Saturday, July 24, 2021

कोरोना से लड़ने मध्य प्रदेश की महिलाऐं बना रही मास्क और सैनिटाइजर

मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमण को रोकने हेतु स्व सहायता समूह की महिलाओ  द्वारा मास्क एवं सैनिटाइजर बनाने का कार्य किया जा रहा है। विभाग द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति में डीपीएम एनआरएलएम नेमचंद जादव ने बताया कि जिले में जिला पंचायत आजीविका मिशन टीम के मार्गदर्शन में आजीविका मिशन के ग्रामीण क्षेत्र की 125 से 150 महिलाए प्रतिदिवस 2000 से 2500 मास्क तैयार कर विश्व महामारी कोरोना की रोकथाम में जिला प्रशासन का सहयोग कर रही है। साथ ही वे आजीविका उत्पाद स्टोर जिला पंचायत में 10 रूपये में विक्रय कर रही है। जिससे उन्हें घर बैठे इस कोरोना महामारी में रोजगार भी मिल रहा है।

जाटव ने आगे बताया कि वर्तमान समय में जिले के ग्राम अकबरपुर, मिर्जापुर, डबलचौकी, अखेपुर, पटाड़ी, रतेड़ी, चोबापिपल्या, पनवासा, गुर्जर बापच्या, खटाम्बा, पत्थर गुराड़िया, महुखेड़ा, फावड़ा, दत्तोर, खोखरिया, बोरखेड़ा, सकतली, रणायरकला आदि गांवों में स्वःसहायता समूहों की ग्रामीण महिलाओं द्वारा मास्क तैयार किये जा रहे है।


स्व सहायता समूह की ग्रामीण महिलाओं द्वारा आजीविका मिशन के माध्यम से विभिन्न शासकिय विभागों को मास्क वितरण किये गये है। जिला कलेक्टर कार्यालय, चिकित्सालय देवास, जिला सहकारी बैंक, नगर निगम, जनपद पंचायत टोंकखुर्द, उप पुलिस अधीक्षक यातायात देवास, मेडिकल एसोसियेशन, ग्राम पंचायतें और अन्य व्यक्तिगत रूप से भी मास्क का विक्रय किया जा रहा है। इस प्रकार जिले में अभीतक 71000 मास्क विक्रय किये जा चुके है। 

मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान द्वारा दिनांक 25 अप्रैल को शुरू की गई जीवन शक्ति योजना के अंतर्गत ग्रामीण शहरी क्षेत्रों में महिलाए मास्क तैयार करेंगी। जिसमें 0755-2700800 पर कॉल कर अपना पंजीयन कराना होगा पंजीयन के बाद उन्हें मोबाईल पर ही मास्क बनाने का ऑर्डर मिल जायेगा। इस बार में उन्हें कम से कम 200 मास्क बनाने का आर्डर मिलेगा। मास्क सूती कपड़े का बनना हैं मास्क बनाने के बाद वे अपने नगरीय निकाय में नोडल अधिकारी के पास अपने बनाए गए मास्क जमा करा देंगी। मास्क जमा कराते ही उनको भुगतान की कार्रवाही की जाएगी। भुगतान उसी दिन अथवा अगले दिन उनके खाते में प्राप्त हो जायेगा।
    इस प्रकार आजीविका मिशन के स्व सहायता समूहों की महिलाए आजीविका गतिविधियों के साथ कोरोना महामारी की रोकथाम में भी पीछे नही है, वे यह सब कार्य कर जिला प्रशासन और सरकार का प्रत्यक्ष तथा अप्रत्यक्ष रूप से सहयोग कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

ताजा समाचार

Related Articles