fbpx
Thursday, April 15, 2021

जेएनयू में एबीवीपी की गुंडागर्दी, कमरें में घुसकर 16 लोगों ने की छात्र की पिटाई

दिल्ली में जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में छात्रों के साथ हिंसा का एक और मामला सामने आया है। ऑल इंडिया स्टूडेंट्स एसोसिएसन (AISA) के राष्ट्रीय अध्यक्ष एन साई बालाजी ने ट्वीट कर एबीवीपी पर इस हिसां का आरोप लगाते हुए इस घटना की जानकारी दी है।


बालाजी ने ट्वीट कर बताया कि जेएनयू के एक छात्र विवेक के कमरे में एबीवीपी के 16 लोग घुस गए और उसपर लोहे के डंड़े और रॉड से हमला किया। बालाजी ने आगे बताया कि विवेक को बचाने आई जेएनयूएसयू की महिला पार्षद के साथ भी बदतमीजी की गई।


एन साई बालाजी ने ट्वीट में लिखा, “एबीपीवी के 16 गुंडों ने कमरे में घुसकर जेएनयू के एक छात्र विवेक पर लोहे के कड़े और रॉड से हमला किया। उन्होंने विवेक की सहायता के लिए आईं जेएनयूएसयू की महिला पार्षद के साथ भी दुर्व्यवहार किया। ये वे गुंडे हैं जिन्होंने 5 जनवरी को छात्रों और शिक्षकों पर हमला किया था। दिल्ली पुलिस उन्हें आज तक गिरफ्तार नहीं किया। देखो उन्होंने क्या किया है।”



बताया जा रहा है कि हमले में विवेक के चहरे पर गंभीर चोटें आयी हैं। इसके अलावा हमलावरों ने उनके सिर पर कड़े से प्रहार किया। घायल छात्र विवेक का कहना है कि जब वह सोने की तैयारी कर रहा था तभी कोई कमरे के बाहर कोई आया और दरवाजा खोलने के लिए कहा। दरवाजा खोलने के बाद सभी अंदर आ गए। उनमें से एक ने कहा कि तुम विवेक हो और तुमने मेरी शिकायत की है। इस पर विवेक ने पूछा कि कैसी शिकायत। मैंने तो कोई शिकायत नहीं की है। इसी बात पर उसने विवेक के गाल पर तमाचा जड़ते हुए कहा कि नेता बनते हो और उस पर हमला कर दिया। घटना के बाद विवेक को हेल्थ सेंटर ले जाया गया जहां उनका प्राथमिक इलाज हुआ।


जेएनयूएसयू के पूर्व अध्यक्ष एन साई बालाजी ने कहा हा कि एबीवीपी के गुंडों ने छात्र को जान से मारने की कोशिश की है और यह साफ-साफ हत्या का प्रयास है। उन्होंने सवालिया अंदाज में पूछा कि क्या कोई कानून अभी बचा भी है? उन्होंने कहा कि 5 जनवरी को हुए एबीवीपी के हमले को 8 महीने हो जाएंगे। और अब उसके बाद यह घटना घटी है।


उन्होंने एक ट्वीट में दिल्ली पुलिस के कमिश्नर को टैग करते हुए पूछा है कि क्या इनके खिलाफ कार्रवाई होगी या फिर छात्रों को गुंडों के हाथ मरने के लिए छोड़ दिया जाएगा? उन्होंने कहा कि यह बीजेपी-आरएसएस का न्यू इंडिया है। जो न केवल परेशान करने वाला है बल्कि बेहद उत्पीड़नकारी भी है।

ताजा समाचार

मध्यप्रदेश के बाद यूपी, गुजरात और हरियाणा बोर्ड परीक्षाएं भी टलीं, पंजाब में 10वीं तक के स्टूडेंट्स को प्रमोट करने का फैसला

CBSE के बाद मध्यप्रदेश,उत्तर प्रदेश, गुजरात और हरियाणा बोर्ड की 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं भी टाल दी गई हैं। उत्तर प्रदेश में अब...

मध्यप्रदेश से राज्यसभा सांसद ने लगाया सरकार पर गंभीर आरोप, प्रधानमंत्री को लिखा पत्र

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह(digvijay singh) ने प्रधानमंत्री(prime minister) नरेंद्र मोदी(narendra modi) को देशभर में हो रहे जानलेवा कोरोना वायरस संक्रमण...

सुखद खबर: हेलीकॉप्टर द्वारा इंदौर से भोपाल भेजे गए 2 हजार 16 रेमडेसिविर इंजेक्शन बाकी अन्य संभाग भेजेगी सरकार

मध्यप्रदेश में लगातार बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच मध्य प्रदेश सरकार की पहल पर एक सुखद खबर आई है खबर है कि इंदौर से...

Related Articles

कोरोना का कहर जारी, 24 घंटे में आए रिकॉर्ड 1,68,912 नए मामले

देश में कोरोना के मामले रिकॉर्ड तेजी से बड़ रहे है। पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के 1,68,912 नए मामले आने के बाद...

बजट पर बोले कमलनाथ- आमजन के लिए निराशा के अलावा और कुछ नहीं

कांग्रेस नेता कमलनाथ ने कहा कि मेक इन इंडिया,डिजिटल इंडिया के पुराने नारों की तरह अब आत्मनिर्भर के नए नारे के साथ आंकड़ों की...

बंगाल विधानसभा चुनाव: साथ लड़ेंगे कांग्रेस- लेफ्ट, सीटों को हुआ बटवारा

बंगाल में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए हलचल शुरू हो गई है। कांग्रेस और लेफ्ट पार्टियों में गठबंधन को लेकर चल रही चर्चाओं...