fbpx
Wednesday, July 15, 2020

हमारे कार्यकर्ताओं पर हमले और प्रदेश में अराजकता बर्दाश्त नहीं : राकेश सिंह

Newbuzzindia Desk
Editorial Desk of Newbuzzindia.com

जरूर पढ़ें

उमा भारती का सरकार से सवाल, महाकाल परिसर तक कैसे पहुंचा विकास दुबे ?

मध्य प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने विकास दुबे के मामले में...

कानपुर के जघन्य हत्याकांड में यूपी सरकार पूरी तरह फेल साबित हुई: प्रियंका गांधी

यूपी का मोस्ट वांटेड गैंगस्टर और कानपुर में आठ पुलिस जवानों की हत्या के आरोपी विकास दुबे...
India
937,487
Total confirmed cases
Updated on July 15, 2020 9:27 am

आज का पुतला दहन प्रदेश सरकार के लिए एक चेतावनी है। अगर हमारे कार्यकर्ताओं पर इसी तरह हमले होते रहे और प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिति में सुधार नहीं हुआ, तो हम सड़कों पर उतरेंगे और सरकार को चलने नहीं देंगे। प्रदेश सरकार को यह चेतावनी सोमवार को जबलपुर में भारतीय जनता पार्टी द्वारा आयोजित पुतला दहन कार्यक्रम में कार्यकर्ताओं का नेतृत्व करते हुए प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने दी। जबलपुर शहर के सभी 14 मंडलों से प्रदेश सरकार के पुतलों का जुलूस निकाला गया और रानीताल चौराहे पर प्रदेश अध्यक्ष के नेतृत्व में इन पुतलों का दहन किया गया। वहीं, प्रदेश के अन्य जिलों में भी कार्यकर्ताओं ने प्रदेश सरकार और मुख्यमंत्री का पुतला फूंककर प्रदेश की बिगड़ती कानून व्यवस्था और भारतीय जनता पार्टी कार्यकर्ताओं पर लगातार हो रहे हमलों का विरोध किया।

लगातार हो रही घटनाएं

मीडिया से चर्चा करते हुए सिंह ने कहा कि पिछले कुछ दिनों से प्रदेश में कानून व्यवस्था के हालात अचानक गंभीर रूप लेने लगे हैं। भोपाल में पुलिस पार्टी पर भारी पथराव, इंदौर में कारोबारी संदीप अग्रवाल की हत्या, मंदसौर में नगरपालिका के अध्यक्ष प्रहलाद बंधवार की बीच बाजार नृशंस हत्या, बड़वानी में हमारे मंडल अध्यक्ष की निर्मम हत्या और रविवार को ही जबलपुर में शहीद अब्दुल हमीद मंडल के महामंत्री मगन सिद्दकी पर चाकू से हमला हुआ। इन घटनाओं से लोगों में दहशत का माहौल है, वहीं यह बात भी साबित होती है कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार का कानून-व्यवस्था से कोई लेना देना नहीं है।

हत्या को भाजपा का आंतरिक मामला कहना शर्मनाक

सिंह ने कहा कि मंदसौर में हमारे नगरपालिका अध्यक्ष की सरे बाजार हत्या हो जाती है और प्रदेश के मुख्यमंत्री कहते हैं कि यह भारतीय जनता पार्टी का आंतरिक मामला है। मुख्यमंत्री के इस बयान को शर्मनाक बताते हुए श्री सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री के इस बयान से जाहिर होता है कि सरकार जांच को किस दिशा में ले जाना चाहती है। निश्‍चित रूप से सरकार जांच को उस दिशा में ले जाएगी, जहां से कोई परिणाम नहीं निकलेंगे। सिंह ने कहा कि यह सरकार की सोच का ही परिणाम है कि प्रदेश में फिर नक्सली खतरे की आहट सुनाई दे रही है और सिमी के आतंकियों को छोड़ा जा रहा है। प्रदेश में जानबूझकर अराजकता का महौल बनाया जा रहा है।

सरकार चलने नहीं देंगे

प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने कहा कि कांग्रेस सरकार की नाकामी को लेकर हमने पहले चेतावनी दी। उसके बाद प्रदेश के डीजी और सभी जिलों में कलेक्टर्स को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन देकर कानून व्यवस्था बहाल करने आग्रह किया था। उसके बाद भी घटनाओं में कमी नहीं आ रही है। हम हमारे कार्यकर्ताओं और प्रदेश की जनता के साथ हो रहे अत्याचार को बर्दाश्त नही करेंगे। यह सरकार वैसे ही वेंटिलेटर पर चल रही है, लेकिन हम ये मानते हैं कि जनता ने आपको शासन करने का अधिकार दिया है, तो सरकार इस तरह से चलाएं कि प्रदेश की जनता और हमारे कार्यकर्ता अपने-आपको असुरक्षित महसूस न करें। आज हमने पूरे प्रदेश में सरकार का पुतला दहन करके चेतावनी दी है। यदि सरकार प्रदेश में कानून व्यवस्था बहाल नहीं करती है, तो हम सड़कों पर उतरेंगे और इस सरकार को चलने नहीं देंगे।

जमकर हुई नारेबाजी और विरोध प्रदर्शन

भोपाल के बोर्ड आफिस चौराहे पर जिला इकाई द्वारा मध्यप्रदेश सरकार का पुतला दहन कर प्रदेश में बढ़ रही अराजकता के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया गया। प्रदर्शन के पश्‍चात कार्यकर्ता पैदल मार्च करते हुए बोर्ड आफिस चौराहे से भाजपा कार्यालय पहुंचे। यहां पर पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने कार्यकर्ताओं को संबोधित किया।
इस दौरान प्रदेश उपाध्यक्ष रामेश्‍वर शर्मा ने कहा कि कांग्रेस की सरकार आते ही प्रदेश में कानून व्यवस्थाएं पूरी तरह चौपट हो चुकी है। लगातार बढ़ रही हिंसक घटनाएं कांग्रेस सरकार की नाकामियों को दर्शाती है। पार्टी के प्रदेश महामंत्री विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि पश्‍चिम बंगाल और केरल में जिस तरह गुंडागर्दी और दबाव के आधार पर सरकार चलाने का प्रयास हो रहा है, उसी फार्मूले पर कमलनाथ सरकार प्रदेश में काम कर रही है। यही कारण है कि लगातार प्रदेश में हिसंक घटनाएं हो रही हैं। उन्होंने कहा कि आज का प्रदर्शन कांग्रेस की सोई हुई सरकार को जगाने के लिए है।

यह हुए शामिल

इस अवसर पर महापौर आलोक शर्मा, सांसद आलोक संजर, जिला अध्यक्ष सुरेन्द्रनाथ सिंह, विकास विरानी, अशोक सैनी,राजेन्द्र गुप्ता, सुमित रघुवंशी, सविता यादव, नितीन दुबे, राधे महाराज, प्रमोद राजपूत सहित सैकड़ों की संख्या में कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन में भाग लिया।

Facebook Comments

इसी तरह के समाचार सबसे पहले पाने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज। साथ ही ट्विटर, इंस्ग्राटाम और गूगल न्यूज पर फॉलो करें। हमें लेख या प्रेस विज्ञप्ति भेजने के लिए editor.newbuzzindia@gmail.com पर इमेल करें।

हमसे जुड़ें

37,495FansLike
1,189FollowersFollow
11,454FollowersFollow
767FollowersFollow
15SubscribersSubscribe

ताजा समाचार

उमा भारती का सरकार से सवाल, महाकाल परिसर तक कैसे पहुंचा विकास दुबे ?

मध्य प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने विकास दुबे के मामले में...

कानपुर के जघन्य हत्याकांड में यूपी सरकार पूरी तरह फेल साबित हुई: प्रियंका गांधी

यूपी का मोस्ट वांटेड गैंगस्टर और कानपुर में आठ पुलिस जवानों की हत्या के आरोपी विकास दुबे को गुरुवार की सुबह मध्य...

लेह में भारतीय सेना प्रधानमंत्री मोदी को संबोधन, पढ़ें संबोधन का मूल पाठ

भारत माता की – जय भारत माता की – जय साथियों, आपका ये हौसला, आपका शौर्य,...

भारत के दुश्मनों ने हमारी सेना की शक्ति और उसकी प्रचंडता देखी है: प्रधानमंत्री

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज भारतीय जवानों के साथ बातचीत करने के लिए लद्दाख में निमू की यात्रा की। लद्दाख में निमू...

रायगढ़ के फोर्टिस-ओपी जिन्दल अस्पताल का विस्तार, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने किया शिलान्यास

छत्तीसगढ़ की औद्योगिक राजधानी रायगढ़ के फोर्टिस ओपी जिन्दल अस्पताल के विस्तार का आगाज हो गया। इसमें अतिरिक्त 85 बेड की व्यवस्था...
Facebook Comments
Skip to toolbar