Monday, August 2, 2021

SBI ने ATM से पैसे निकालने के नियम बदले, ट्रांजैक्शन फेल होने पर लगेगा जुर्माना

भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने अपने ग्राहकों के लिए ATM से कैश निकालने के नियमों में कुछ बदलाव किए हैं। 1 जुलाई 2020 से नए नियमों को जारी किया गया है जिनका पालन न करने पर खाताधारकों को जुर्माना लग सकता है। मेट्रो शहरों में SBI के नियमित बचत खाताधारकों (Saving Account Holders) को ATM से ट्रांजैक्शन फेल होने पर 20 रुपये का जुर्माना जीएसटी समेत देना होगा।

भारतीय स्टेट बैंक (SBI) की आधिकारिक वेबसाइट sbi।co।in पर मौजूद जानकारी के मुताबिक SBI ग्राहक एक महीने में ATM से 8 बार फ्री लेनदेन कर सकते हैं। मुफ्त ट्रांजैक्शन की लिमिट पूरी हो जाने पर खाताधारकों से प्रत्येक ट्रांजैक्शन पर चार्ज लिया जाता है। मेट्रो शहरों में एक महीने में SBI अपने नियमित बचत खाताधारकों को एसबीआई ATM से 5 और किसी अन्य बैंक के ATM से 3 मुफ्त लेनदेन की अनुमति देता है।जबकि गैर-मेट्रो शहरों में 10 मुफ्त ATM लेनदेन की मंजूरी है जिसमें 5 एसबीआई ATM से और 5 अन्य बैंकों के ATM से किए जा सकते हैं। वहीं जिन ग्राहकों के बैंक खाते में 1 लाख रुपये से ज्यादा का औसत मासिक बैलेंस रहता है उन्हें स्टेट बैंक ग्रुप (SBG) और अन्य बैंकों के ATM में असीमित ट्रांजेक्शन की सुविधा होती है।

ATM ट्रांजैक्शन फेल होने पर जुर्माना

कई दफे होता है कि अकाउंट में पर्याप्त पैसा न होने के बावजूद ATM से कैश निकालते समय ज्यादा रकम की मांग कर दी जाती है। जबकि खाते में पर्याप्त बैलेंस न होने की वजह से ट्रांजैक्शन फेल हो जाता है। ऐसे में अब कृपया ये ध्यान दें कि पैसा न निकलने पर भी आपकी जेब कटेगी। SBI अपने ग्राहकों से 20 रुपये फीस और साथ में जीएसटी वसूलेगा।

ATM से नकद निकालने के लिए OTP जरूरी अब

ATM से 10 हज़ार से ज्यादा कैश निकालने के नियमों में भी भारतीय स्टेट बैंक ने बदलाव किया है। एसबीआई ATM से 10 हज़ार से ज्यादा रकम निकालने के लिए अब आपको वन टाइम ट्रांजैक्शन के लिए OTP की जरुरत पड़ेगी।1 जनवरी 2020 से शुरू हुई नई सुविधा के तहत बिना OTP डाले रकम नहीं निकाली जा सकेगी। ये OTP आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर में आएगा। एसबीआई के खाताधारकों को एसबीआई के ATM से रात 8 बजे से सुबह के 8 बजे तक पैसा निकालने के लिए ओटीपी जरूरी होगा। लेकिन ये सुविधा सिर्फ एसबीआई ATM पर ही मिलेगी। वहीं एसबीआई खाताधारक अगर किसी दूसरे एटीएम से नकद निकासी करते हैं तो उन्हें किसी ओटीपी की जरूरत नहीं पड़ेगी।

साफ है कि OTP के नियम का एसबीआई के खाताधारकों को सिर्फ एसबीआई के ही ATM पर पालन करना होगा। ये सुविधा एसबीआई के खाताधारकों के पैसों की सुरक्षा को लेकर शुरू की गई है। मेट्रो शहरों में रात में बढ़ते अपराधों को देखते हुए बैंक ने इस तरह का नियम बनाया है ताकि अगर किसी का डेबिड कार्ड गलत हाथों में पड़ गया हो तो उसकी जानकारी मिल सके।

ताजा समाचार

Related Articles