Newbuzzindia : नोटबंदी के मुद्दे पर आज पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने नरेंद्र मोदी सरकार पर तीखा हमला बोला है । मनमोहन सिंह ने राज्यसभा में बोलते हुए नोटबंदी के कारण गरीबों को हो रही परेशानियां गिनाई ।

गौरतलब है कि राज्यसभा में बुधवार को पूर्व प्रधानमंत्री मनमहोन सिंह ने कहा कि नोटबंदी के बाद लोगों को रही परेशानी और शिकायतों को संज्ञान में लेने की जरूरत है। 60-65 लोगों की मौत हो गई। क्या इस फैसले को हमारे देश के लोगों का करेंसी और बैंकिंग सिस्टम से विश्वास कम करने के लिए लिया गया है।

राज्यसभा स्पीकर उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी ने सदन की कार्यवाही शुरू करने को कहा। इस पर सबसे पहले पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह ने बोला। उन्होंने कहा…

–  प्रधानमंत्री ने 50 दिन इंतजार करने के लिए कहा। लेकिन, ये 50 दिन गरीबों के लिए काफी हानिकारक हो सकता है।
-क्या प्रधानमंत्री किसी ऐसे देश का नाम बता सकते हैं, जहां लोग पैसे जमा कर सकते हैं, लेकिन निकाल नहीं सकते।
– प्रधानमंत्री को कुछ रचनात्मक प्रस्ताव लाना चाहिए, जिसे इंप्लीमेंट किया जा सके।
– नोटबंदी लागू करने में बदइंतजामी हुई।
– नोटबंदी व्यवस्थित तरीक से की जा रही लूटपाट साबित हुई।
– हर दिन नए नियम बनाना ठीक नहीं है। प्रधानमंत्री कार्यालय नोटबंदी लागू करने में नाकामयाब रहा।

बताते चलें कि संसद के शीतकालीन सत्र में नोटबंदी पर हंगामे के बीच विपक्ष सदन की कार्यवाही में प्रधानमंत्री की मौजूदगी की मांग कर रहा था। इसके बाद गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राज्यसभा में पहुंचे।

प्रधानमंत्री को सदन में मौजूद देख राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलामनबी आजाद ने कहा कि यदि प्रधानमंत्री सदन में मौजूद रहेंगे तो विपक्ष नोटबंदी पर बहस के लिए तैयार है। इस पर वित्त मंत्री अरुण जेटली ने आश्वस्त किया कि प्रधानमंत्री सदन की कार्यवाही के दौरान मौजूद रहेंगे। विपक्ष बहस शुरू कर सकता है।

Loading...