NewBuzzIndia:   उत्‍तर प्रदेश के बांदा जिले के जौहरी गाँव में एक  सरकारी प्राथमिक स्कूल में राष्‍ट्रगान और प्रार्थना पर पाबंदी लगाने से मामला गर्माया हुआ है। हिंदी के एक अखबार के रिपोर्ट के मुताबिक स्‍कूल में 15 दिनों से राष्‍ट्रगान पर प्रतिबन्ध लगा हुआ है। राष्‍ट्रगान गाने पर रोक लगाने का आरोप हेडमास्‍टर शाजिया परवीन पर है। 

स्‍कूल के बच्‍चों और गांव वालों ने स्कूल के हेडमास्टर पर ये आरोप लगाया है। मामला सामने आने के बाद आरोपी हेडमास्‍टर और एक अन्‍य अध्‍यापिका शैलेंद्रि देवी को सस्‍पेंड कर दिया गया है।
जानकारी के मुताबिक पिछले कई दिनों से अधिकारियों को इस मामले पर शिकायत मिल रही थी  पिछले सप्ताह एसडीएम ने स्कूल का निरिक्षण करने के बाद डीएम से कार्यवाही की सिफारिश की थी। स्‍कूल की एक टीचर शैलेंद्रि देवी ने बताया कि हेडमास्टर शाजिया परवीन ने बच्चों की प्रार्थना सभा और राष्ट्रगान पर रोक लगा दी है। 

यह रोक 4 जुलाई से लेकर करीब 20 जुलाई तक रही। इसके बाद कार्रवाई की गई और शाजिया परवीन को भी स्कूल से हटा दिया गया। मामले की खुलासा करने वाली शैलान्द्रि देवी को भी गलत आचरण के आरोप में स्कूल से सस्पेंड किया गया है।

स्‍कूल में पढ़ने वाले एक बच्‍चे ने बताया कि हेडमास्टर मैडम ने सरस्वती वंदना, प्रार्थना और राष्ट्रगान को बंद करा कर, हाथ उठाकर अल्लाह-ओ-अकबर पढ़ने को बोलती थी। मामला सामने आने के बाद हेडमास्‍टर और एक अन्‍य अध्‍यापिका शैलेंद्रि देवी को सस्‍पेंड कर दिया गया है।

Loading...

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.