Newbuzzindia:​कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ पर एक बार फिर बरसे हैं। कांग्रेस के एक कार्यक्रम में रिपोर्टरों से बात करते हुए उन्होंने संघ को एक अवैध संगठन करार दिया। दिग्विजय सिंह ने दावा किया कि संघ का एक अपंजीकृत संगठन है। कांग्रेस नेता ने सवाल उठाया कि आखिर आरएसएस को मिलने वाले चंदा कहां से आता है, खासकर गुरुपूर्णिमा के मौके पर मिलने वाला चंदा। इसका लेखा-जोखा कहां है, ये पता चलना चाहिए।

दिग्विजय ने कहा कि जो संस्था बिना पंजीकरण के चल रही हो उसे बैन करने के लिए कोई सवाल ही नहीं बनता। कई दफा संघ को बैन करने की बात इसलिए उठ चुकी है, क्योंकि संघ का रजिस्ट्रेशन ही नहीं है। ऊना में दलितों की पिटाई के पीछे भी दिग्विजय ने आरएसएस का हाथ बताया। 

इससे पहले भी दिग्विजय सिंह संघ को चुनौती दे चुके हैं कि यदि वो भारत में एक पंजीकृत संस्था है तो अपनी जानकारी सार्वजनिक करे। उन्होंने दावा किया था कि आरएसएस एक अवैध संगठन है जो बिना पंजीकरण के इतने सालों से चलता आ रहा है। इस बार उन्होंने संघ को मिलने वाले चंदे का हिसाब मांगा है। 

सवाल यह भी है कि संघ ने बैंकों में किस नाम से खाते खुलवाए हैं और यदि नहीं खुलवाए तो क्या सारा काम नगदी में हो रहा है। क्या तमाम चंदे की रकम सुरक्षित रखने के लिए संघ ने भी कुछ ऐसे ही इंतजाम किए हैं जो उसे गैरकानूनी संगठनों की श्रंखला में खड़े करते हैं। 

Loading...

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.