fbpx
Monday, May 10, 2021

West Bengal Election:जहां राहुल गांधी ने की रैली, वह सीटें भी नहीं बचा पाई कांग्रेस, हुई जमानत जब्त

पश्चिम बंगाल चुनाव में कांग्रेस पार्टी ने इतिहास की सबसे बुरी हार का सामना किया है यहां पर कांग्रेस को एक भी सीट पर सफलता हासिल नहीं हुई है। कई सीटर तो ऐसी है जहां पर कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष और सांसद राहुल गांधी ने रैली की थी वहां पर कांग्रेस उम्मीदवार अपनी जमानत भी नहीं बचा पाए।

इस बार के पश्चिम बंगाल चुनाव में भले ही सीधी लड़ाई भारतीय जनता पार्टी और तृणमूल कांग्रेस के बीच सिमट कर रह गई हो लेकिन तीसरे मोर्चे के तौर पर कांग्रेस और लेफ्ट ने गठबंधन जरूर किया लेकिन एक भी सीट पर सफलता हासिल नहीं कर पाए।

कांग्रेस और लेफ्ट गठबंधन के कई उम्मीदवारों का हाल तो इतना भी बुरा था कि जहां पर राहुल गांधी ने रैलियां की वहां पर उम्मीदवार अपनी जमानत तक नहीं बचा पाए कांग्रेस लिफ्ट गठबंधन के 85% उम्मीदवारों की जमानत तक जब्त हुई है।

आजादी के बाद बंगाल में यह पहला मौका है जब बंगाल की सत्ता में लगभग 60 साल तक सत्तासीन रहे लेफ्ट और कांग्रेस पार्टी को एक भी सीट नहीं मिली इस बार बंगाल में 292 सीटों पर चुनाव हुए थे 2 सीटों पर उम्मीदवारों की निधन के कारण चुनाव रद्द हो गए थे 292 सीटों में ममता बनर्जी की पार्टी को 213 सीटें तो भाजपा को 77 मिली हैं वही एक सीट निर्दलीय उम्मीदवार को तो एक सीट राष्ट्रीय सेक्युलर मजलिस पार्टी को मिली है।

आपको बता दें कि बंगाल की 292 सीटों पर हुए चुनाव में तीसरे मोर्चे यानी लेफ्ट और कांग्रेस के 49 उम्मीदवार ही अपनी जमानत बचा पाने में सफल हुए हैं बाकी 85% उम्मीदवार तो जमानत भी नहीं बचा पाए।

जहां राहुल ने की रैली वही जमानत जप्त

कांग्रेस वाले गठबंधन के उम्मीदवारों के लिए राहुल गांधी ने मटियारा नक्सलवाड़ी और गोलपोखर में सभाएं की थी जहां उम्मीदवारों को करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा और दोनों उम्मीदवारों की जमानत जप्त हो गई। आपकी जानकारी के लिए बता दें मटियारा नक्सलवाड़ी एक दशक से कांग्रेस का गढ़ रहा है जहां पर मौजूदा विधायक शंकर मालाकार इस बार तीसरे नंबर पर आए हैं।

ताजा समाचार

Related Articles