fbpx
मंगलवार, मार्च 2, 2021

जो पत्रकार सरकार की तरफ हो जाता है तो वह जनता के खिलाफ हो जाता है : रविश कुमार

Newbuzzindia: बरखा दत्त और अर्णब गोस्वामी के बीफ चल रहे विवाद में अब वरिष्ट पत्रकार रविश कुमार कूद पड़े है । ndtv के वरिष्‍ठ पत्रकार रवीश कुमार ने अपने लेटेस्‍ट ब्‍लॉग में बिना नाम लिए अरनब पर तीखी टिप्‍पणी की है। रवीश ने लिखा है, ”एंकर सरकार से कह रहा है कि वो पत्रकारों पर देशद्रोह का मुक़दमा चलाये। जिस दिन पत्रकार सरकार की तरफ हो गया, समझ लीजियेगा वो सरकार जनता के ख़िलाफ़ हो गई है। पत्रकार जब पत्रकारों पर निशाना साधने लगे तो वो किसी भी सरकार के लिए स्वर्णिम पल होता है।” माना जा रहा है कि रवीश का यह इशारा अरनब गोस्‍वामी की ओर है। अरनब ने अपने शो न्‍यूजआवर में कुछ पत्रकारों पर आरोप लगाया था कि वे कश्‍मीर में अलगाववाद को बढ़ावा दे रहे हैं। अरनब ने तीखा हमला करते हुए पूछा था कि क्‍या ऐसे लोगों की तलाश करके उनके खिलाफ केस नहीं चलाया जाना चाहिए।

क्‍या लिखा रवीश कुमार ने

रवीश ने अपने ब्‍लॉग ‘कस्‍बा’ पर ‘सांप्रदायिकता का नया नाम है राष्ट्रवाद’ शीर्षक से आर्टिकल लिखा है। इसमें उन्‍होंने लिखा, ‘आप जो टीवी पर एंकरों के मार्फ़त उस अज्ञात व्यक्ति की महत्वकांक्षा के लिए रचे जा रहे तमाशे को पत्रकारिता समझ रहे हैं वो दरअसल कुछ और हैं। आपको रोज़ खींच खींच कर राष्ट्रवाद के नाम पर अपने पाले में रखा जा रहा है ताकि आप इसके नाम पर सवाल ही न करें। दाल की कीमत पर बात न करें या महँगी फीस की चर्चा न करें। इसीलिए मीडिया में राष्ट्रवाद के खेमे बनाए जा रहे हैं।एंकर सरकार से कह रहा है कि वो पत्रकारों पर देशद्रोह का मुक़दमा चलाये।
जिस दिन पत्रकार सरकार की तरफ हो गया, समझ लीजियेगा वो सरकार जनता के ख़िलाफ़ हो गई है। पत्रकार जब पत्रकारों पर निशाना साधने लगे तो वो किसी भी सरकार के लिए स्वर्णिम पल होता है। बुनियादी सवाल उठने बंद हो जाते हैं।जब भविष्य निधि फंड के मामले में चैनलों ने ग़रीब महिला मज़दूरों का साथ नहीं दिया तो वो बंगलुरू की सड़कों पर हज़ारों की संख्या में निकल आईं। कपड़ा मज़दूरों ने सरकार को दुरुस्त कर दिया। इसलिए लोग देख समझ रहे हैं। जे एन यू के मामले में यही लोग राष्ट्रवाद की आड़ लेकर लोगों का ध्यान भटका रहे थे। फ़ेल हो गए। अब कश्मीर के बहाने इसे फिर से लांच किया गया है!

मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती ने कहा है कि बुरहान वानी को छोड़ दिया जाता अगर सेना को पता होता कि वह बुरहान है। बीजेपी की सहयोगी महबूबा ने बुरहान को आतंकवादी भी नहीं कहा और अगर वो है तो उसके देखते ही मार देने की बात क्यों नहीं करती हैं जैसे राष्ट्रवादी करते हैं। महबूबा मुफ्ती ने तो सेना से एक बड़ी कामयाबी का श्रेय भी ले लिया कि उसने अनजाने में मार दिया। अब तो सेना की शान में भी गुस्ताख़ी हो गई।

  • क्या महबूबा मुफ्ती को गिरफ़्तार कर देशद्रोह का मुक़दमा चलाया जाए?
  • क्या एंकर लोग ये भी मांग करेंगे ?
  • किस हक से पत्रकारों के ख़िलाफ़ देशद्रोह का मुक़दमा चलाने की बात कर रहे हैं?
  • जिस सरकार के दम पर वो कूद रहे हैं क्या वो सरकार ऐसा करेगी कि महबूबा को बर्खास्त कर दे?
  • क्या उस सरकार का कोई बड़ा नेता महबूबा से यह बयान वापस करवा लेगा?

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

ताजा समाचार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लगवाई दूसरे चरण में कोरोना की वैक्सीन

देश में आज कोरोना वैक्सिनेशन(Corona Vaccine) का दूसरा चरण(Second Phase) शुरू हो गया है। दूसरे चरण में 60 साल से अधिक उम्र और किसी...

दूरदर्शन भोपाल की भर्तीयों में भारी अनियमितताएं, आरटीआई से हुआ खुलासा

भोपाल(Bhopal) के दूरदर्शन केंद्र(Dooradarshan Kendra) में प्रादेशिक समाचार एकांश में भ्रष्टाचार और अवैध भर्ती का मामला सामने आया है। जिसमे प्रसार भारती के नियमों...

रायपुर की अंजली ने जीता प्रथम पुरस्कार

रायपुर: बारहवीं की छात्रा अंजली शर्मा ने मध्यप्रदेश के उज्जैन में आयोजित “खनक” नामक अखिल भारतीय डान्स और म्यूजिक फेस्टिवल 2021 में प्रथम पुरस्कार...

Related Articles

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लगवाई दूसरे चरण में कोरोना की वैक्सीन

देश में आज कोरोना वैक्सिनेशन(Corona Vaccine) का दूसरा चरण(Second Phase) शुरू हो गया है। दूसरे चरण में 60 साल से अधिक उम्र और किसी...

दूरदर्शन भोपाल की भर्तीयों में भारी अनियमितताएं, आरटीआई से हुआ खुलासा

भोपाल(Bhopal) के दूरदर्शन केंद्र(Dooradarshan Kendra) में प्रादेशिक समाचार एकांश में भ्रष्टाचार और अवैध भर्ती का मामला सामने आया है। जिसमे प्रसार भारती के नियमों...

26 जनवरी के किसान आंदलोन के बाद 400 किसान लापता

किसान परेड के दौरान 26 जनवरी को लाल किला और दिल्ली के विभिन्न इलाकों में हिंसा के दौरान किसानों के लापता होने का मामला...