Thursday, June 30, 2022

जहरीली शराब पीने से पांच लोगों की मौत पर तेजसवी ने सीएम नीतीश कुमार पर बोला जोरदार हमला, बोला की..

बिहार विधानसभा में विरोधी दल के नेता तेजस्वी प्रसाद यादव ने रोहतास जिले में जहरीली शराब पीने से पांच लोगों की मौत पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की आलोचना की है। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार ने सिर्फ कागजों पर शराबबंदी योजना को लागू किया था। ताकि वो उस वक्त पूरे देश में शराबबंदी को लेकर अहम संदेश देकर प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार बन जाएं।

 

उन्होंने एएनआई को दिए इंटरव्यू की एक क्लिपिंग ट्वीट करते हुए लिखा है, “प्रधानमंत्री बनने के लिए महागठबंधन के सहयोग से नीतीश जी ने की थी शराबबंदी ताकि वो इसे राष्ट्रीय मुद्दा बनाकर देशभर में घूम सकें। क्या उनमें हिम्मत है अब वो झारखंड और यूपी जाकर शराबबंदी के लिए सभा करें?”

रोहतास में हुई मौतों के मामले में आठ पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई किये जाने पर तेजस्वी ने कहा कि मुख्यमंत्री ऐसा करके अपनी कथित विफलताओं को नहीं छिपा सकते हैं। बता दें कि रोहतास जिले के कछवा थाना अंतर्गत दनवार गांव में शुक्रवार की देर रात जहरीली शराब पीने से चार लोगों की मौत हो गई थी और जबकि एक अन्य व्यक्ति ने बाद में दम तोड़ दिया। अभी एक और शख्स की हालत गंभीर बनी हुई है। इस मामले में आठ पुलिसकर्मियों को निलंबित किया गया है।

 

तेजस्वी ने पटना में एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर आरोप लगाया कि नीतीश जी अपनी कथित विफलताओं का ठीकरा दूसरों के सिर फोड़ते हैं। उन्होंने बिहार में पूर्ण शराबबंदी के बावजूद शराब उपलब्ध होने का आरोप लगाते हुए कहा कि फर्क सिर्फ इतना है कि अब शराब महँगी दरों पर उपलब्ध है। तेजस्वी ने कहा, ‘‘नीतीश जी पुलिसकर्मियों को निलंबित करके आप अपनी कथित नाकामयाबियों को नहीं छुपा सकते है।’’ उन्होंने नीतीश पर प्रधानमंत्री बनने की आकांक्षा के तहत बिहार में शराबबंदी लागू करने का आरोप लगाया और कहा कि उन्होंने ऐसा इसलिए किया ताकि वह इसे राष्ट्रीय मुद्दा बनाकर देशभर में घूम सकें।

 

तेजस्वी ने दूसरे ट्वीट में यह भी आरोप लगाया है कि राज्यभर में पुलिसकर्मी शराब के अवैध कारोबार में लिप्त हैं। इसमें उनके बड़े आकाओं की भी संलिप्तता है। उन्होंने गृह विभाग के मंत्री होने के नाते मुख्यमंत्री को इस हत्या का बराबर दोषी करार दिया है।

 

https://twitter.com/yadavtejashwi/status/924137877813968897

ताजा समाचार

Related Articles