fbpx
Wednesday, September 30, 2020

महाराष्ट्र: कांग्रेस और एनसीपी के बाच गठबंधन का फॉर्मुला तय, जानें किसको मिला कितनी सीटें

जेएनयू में एबीवीपी की गुंडागर्दी, कमरें में घुसकर 16 लोगों ने की छात्र की पिटाई

दिल्ली में जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में छात्रों के साथ हिंसा का एक और मामला सामने आया है। ऑल...

एक साल में 42480 किसानों ने की आत्हत्या, मीडिया और सरकार खामोश

एनसीआरबी (नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो) के ताज़ा आंकड़ों के मुताबिक, साल 2019 में 42480 किसानों -मजदूरों को आत्महत्या...

SBI ने ATM से पैसे निकालने के नियम बदले, ट्रांजैक्शन फेल होने पर लगेगा जुर्माना

भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने अपने ग्राहकों के लिए ATM से कैश निकालने के नियमों में कुछ बदलाव किए हैं। 1 जुलाई...

राजस्थान: अशोक गहलोत के नेतृत्व में कांग्रेस सरकार को विधानसभा में मिला विश्वासमत

लगभग 1 महीने चले राजनैतिक ड्रामे के बाद आज हुई हुए विधानसभा सत्र में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में कांग्रेस ने...

कोर्ट की अवमानना के मामले में प्रशांत भूषण दोषी करार, 20 को सजा पर फैसला करेगा सुप्रीम कोर्ट

अदालत की अवमानना मामले में आज सुप्रीम कोर्ट ने सीनियर वकील प्रशांत भूषण को दोषी करार दिया है।...

उत्तर प्रदेश के बाद देश में सबसे ज्यादा लोकसभा सीटों वाले राज्य महाराष्ट्र से कांग्रेस के किए खुशखबरी आ रही है । सूत्रों ते अनुसार महाराष्ट्र में कांग्रेस और एनसीपी के बीच गठबंधन का फॉर्मुला तय हो गया है। सूत्रों से मिली खबर के अनुसार कांग्रेस ने अपने पास 26 सीटें बरकरार रखी हैं, वहीं एनसीपी को 22 सीटें दी गई है। इसके साथ ही बताया गया कि गठबंधन में शामिल छोटी पार्टियों को कितनी सीटें दी जाएंगी समेत अन्य मुद्दों का जल्द ही समाधान निकला जाएगा। महाराष्ट्र में यूपी के बाद देश में सबसे ज्यादा 48 लोकसभा सीटें हैं। साल 2014 के लोकसभा चुनाव में इनमें से 41 पर एनडीए ने जीत दर्ज की थी, वहीं कांग्रेस-एनसीपी गठबंधन को केवल छह सीटें मिली थीं।


ज्ञात हो कि पिछले महीने एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार ने कहा था कि आगामी लोकसभा में भाजपा के खिलाफ महाराष्ट्र में महागठबंधन के लिए कोशिश जारी हैं। उन्होंने कहा था, ‘हम आरएसएस से लगातार लड़ाई लड़ते रहेंगे। हम उनकी विचारधारा को नहीं मनाते, एक समान विचारधारा वाली पार्टियों को इससे लड़ने के लिए एक साथ आना चाहिए।’

महाराष्ट्र में लोकसभा चुनाव चार चरणों में होंगे। पहले चरण यानी 11 अप्रैल को विदर्भ क्षेत्र में मतदान होगा, जबकि मुंबई की सभी सीटों पर 29 अप्रैल को मतदान होगा। चुनाव आयोग ने रविवार को बताया कि आम चुनाव का कार्यक्रम सात चरणों में मुकम्मल होगा जिसका शंखनाद 11 अप्रैल से होगा। आयोग ने बताया कि पहले चरण का मतदान 11 अप्रैल, दूसरे का 18 अप्रैल, तीसरे का 23 अप्रैल, चौथे का 29 अप्रैल, पांचवें का छह मई, छठे का 12 मई और अंतिम यानी सातवें चरण का मतदान 19 मई को होगा। वहीं सभी चरणों के लिए मतगणना एक ही दिन 23 मई को होगी।

किस लोकसभा सीट पर कब होगी वोटिंग


महाराष्ट्र के विदर्भ क्षेत्र में आने वाली वर्धा, रामटेक, नागपुर, भंडारा गोंदिया, गढचिरौली-चिमौर, चंद्रपुर और यवतमाल-वाशिम सीटों पर 11 अप्रैल को मतदान होगा। वहीं बुलढाणा, अकोला, अमरावती,हिंगोली, नादेड़, परभणी, बीड, उस्मानाबाद, लातूर, सोलापुर सीटों पर दूसरे चरण यानी 18 अप्रैल को वोट डाले जाएंगे। इनमें से अधिकतर सीटें मराठवाड़ा क्षेत्र में पड़ती हैं। 23 अप्रैल को तीसरे चरण के तहत राज्य की कुल 14 लोकसभा सीटों पर वोट पड़ेंगे। इनमें जलगांव, रावेर, जलना, औरंगाबाद, रायगढ़, पुणे, बारामति, अहमदनगर, मढ़ा, सांगली, सतारा, रत्नागिरी-सिंधुदुर्ग, कोल्हापुर और हातकणंगले सीटें शामिल हैं। महाराष्ट्र में अंतिम चरण का मतदान 29 अप्रैल को होगा, जिसमें 17 सीटें आएंगी। इन लोकसभा सीटों में नंदुरबार, धुले, डिंडोरी, नासिक, पालघर, भिवंडी, कल्याण, ठाणे, मुंबई उत्तर, मुंबई उत्तर-पश्चिम, मुंबई उत्तर-मध्य, मुंबई दक्षिण-मध्य, मुंबई दक्षिण, मावल, शीरूर और शिरडी शामिल हैं।

महाराष्ट्र की इन लोकसभा सीटों पर होगी सबकी निगाहें


आम चुनाव में महाराष्ट्र की कम से कम तीन लोकसभा सीटों पर सबकी नजरें रहेंगी। इनमें से एक सीट पर राकांपा प्रमुख शरद पवार चुनाव लड़ेंगे। हालांकि, इससे पहले पवार ने चुनावी राजनीति से खुद को दूर रखने का फैसला किया था। चुनाव के दौरान मढ़ा, नागपुर तथा सोलापुर सीटों पर सभी की नजरें रहेंगी। शरद पवार के मढ़ा लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने की उम्मीद है। फिलहाल इस सीट से पार्टी नेता विजय सिंह मोहिते पाटिल सांसद हैं। पवार फिलहाल राज्यसभा के सदस्य हैं। इससे पहले उन्होंने चुनाव नहीं लड़ने का ऐलान किया था, लेकिन हाल ही में उन्होंने अपना फैसला बदल लिया।

वहीं, नागपुर सीट पर भी सभी की नजरें टिकी हैं, जहां से फिलहाल केंद्रीय परिवहन एवं जहाजरानी मंत्री नितिन गडकरी सांसद हैं। वह आगामी चुनाव में भी यहीं से चुनाव लड़ सकते हैं। भाजपा के पूर्व सांसद नाना पटोले इस सीट पर कांग्रेस के टिकट पर गडकरी के खिलाफ चुनाव लड़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

ताजा समाचार

जेएनयू में एबीवीपी की गुंडागर्दी, कमरें में घुसकर 16 लोगों ने की छात्र की पिटाई

दिल्ली में जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में छात्रों के साथ हिंसा का एक और मामला सामने आया है। ऑल...

एक साल में 42480 किसानों ने की आत्हत्या, मीडिया और सरकार खामोश

एनसीआरबी (नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो) के ताज़ा आंकड़ों के मुताबिक, साल 2019 में 42480 किसानों -मजदूरों को आत्महत्या...

SBI ने ATM से पैसे निकालने के नियम बदले, ट्रांजैक्शन फेल होने पर लगेगा जुर्माना

भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने अपने ग्राहकों के लिए ATM से कैश निकालने के नियमों में कुछ बदलाव किए हैं। 1 जुलाई...

Related Articles

जेएनयू में एबीवीपी की गुंडागर्दी, कमरें में घुसकर 16 लोगों ने की छात्र की पिटाई

दिल्ली में जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में छात्रों के साथ हिंसा का एक और मामला सामने आया है। ऑल...

एक साल में 42480 किसानों ने की आत्हत्या, मीडिया और सरकार खामोश

एनसीआरबी (नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो) के ताज़ा आंकड़ों के मुताबिक, साल 2019 में 42480 किसानों -मजदूरों को आत्महत्या...

SBI ने ATM से पैसे निकालने के नियम बदले, ट्रांजैक्शन फेल होने पर लगेगा जुर्माना

भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने अपने ग्राहकों के लिए ATM से कैश निकालने के नियमों में कुछ बदलाव किए हैं। 1 जुलाई...