलेक्‍टर निर्णय लेकर आदेश जारी करेंगे। इसके अलावा राज्‍य सरकार की तमाम गाइडलाइन का पालन किया जाएगा।

राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के लापता होने का पोस्टर हुआ वायरल

0

मध्य प्रदेश में कोरोना और ब्लैक फंगस के कहर के बीच बीजेपी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के विदेश जाने की खबर सामने आ रही है। बताया जा रहा है कि सिंधिया चार दिन ही पहले प्राइवेट जेट से दुबई के लिए रवाना हो गए है। जिसके बाद ग्वालियर में एक पोस्टर तेजी से वायरल हो रहा है जिसमें जगजीत सिंह द्वारा गाई मशहूर गजल “चिट्ठी न कोई संदेश, जाने वह कौन सा देश, जहां तुम चले गए” लिखा हुआ है।

बता दे कि इस पोस्टर को ग्वालियर से कांग्रेस विधायक प्रवीण पाठक ने भी साझा किया है। पाठक ने शायराना अंदाज में तंज कसते हुए ट्वीट किया, ‘मत ढूंढो इन्हें संकट के समय मध्य प्रदेश में, सिंधिया जी अपने निजी कार्यों से हैं विदेश में। अपने शहर में जब सब कुछ सामान्य हो जाएगा, इनका कारवाँ तभी यहाँ आएगा। आप तो बैठिए दुबई, जनता है भरोसे राम के, अभी चुनाव थोड़ी है अभी आम लोग आपके क्या काम के।’

प्रदेश की समस्त जनता को निवेदक बताने वाले इस पोस्टर में लिखा गया है कि, ‘महाराज कहां हो आप? भारतीय जनता पार्टी की सरकार मौत के आंकड़ें छिपा रही है। आपके उसूलों पर आंच कब आएगी, आप सड़क पर कब उतरेंगे?’ इसी के साथ 80 के दशक का मशहूर गजब चिट्ठी न कोई संदेश, जाने वो कौन सा देश जहां तुम चले गए लिखा हुआ है।

वहीं कांग्रेस ने अपने आधिकारिक ट्वीटर हैंडल से ट्वीट किया, ‘जनता चौखट से बाहर निकले तो डंडा, —और ये महाराज बहादुर दुबई की सैर पर..? शिवराज जी, आपके नेताओं को जनता से कोई सरोकार क्यों नहीं बचा..?भारत में उतरने को सड़कें थीं कम, इसलिये दुबई में जनसेवा करेंगे हम।’

दरअसल सिंधिया के विदेश जाने की बात सामने आने के बाद लोगों के मन में एक यह सवाल भी है कि जब अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर प्रतिबंध लगे हुए हैं तो सिंधिया दुबई कैसे गए? दरअसल, एयर बबल के तहत अंतरराष्ट्रीय उड़ानें चल रही हैं। इस व्यवस्था के तहत चयनित देशों के बीच द्विपक्षीय विमानों का संचालन हो रहा है।

मध्य प्रदेश के 7 जिले रहेंगे लॉकडाउन, 45 जिलों में मिलेगी राहत

0

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज शाम प्रदेश की जनता को संबोधित करते हुए कहा कि इंदौर के साथ भोपाल में 1 जून से कर्फ्यू नहीं खुलेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पूरी शक्ति के साथ इस बात की कोशिश कर रहे हैं कि 1 जून से मध्यप्रदेश में जनजीवन सामान्य बनाने की प्रक्रिया शुरू कर दी जाए, परंतु आंकड़े बताते हैं कि मध्य प्रदेश के 7 जिले लॉकडाउन रहेंगे। शेष 45 जिलों में कर्फ्यू में ढील दी जाएगी।

बता दे कि इंदौर के अलावा भोपाल, सागर, रतलाम, रीवा, अनूपपुर तथा सीधी में लॉकडाउन जारी रहेगा। सीएम का कहना है कि इन जिलों की साप्ताहिक पॉजिटिविटी रेट 5 फीसदी से अधिक है। डब्ल्यूएचओ की गाइड लाइन के अनुसार साप्ताहिक औसत संक्रमण की दर 5 फीसदी से कम होने की स्थिति में ही कर्फ्यू में ढील दी जा सकती है।

यह भी कहा सीएम ने

  • 1 जून से कर्फ्यू में ढील देंगे, लेकिन अचानक न घर से निकलना है और न ही बड़े आयोजन करना है। इससे स्थिति बिगड़ सकती है।
  • वैज्ञानिक तरीके से लॉकडाउन खोला जाएगा। तीसरी लहर की भी बात आ रही है। अगर असावधान रहे तो संक्रमण बढ़ेगा। तीसरी लहर को नहीं आने देना है।
  • शादी-विवाह, धार्मिक आयोजन, राजनीतिक रैली जैसे बड़े आयोजन नहीं आयोजित होंगे।
  • समाज इसे अपना आंदोलन बनाए। धर्मगुरु अपने अनुयायियों को और राजनीतिक संगठन अपने कार्यकर्ताओं को अनुशासित रहने का संदेश दें।

मध्यप्रदेश की राजधानी में एक मरीज में मिले ब्लैक और व्हाइट फंगस दोनो के लक्षण

0

मध्य प्रदेश कोरोना की महामारी से अभी निपटे ही नहीं कि ब्लैक फंगस से प्रदेश में हड़कंप मचा हुआ है। लेकिन अब व्हाइट फंगस ने भी प्रदेश में अपनी दस्तक दे दी है। राजधानी भोपाल में दूसरा मरीज मिला है। बताया जा रहा है कि इस मरीज को ब्लैक और व्हाइट दोनों फंगस मिले है।

जानकरी मिली है कि भोपाल के हमीदिया अस्पताल में इस व्हाइट फंगस का मरीज भर्ती है। और इस मरीज में व्हाइट के साथ ब्लैक फंगस के भी इंफेक्शन है। राज्य में यह पहला मामला है जहां दोनों इंफेक्शन किसी मरीज में देखे गए है।

बता दें कि प्रदेश में ब्लैक फंगस के मामले तेजी से बढ़ रहे है। 600 से ज्यादा ब्लैक फंगस के मरीज सामने आ चुके है। वहीं 30 से ज्यादा की मौत हो चुकी है।

भोपाल को बाटा जाएगा तीन ज़ोन में, और ऐसे खुलेगा बाजार

0

भोपाल में कोरोना का कहर जारी है। आज क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक के बाद भोपाल कैसे खुलेगा उसका निर्णय लिया गया है। इसके लिए शहर को तीन जोन में बांटा जाएगा। सबसे गंभीर क्षेत्र को रेड जोन में उसके बाद ऑरेंज और ग्रीन कलर में रखा जाएगा। इसके अनुसार ही माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाए जाएंगे।

मंत्री सारंग ने कहा कि कोरोना कर्फ्यू कैसे खुलेगा, क्या रहेगी तैयारी, इसे लेकर बैठक में अधिकारियों से चर्चा की गई। जून में भोपाल को कोरोना कर्फ्यू मुक्त करना है। कोरोना केस को देखते हुए सबसे ज्यादा केस वाले इलाकों को रेड जोन में रखा जाएगा।

सारंग ने कमलनाथ पर निशाना साधते हुए कहा कि जब कोरोना पीक पर था जब मध्यप्रदेश को जरूरत थी तब कमलनाथ कहां थे? उन्होंने सरकार पर आंकड़े छिपाने पर कहा कि सरकार सही आंकड़े ही लोगों के सामने रख रही है। आंकड़े शत-प्रतिशत सही बता रहे है।

हनीट्रेप की ओरिजनल पेन ड्राइव मेरे पास अभी भी है : पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ

0

सोनिया भारद्वाज की आत्महत्या मामले में घिरते विधायक उमंग सिंघार को बचाने अब प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ सामने आ गये हैं। उन्होंने गुरूवार केा विधायक दल की वर्चुअल बैठक में कहा कि उमंग के खिलाफ बिना ठोक साक्ष्य के राजनीतिक विद्वेष से एफआईआर दर्ज की गई है। नाथ ने विधायकों से कहा कि कोई यह न भूले कि हनीट्रेप मामले की ओरिजनल पेन ड्राइव अभी भी मेरे पास है और उसके साथ कई पत्रकारों के पास भी।

कमलनाथ ने कहा कि सोनिया की मां और बेटा दोनों ने ही उमंग के खिलाफ बयान नहीं दिया है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान से भी उनकी बात हुयी है। कमलनाथ उमंग के मामले में शुक्रवार केा सीएम से मुलाकात भी करेंगे यह भी बैठक में बताया।

सोनिया आत्महत्या कांड में परिवार भले ही बयान नहीं दे रहा हो लेकिन उमंग के खिलाफ साक्ष्य पुलिस को मिलते जा रहे हैं। उमंग के खिलाफ कार्यवाही न हो इसे लेकर अब कांग्रेस ने दबाव बनाना प्रारंभ कर दिया है। कमलनाथ के बयान को भी उसी कड़ी से जोड़कर देखा जा रहा है।

भोपाल डीआईजी हुए सख्त, समझाइश देते हुए कहा तुम्हारी घटिया हरकतों से बड़े बुज़ुर्ग मर गए शर्म आना चाहिए

0

भोपाल की सड़कों पर डीआईजी का सख्त अंदाज देखने को मिला। उन्होंने लोगों को पहले भी समझाइश दी थी लेकिन जब लोग नहीं माने तब दोबारा सड़कों पर उतरकर अनाउंसमेंट करते हुए डीआईजी इरशाद वली ने स्थानीय लोगों को जमकर लताड़ लगाई।

बता दे कि इरशाद वली काजीकेम्प की सड़कों पर अपने महकमे के साथ उतर गए। इरशाद वली गलियों में अनाउंसमेंट करते हुए निकले। उन्होंने किसी पर कार्रवाई नहीं की लेकिन उनको सख्त भाषा में समझा दिया। उन्होंने अपने अधीनस्थ अधिकारियों को निर्देश दिए कि यदि इसके बावजूद भी लोग नहीं मानते तो उनके खिलाफ सख्त एक्शन लिया।

दरअसल उन्होंने संकरी गलियों से गुजरते हुए अनाउंसमेंट करते हुए कहा कि “तुम्हारी घटिया हरकतों से बड़े बुज़ुर्ग मर गए है। शर्म आना चाहिए। शर्म हया सब बेच खाई है। बार बार समझा रहा हूं। तुम्हारी हरकतों से घर वाले, बड़े बुज़ुर्ग मरेंगे। बेवकूफों पर कुछ असर नहीं होता है।

काजी कैंप पर कुछ दिनों पहले पुलिस और जिला प्रशासन की टीम ने कई दुकानों को सील करने का काम किया था। यहां की तमाम गलियों को सील कर दिया गया था। बैरिकेड लगाकर चेकिंग व्यवस्था बढ़ा दी गई थी। कई लोगों के खिलाफ केस भी दर्ज किए गए थे। इसके बावजूद यहां के लोग कोरोना कर्फ़्यू के नियम को लगातार तोड़ रहे हैं। यही कारण रहा कि अब खुद डीआईजी इरशाद वली ने इस इलाके की कमान संभाली और लोगों को अब अपने ही अंदाज में समझाएं दे रहे हैं।

मध्यप्रदेश को चरण बद्ध तरीके से खोला जाएगा : गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा

0

भोपाल: प्रदेश में कोरोना महामारी को लेकर अब अच्छी खबर आ रही है। मरीजों के पाजिटिविटी दर में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है और साथ ही रिकवरी रेट में इजाफा भी हो रहा है। गुरुवार को मीडिया से बातचीत के दौरान गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि कोरोना में एमपी लगातार सुधार की ओर चल रहा है। सीएम शिवराज के आइडिया को पीएम मोदी ने भी सराहा है। इस मॉडल को देश मे लागू करने की बात हो रही है। इतना ही नही साउथ मे भी मॉडल को लागू किया जा सकता है।

प्रदेश में लगे कोरोना कर्फ्यू पर बात करते हुए गृहमंत्री ने बोला कि कोरोना कर्फ्यू बहुत जल्द चरण बद्ध तरीके से खोला जाएगा। आगे उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के बयान पर पलटवार करते हुए बोले कि कमलनाथ को सिर्फ कमियां ही ढूढना है, कल भी बडी संख्या मे युवा नही आए और वैक्सीन खराब हुई है।

गृहमंत्री ने कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हुए तुलसी सिलावट पर लगे आरोप पर सफाई देते हुए बोले कि तुलसी सिलावट का ड्रायवर नही है वो एजेंसी का है, दूसरी बात तुलसी सिलावट को लेकर कांग्रेस के घाव अभी तक नही भरे हैं,कांग्रेस डर्टी पॉलिटिक्स खेलती है।

जब नरोत्तम मिश्रा से हालही में घटित उमंग सिघार मामला पर बात की गई तो उन्होंने बोला कि इस बारे में उनसे ज्यादा कांग्रेस बता सकती है। गृह विभाग के संपर्क में कांग्रेस के नेता हैं।

डीएपी खाद सब्सिडी मामला पर मिश्रा ने कहा कि डीएपी खाद में दी गई सब्सिडी का मामला अभिनंदनीय है। कांग्रेस सिर्फ कहती रही है और केन्द्र की मोदी सरकार ने किसानों को दिया है। उन्होंने यह भी कहा कि 14,775 करोड़ रुपये केन्द्र सरकार खाद सब्सिडी दे रही है।

भोपाल के अस्पातल में फिर देखी गई लापरवाही, मरीजों से कहा ICU छोड़ दे

0

कोरोना महामारी का कहर अभी थमा नही है। अभी भी कोरोना संक्रमित मरीजों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। भोपाल स्थित रेड क्रॉस हॉस्पिटल ने ICU में भर्ती मरीजों के परिजनों को अस्पताल छोड़ने का अल्टीमेटम दे दिया गया है। यह मामला बुधवार का है जहां मरीज के परिजन को बिना स्वस्थ्य हुए ही उन्हें डिस्चार्ज करने का स्लिप दे दिया गया।

कथित तौर पर बताया जा रहा है कि अस्पताल में डॉक्टरों की टीम नहीं है इसलिए वे ICU वार्ड को खाली कर दें। बात दे की इस पूरे मामले का एक वीडियो सामने आया है जिसमे ICU में भर्ती एक महिला के पति पूरी स्थिति के बारे में बता रहे हैं।

वीडियो में कुल तीन मरीजो के बारे में बताया जा रहा है। जिसमे एक पुरूष पूरी तरह से वेंटिलेटर पर है, एक महिला जो कि 70 फीसदी वेंटिलेटर पर निर्भर हैं और वहीं एक और पुरूष हैं जो की वेंटिलेटर पर नही हैं। इस वीडियो में महिला के पति बात रहे हैं की कैसे उनकी पत्नी का डिस्चार्ज स्लिप उनको घंटों पहले दे दिया गया।

गौरतलब है कि सरकार के तरफ से कहा जा रहा है अब जिले में स्थिति सामान्य हो रही है और संक्रमित मरीजों का पूरा ध्यान रखा जा रहा है। लेकिन अस्पताल मैनजमेंट की तरफ से हो रही लापरवाही के कारण कोरोना संक्रमित मरीज और उनके परिजनों को मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का बड़ा फैसला, 1 जून से धीरे धीरे खोले जाएंगे जिले

0

मध्य प्रदेश में कोरोना के कम होते मामलों के बाद अब 1 जून से जिलों को अनलॉक करने की प्रक्रिया शुरु कर दी जाएगी। दरअसल मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इसका एलान किया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में अब कोरोना पूरी तरह काबू में आ गया है और अब जून से प्रदेश को अनलॉक करने की प्रक्रिया शुरु की जाएगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इससे पहले 31 मई तक कोरोना कर्फ्यू का सख्ती से पालन किया जाएगा और इसमें किसी भी प्रकार से छूट नहीं दी जाएगी। फिर 31 मई तक सख्ती से कोरोना कर्फ्यू  का पालन कर गांव से लेकर शहरों को कोरोना मुक्त बनाना है। 

उन्होंने कहा कि कोरोना कर्फ्यू  के चलते कोरोना अब काबू में है। अब हमें टारगेट कर 31 मई तक गांव और वार्ड को कोरोना मुक्त करने की मुहिम शुरु करना होगा।  दूसरी ओर प्रदेश में कोरोना संक्रमण में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है।