congress general secretory priyanka gandhi while protesting on sonbhadra voilence in uttar pradesh

सोनभद्र हिंसा के बाद जिस तरह प्रियंका गाँधी ने राज्य सरकार से लोहा लिया और पीड़ितों से मिलने के लिए धरने पर बैठ गयी और आखिर में जिस सरकार और प्रशासन को झुकाकर उन्होंने पीड़ितों से मुलाकात की उससे कांग्रेस कार्यकर्ताओं में एक बार फिर उर्जा का संचार हुआ हैं। उत्तरप्रदेश के साथ ही पूरे देश में अब प्रियंका गाँधी को कांग्रेस पार्टी का नेतृत्व सौंपने की मांग उठ गयी है।

कई छोटे-बड़े नेताओं के बाद अब कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व विदेश मंत्री नटवर सिंह ने सोनभद्र मामले में प्रियंका के फैसले का ज़िक्र करते हुए कहा कि “वह पार्टी को संभालने में सक्षम हैं। आपने देखा होगा कि उन्होंने उत्तरप्रदेश में क्या किया।, वह सोनभद्र मामले को लेकर वहां टिकी रहीं और जो चाहती थीं उसे हासिल कर लिया”

नटवर सिंह ने आगे राहुल गाँधी के फैसले पर सवाल उठाते हुए कहा कि “राहुल को अपने इस फैसले को बदलना होगा कि कांग्रेस का नेतृत्व गांधी परिवार के बाहर का कोई शख्स करे। गाँधी परिवार को अब यह फैसला उलटना होगा कि कांग्रेस का नेतृत्व कोई गैर गांधी करे। सिंह ने आगे कहा कि अगर गाँधी के बाहर का कोई शख्स अगर कांग्रेस का नेतृत्व करता है तो 24 घंटे के भीतर कांग्रेस बिखर जाएगी।

प्रियंका जहां एक ओर अपना पूरा ध्यान उत्तरप्रदेश विधानसभा चुनाव पर लगा रखी है तो वहीं राहुल गाँधी ने राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से इस्तीफ़ा देते समय ही साफ़ कर दिया था कांग्रेस पार्टी का अगला अध्यक्ष गाँधी परिवार से नही होगा।

Loading...

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.