भारतीय जनता पार्टी की पहली सूची जारी होते ही बगावत के सुर दिखने शुरू हो गए हैं. सूत्रों के मुताबिक आज भाजपा पार्टी के कई बड़े नाम पार्टी को अलविदा कह सकते हैं. इसमें कार्यकर्त्ता से लेकर कई बड़े नेता भी शामिल हो सकते हैं. बता दें कि 177 की पहली सूची में भाजपा ने कई नेताओं के टिकट काट दिेए जिसके बाद ये विरोध के सुर उठने लगे हैं.

जगह-जगह पर विरोध प्रदर्शन 

  • नागदा में केंद्रीय मंत्री थावरचंद गेहलोत के घर का महिदपुर विधायक बहादुर सिंह चौहान के पक्ष में भाजपा कायकताओं ने घेराव किया। लगभग 500 नागदा पहुंचे।
  • मंत्री कुसुम महदेले को टिकट न मिलने की वजह को लेकर पहुंचीं सीएम हाउस। सीएम से करेंगी मुलाकात।
  • हुज़ूर में भी टिकट बंटवारे के बाद मची उथल पुथल। बता दें कि बीजेपी से टिकट की दावेदारी कर रहे जिला पंचायत सदस्य माखन सिंह राजपूत निर्दलीय नामांकन भर सकते हैं।
  • खंडवा देवेंद्र वर्मा के विरोध में लोगों ने मुंडन करवाया।
  • भोपाल गोविंदपुरा सीट पर कृष्णा गौर को टिकट न मिलने को लेकर कई महिला कार्यकर्ता विरोध प्रदर्शन कर रही हैं।
  • सैलाना विधायक संगीता चारे भाजपा से टिकट कटने के बाद निर्दलीय चुनाव लड़ने का ऐलान किया।
  • रतलाम में टिकट कटने से पूनम सोलंकी ने भाजपा से इस्तीफा दिया। पूनम टिकट की मांग कई दिनों से कर रहीं थी लेकिन उकी जगह दिनेश मकवाना को दे दिया गया। वहीं पिपलोदा नगर परिषद अध्यक्ष श्याम बिहारी पटेल ने पार्टी के फैसले के खिलाफ जाकर निर्दलीय चुनाव लड़ने की बात कही है।
  • भोपाल बीजेपी दफ्तर में जमकर हंगामा। बाई साहब के समर्थनमें हुआ हंगामा। समर्थक का आरोप पैराशूट नेता नहीं चलेंगे। बता दें कि बाई साहब की जगह केपी यादव को भाजपा ने टिकट दिया।
  • टीकमगढ़ के विधायक केके श्रीवास्तव ने प्रभात झा पर लगाए गंभीर आरोप। उन्होंने कहा रूपये लेकर बांटे गए टिकट।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साले संजय सिंह ने भाजपा छोड़ कांग्रेस में हुए शामिल। शामिल होते ही संजय सिंह ने भाजपा पर लगाया वंशवाद का आरोप।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.