उत्तरप्रदेश निकाय चुनाव में ईवीएम में गड़बड़ी की खबरें सामने आने के बाद कांग्रेस नेता शहज़ाद पूनावाला और दिल्ली से आम आदमी पार्टी के विधायक कपिल मिश्रा आपस में भीड़ गए। बात आप नेता संजय सिंह के एक ट्वीट से शुरू हुई और चुनावी रेट लिस्ट पर जा पहुंची। 

कैसे शुरू हुई बहस ?

आज उत्तरप्रदेश में हुए नगरीय निकाय चुनाव के बीच ईवीएम में गड़बड़ी को खबरें मीडिया की सुर्खियां बनी हुई है। बताया जा रहा है कि यूपी के कई इलाकों में ईवीएम में गड़बड़ी पाई गई है। मतदाता किसी भी बटन दबाए वोट भाजपा के पाले में जा रहा था। ऐसी ही एक खबर को शेयर करते हुए आप नेता संजय सिंह ने लिखा कि ‘ईवीएम कांड शुरू’। जिस पर आप के पूर्व विधायक कपिल मिश्रा ने लिखा कि ‘ UP में आज पहले दौर की वोटिंग, AAP का EVM विलाप शुरू – मशीन खराब है, जीत नहीं सकते तो चुनाव लड़ते क्यों हो, टिकट बेचने के लिए? 

कपिल मिश्रा के इस ट्वीट पर तंज कसते हुए कांग्रेस नेता शहज़ाद पूनावाला नेने लिखा कि ‘Sir, वैसे आज भी आप “आप” के MLA है (भाजपा से नहीं है यह चेक भी किया हालाँकि बयान से स्पष्ट नहीं था) । बता दीजिए आप ने कितने में टिकट ख़रीदा था ? ताकि ख़रीदनेवाले और बेचनेवाले – दोनो पर EC कार्यवाही करे?

Social Media पर गली गलौच वाले ट्रोल को प्रोत्साहित करते है पीएम मोदी !

शहज़ाद पूनावाला के इस तंज का जवाब देते हुए कपिल मिश्रा ने लिखा कि ‘भाईजान, लेटेस्ट रेट लिस्ट आपको पता ही होगी, लाइन में तो आप वहां भी लगे हो और ये खरीदने बेचने की खबरें जब से शुरू हुई है, हम जैसे दूर और आप जैसे नजदीक आते गए AAP के ।

अंत में कपिल मिश्रा के वार का शहज़ाद पूनावाला ने करारा जवाब देते हुए लिखा कि ‘पैसे होते टिकट लेने के लिए तो “जय शाह की अब्बू ” की पार्टी में मंत्री होता ना आज 🙂 और कहीं क्यूँ जाता?? चलो आपकी Deal शायद हो चुकी है – वहाँ के रेट लिस्ट के बारे में कब बताओगे? या पुराने सम्बंध के कारण कोई Discount मिला? 😉 

Loading...