सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है. वायरल वीडियो में सेना के कुछ जवानों के साथ कश्मीर में बेहद बुरा बर्ताव हो रहा है लेकिन जवान धैर्य के साथ हर बदतमीजी को सहन करते हुए दिखाई दे रहे हैं. वीडियो में भीड़ जवानों पर नफरत का गुबार निकाल रही है लेकिन हमारे शूरवीर पलट कर कुछ भी नहीं कर रहे हैं. वीडियो के जरिए दावा है कि देश के जवानों के साथ ये बर्ताव कश्मीर में हो रहा है।

इस वीडियो की सच्चाई जानने के लिए न्यूबज़्ज़ इंडिया ने इस वीडियो की पड़ताल की. पड़ताल में सामने आया कि ये वीडियो 9 अप्रैल का है. जो श्रीनगर के बाहरी हिस्से पुलवामा का हैं. 9 अप्रैल को कश्मीर में सेंट्रल रिजर्व पुलिस फोर्स यानि सीआरपीएफ के जवान राज्य में हुए उपचुनाव में चुनाव सुरक्षा ड्यूटी करने के बाद अपने बैरक में लौट रहे थे. इसी दौरान कश्मीर के युवकों ने उनके साथ ये बर्ताव किया.

इस पूरे मामले पर कश्मीर वैली में सीआरपीएफ के पीआरओ ने घटना की पुष्टि करते हुए कहा कि जवानों का संयम उनके शौर्य के बराबर है.
जवान देश की रक्षा के लिए हैं अपमान का घूंट पीने के लिए नहीं लेकिन कश्मीर जैसे संवेदनशील जगह पर शांति बनी रहे इसलिए हमारे देश के जवान अदम्य साहस के साथ अटूट धैर्य का परिचय देते हैं.

सीआरपीएफ मुख्यालय के वरिष्ठ अधिकारियों का मानना है कि इतनी भीड़ पर गोली नहीं चलायी जा सकती थी,चलती तो कुछ भी हो सकता था. भारत अपने सुरक्षाबलों को दुश्मन पर वार करना सिखाता है अपने लोगों पर नहीं. शायद स्थानीय लोगों के ये बात समझ में नहीं आती है.