fbpx
शनिवार, जनवरी 23, 2021

किसान आंदोलन को लेकर जगजीत सिंह दल्लेवाल का बड़ा बयान,कृषि मंत्री को लेकर बोले….

किसान आंदोलन को लेकर किसान नेता जगजीत सिंह दल्लेवाल ने बड़ा बयान दिया है। दल्लेवाल ने कहा कि अब यह आंदोलन पंजाब और हरियाणा का नहीं बल्कि देश का आंदोलन बन गया है।

दल्लेवाल के अनुसार अब दिल्ली में एमपी और यूपी के किसानों ने भी डेरा जमाना शुरू कर दिए है और बहुत जल्द यहाँ पूरे देश के किसान आकर हमे अपना समर्थन देने वाले हैं।


एक दूसरे के पूरक है तीनों कानून

किसान नेता के अनुसार पहला कानून किसान की कमर तोड़ेगा दूसरा कानून कॉन्ट्रेक्ट फार्मिंग से किसानों को थोड़ी रोशनी दिखायेगा लेकिन एक समय के बाद किसान खुद को ठगा हुआ महसूस करेगा और तीसरा कानून किसान और उपभोक्ता दोनों वर्ग के लिए हानिकारक होगा।


किसानों के हाथ से जमीन निकलकर कारपोरेट के हाथों में चली जायेगी

किसान नेता ने कहा कि मोदी सरकार किसानों की जमीन किसान के हाथ से निकालकर कॉरपोरेट के हाथों में देने की पूरी योजना बना चुकी है लेकिन हम सभी किसानों का एकमात्र मकसद इस तीनो काले कानूनों को वापस करवाना है।

एमएसपी पर लिखित गारंटी देकर कानून बनाए सरकार

एमएसपी पर सरकार की गारंटी के सवाल पर दल्लेवाल ने कहा कि सरकार किसानों और किसान नेताओं को मूर्ख समझती है अगर मोदी जी और उनकी सरकार को किसानों और एमएसपी की इतनी ही चिंता है तो क्यों सरकार लिखित गारंटी नहीं दे रही? हम चाहते हैं कि सरकार इसपर लिखित गारंटी देकर इसका कानून बनाये।

दल्लेवाल ने कहा अब हमारी लड़ाई किसान के अस्मिता को बचाने की है और हमे इसमे पंजाब के अलावा अन्य राज्यो के लोग सहयोग भी कर रहे है।

पंजाब और हरियाणा के लोग ही आंदोलन में शामिल हैं बाकी देश के किसानों को इससे दिक्कत नही है भाजपा नेताओं के इस आरोप पर जवाब देते हुए दल्लेवाल ने कहा कि आंदोलन से पंजाब का पुराना नाता रहा है। चाहे वो देश के लिए मर मिटने की बात हो या देश को आजाद करवाने की बात हर जगह बागडोर पंजाबियों ने ही संभाली है यही वजह है कि कृषि बिल को लेकर पंजाब के किसानों ने मोर्चा संभाल लिया है।

आंदोलन में पंजाब और हरियाणा के लोग इसलिए ज्यादा दिखाई दे रहे क्योंकि दोनों राज्य दिल्ली के पास है। लेकिन इसके बावजूद भी अन्य राज्य के किसान भी दिल्ली आने लगे है।

चतुर सुजान हैं नरेंद्र सिंह तोमर

केंद्रीय कृषिमंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के एमएससी और तीनों कृषि कानूनों पर दिए गए बयानों पर दल्लेवाल ने कहा तोमर पुराने राजनीतिज्ञ और चतुर सुजान हैं लेकिन हम उनकी किसी भी चाल में फसने वाले नही हैं।

ताजा समाचार

मध्यप्रदेश कांग्रेस में हो सकता है जल्द ही बड़ा बदलाव, युवाओं को मौका देने के मिले संकेत

2018 विधानसभा चुनाव में बेहतरीन प्रदर्शन के दम पर सरकार बनाने वाली कांग्रेस जो बमुश्किल 15 महीनों में ही अपनी सरकार गिरवा चुकी है...

शिवराज सिंह चौहान ने प्यारे मियां मामले पर एसआईटी जांच का निर्देश दिया

भोपाल में यौन शोषण का आरोपी प्यारे मियां की शिकार बनी बच्चियों में से एक युवती की पिछले दिनों नींद की गोलियां खाने से...

विधानसभा सत्र की अधिसूचना जारी 22 फरवरी से 26 मार्च तक रहेगा सत्र

मध्य प्रदेश विधानसभा सचिवालय ने विधानसभा सत्र की अधिसूचना जारी कर दी है सत्र 22 फरवरी से शुरू होकर 26 मार्च तक चलेगा इस...

Related Articles

मध्यप्रदेश कांग्रेस में हो सकता है जल्द ही बड़ा बदलाव, युवाओं को मौका देने के मिले संकेत

2018 विधानसभा चुनाव में बेहतरीन प्रदर्शन के दम पर सरकार बनाने वाली कांग्रेस जो बमुश्किल 15 महीनों में ही अपनी सरकार गिरवा चुकी है...

शिवराज सिंह चौहान ने प्यारे मियां मामले पर एसआईटी जांच का निर्देश दिया

भोपाल में यौन शोषण का आरोपी प्यारे मियां की शिकार बनी बच्चियों में से एक युवती की पिछले दिनों नींद की गोलियां खाने से...

विधानसभा सत्र की अधिसूचना जारी 22 फरवरी से 26 मार्च तक रहेगा सत्र

मध्य प्रदेश विधानसभा सचिवालय ने विधानसभा सत्र की अधिसूचना जारी कर दी है सत्र 22 फरवरी से शुरू होकर 26 मार्च तक चलेगा इस...