Monday, August 2, 2021
Home Tags Bhopal station

Tag: bhopal station

भोपाल डीआईजी हुए सख्त, समझाइश देते हुए कहा तुम्हारी घटिया हरकतों से बड़े बुज़ुर्ग मर गए शर्म आना चाहिए

0

भोपाल की सड़कों पर डीआईजी का सख्त अंदाज देखने को मिला। उन्होंने लोगों को पहले भी समझाइश दी थी लेकिन जब लोग नहीं माने तब दोबारा सड़कों पर उतरकर अनाउंसमेंट करते हुए डीआईजी इरशाद वली ने स्थानीय लोगों को जमकर लताड़ लगाई।

बता दे कि इरशाद वली काजीकेम्प की सड़कों पर अपने महकमे के साथ उतर गए। इरशाद वली गलियों में अनाउंसमेंट करते हुए निकले। उन्होंने किसी पर कार्रवाई नहीं की लेकिन उनको सख्त भाषा में समझा दिया। उन्होंने अपने अधीनस्थ अधिकारियों को निर्देश दिए कि यदि इसके बावजूद भी लोग नहीं मानते तो उनके खिलाफ सख्त एक्शन लिया।

दरअसल उन्होंने संकरी गलियों से गुजरते हुए अनाउंसमेंट करते हुए कहा कि “तुम्हारी घटिया हरकतों से बड़े बुज़ुर्ग मर गए है। शर्म आना चाहिए। शर्म हया सब बेच खाई है। बार बार समझा रहा हूं। तुम्हारी हरकतों से घर वाले, बड़े बुज़ुर्ग मरेंगे। बेवकूफों पर कुछ असर नहीं होता है।

काजी कैंप पर कुछ दिनों पहले पुलिस और जिला प्रशासन की टीम ने कई दुकानों को सील करने का काम किया था। यहां की तमाम गलियों को सील कर दिया गया था। बैरिकेड लगाकर चेकिंग व्यवस्था बढ़ा दी गई थी। कई लोगों के खिलाफ केस भी दर्ज किए गए थे। इसके बावजूद यहां के लोग कोरोना कर्फ़्यू के नियम को लगातार तोड़ रहे हैं। यही कारण रहा कि अब खुद डीआईजी इरशाद वली ने इस इलाके की कमान संभाली और लोगों को अब अपने ही अंदाज में समझाएं दे रहे हैं।

भोपाल के निजी अस्पताल में कोरोना हवन

0

भोपाल में कोरोना का कहर बरकरार है। ऐसे में ब्लैक फंगस ने भी तबाही मचा रखी है। बताया जा रहा है कि भोपाल में इसके चलते आधे से ज्यादा बिस्तर भर चुके है। कई अस्पतालों के कोविड वार्ड में कोरोना के साथ साथ ब्लैक फंगस का भी इलाज चल रहा है। ऐसे में भोपाल के एक निजी अस्पताल से एक फोटो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही है। वे फोटो कोविड इमरजेंसी वार्ड की है जहां आज होम हवन किया गया था।

दरअसल वो फोटो ISBT स्तिथ पालीवाल अस्पताल की है। जहां आज इमरजेंसी वार्ड में हवन किया गया था। सूत्रों के अनुसार हवन जल्दी कोरोना को हराने के लिए आयोजित करवाया गया था। जानकरी मिली है कि अस्पताल प्रबंधन कोरोना के साथ साथ उन आत्माओ को भी शांति दिलाना चाहता है जिन्होंने अपने प्राण कोरोना के चलते दिए है।

सूत्रों से ये भी पता चला कि जब इस घटना को लेकर मरीजो के परिजनों से इस पूजा और हवन को लेकर सवाल किए तब डॉ पालीवाल ने जवाब देते हुए ये कहा कि ये हवन आप लोगों के भले के लिए ही करवाया जा रहा है। इस हवन की ताकत से जल्द से जल्द मरीज कोरोना से ठीक होने लगेंगे। इसके साथ साथ जिन लोगों की मृत्यु कोरोना से हुई है उनकी आत्मा को शांति मिले उसके लिए भी ये हवन करवाया गया है।

भोपाल के वैक्सीनशन सेंटर पर हो रहा है नियमों का उल्लंघन, तोड़ी जा रही है कोरोना की गाइडलाइन

0

मध्य प्रदेश में कोरोना टीकाकरण के इंतजाम को लेकर सरकार गलत साबित हो रही है। देखा जा रहा है कि वैक्सीन के लिए लोग लंबी कतारों में अपनी बारी का इंतजार कर रहे है। ऐसा ही मंजर भोपाल के एक वैक्सीनेशन सेंटर पर देखने को मिला जहां लोगों की भारी भीड़ देखी गई।

दरअसलभोपाल के 2 स्टॉप स्तिथ नवीन स्कूल वैक्सीनेशन सेंटर है। वहां लोगों की भीड़ दखने को मिली है। ऐसे में प्रशासन की लापरवाही और अव्यवस्थाओं का अंदाजा लगा सकते है। इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग और कोरोना गाइडलाइन का भी उल्लंघन होता दिखाई दिया है।

बता दे कि राज्य सरकार ये चाहती है कि अधिक से अधिक लोगों का वैक्सीनेशन हो सके। जिससे लोग संक्रमण के खतरे से बच सके। लेकिन शासन और प्रशासन की इस लापरवाही से जनता को संक्रमण का मुख्य खतरा बन जाता है।

पेट्रोल पंप का कर्मचारी निकला चोरी का मास्टरमाइंड ,दोस्त के साथ मिलकर उड़ाए लाखों रुपए

0

राजधानी भोपाल के ऐशबाग थाना क्षेत्र अंतर्गत चोरी की घटना सामने आई है जहां पर पुलिस ने चोरी का 3 घंटे में ही पर्दाफाश कर दिया। बता दें कि पुल बोगदा स्थित एक पेट्रोल पंप पर चोरी की गई जिसके सीसीटीवी फुटेज भी सामने आए है। जिसमें चोरी की घटना करते हुए चोर के हुआ है और गुल्लक से पैसे निकालते हुए सीसीटीवी कैमरे में दिखाई दिया है।

ऐशबाग थाने में पदस्थ एस आई निलेश अवस्थी ने जानकारी दी कि जैसे ही सूचना मिली हमने मामले की गंभीरता को देखते हुए तुरंत सीसीटीवी फुटेज देखी। और सीसीटीवी फुटेज में चोर द्वारा काला कलर का टोपी वाला कोट पहनकर आते हुए दिखाई दिया। और फिर वहां पर सोया हुआ कर्मचारी भी पेट्रोल पंप का दिखाई दिया और उसकी पीठ के पीछे से चोरी हो गई। उसके बाद शक कर्मचारी पर हुआ उसे हिरासत में लिया और पूछताछ की।

इस पूरी चोरी का मास्टरमाइंड पेट्रोल पंप का कर्मचारी ही था। अपने दोस्त के साथ मिलकर चोरी की घटना को अंजाम दिया और ₹120000 गुल्लक से निकाल लिए। जब यह सूचना पुलिस का गई तो पुलिस ने पेट्रोल पंप कर्मचारी को संदिग्ध मानते हुए उससे कड़ाई से पूछताछ की। उसने सारी वारदात कबूली और उसके बाद उसका साथी जिस ने चोरी की थी उसे भी पुलिस ने हिरासत में ले लिया।

भोपाल में बढ़ाया जा सकता है कोरोना कर्फ्यू

0

मध्य प्रदेश में कोरोना के हालात देखते हुए भोपाल में कोरोना कर्फ्यू बढ़ाया जा सकता है। इसका संकेत भोपाल कलेक्टर अविनाश लवानिया के बयान से लगाया जा रहा है। बैठक के दौरान उन्होंने कहा कि जिस तरह से जिले में संक्रमितों की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है । और ऐसे में हालात को देखते हुए फैसला लिया जाएगा।

बता दे कि भोपाल में 30 अप्रैल की सुबह तक कर्फ्यू लगाया गया है। ऐसे में संभावना जताई जा रही है कि इसे बढ़ाया जा सकता है। हालांकि कलेक्टर की तरफ से अभी इस बात की जानकारी नहीं दी गई है कि कर्फ्यू कितने दिनों के लिए बढ़ाया जाएगा।

दरअसल राजधानी में शनिवार को 1776 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले है जिसकी वजह से यहां पर संक्रमितों की संख्या बढ़कर 78,934 हो गई है। वही सरकारी रिकॉर्ड के हिसाब से जिले में शनिवार को 10 मरीजों की मौत भी हुई है। यहां अब तक कुल 707 मरीज कोरोना संक्रमण की वजह से अपनी जान गंवा चुके है।और 11267 कोरोना मरीज अब भी एक्टिव है।

रेल मंडल भोपाल द्वारा कोरोना की लड़ाई में सराहनीय पहल 292 बेड तैयार

0

कोरोना संक्रमित व्यक्तियों के लिए भोपाल रेल मंडल द्वारा आइसोलेशन कोच भोपाल स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर 6 पर खड़े किए गए हैं। यह आइसोलेशन 20 कोच में तैयार किए गए हैं जिससे लगभग 292 बिस्तरों की व्यवस्था सुनिश्चित की गई है।

भोपाल मंडल रेल प्रशासन द्वारा कोरोना संक्रमित मरीजों की इलाज के लिए भोपाल स्टेशन के प्लेटफॉर्म नम्बर-06 पर खड़े किए गए 20 आइसोलेशन कोच कल से जिला प्रशासन के नियंत्रण में रहेंगे। हबीबगंज में भी तैयारी पूरी कर ली गई है। जैसे-जैसे भोपाल में मरीज बढ़ते जाएंगे,फिर हबीबगंज स्टेशन पर खड़े कोच भी जिला प्रशासन को सौंप दिए जाएंगे।

मंडल की टीम द्वारा जिला प्रशासन के साथ भोपाल स्टेशन पर सभी व्यवस्थाओं का मुआयना किया गया और सभी जरूरी इंतजाम अच्छे से कर दिए गए हैं।
भोपाल रेल मंडल द्वारा डॉक्टर्स, नर्सेस, फार्मासिस्ट, अटेंडेंट की व्यवस्था कर ली गई है। मरीजों एवं उनके परिजनों की सुविधा के लिए कट्रोल रूम बनाया गया है, जिसका नम्बर- 9752413476 ,9479981845 है।

स्टेशन पर कंट्रोल बूथ बनाया गया है। इन आइसोलेशन कोचों में जो भी मरीज भर्ती किये जायेंगे, वह जिला प्रशासन के माध्यम से ही भर्ती किये जायेंगे। अतः जिस किसी को आइसोलेशन कोच की सुविधा चाहिए, वह जिला प्रशासन से संपर्क करें।