सोशल मीडिया पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और भाजपा नेता नितिन गडकरी के ट्वीट्स काफी चर्चाओं में है। इन सब के बीच कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने तंज कसते हुए गडकरी की तारीफ की है तो वहीं गडकरी ने राहुल को जवाब देते हुए नसीहत दे दी है। उन्होंने कहा कि मेरी हिम्मत के लिए मुझे आपके सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं।


दरअसल केन्द्रीय मंत्री गडकरी ने रविवार को एबीवीपी कार्यकर्ताओं से कहा है कि मैं कई ऐसे लोगों से मिला हूं जो कहते हैं कि हम भाजपा और देश के लिए अपना जीवन समर्पित करना चाहते हैं। मैं ऐसे लोगों से कहता हूं कि आप क्या कर रहे हैं? और आपके परिवार में और कौन लोग हैं? केंद्रीय मंत्री ने कहा कि वह उनसे पहले अपने घर की देखभाल करने के लिए कहते हैं क्योंकि जो अपना घर नहीं संभाल सकता, वह देश भी नहीं संभाल सकता है।


गडकरी ने एबीवीपी कार्यकर्ताओं को नसीहत देते हुए कहा कि सबसे पहले अपना घर संभालें और अपने बच्चे और संपत्ति देखने के बाद ही पार्टी और देश के लिए काम करें। कुछ मुद्दों पर मतभेद होने के बावजूद पार्टी मुस्लिम समुदाय की प्रगति सुनिश्‍चित करने के लिए प्रतिबद्ध है। हालांकि जानकार मानते है कि गडकरी का यह बयान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के लिए था इसके पहले भी वह मोदी के खिलाफ परोक्ष रूप से बयान दे चुके है।

इस बयान पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर भाजपा सरकार के वरिष्ठ मंत्री नितिन गडकरी के बयान को लेकर पीएम मोदी पर तंज कसा। राहुल गांधी ने कहा कि गडकरी जी, भाजपा में एक आप ही हैं जिनमें बोलना की हिम्मत है। उन्होंने गडकरी से राफेल सौदे में घोटाले और अनिल अंबानी के अलावा किसानों की दुर्दशा व संस्थाओं को निशाना बनाने को लेकर भी बयान देने को कहा है।

इसे लेकर अब भाजपा नेता गडकरी ने राहुल गांधी पर पटलवार किया है। गडकरी ने ट्वीट्स की एक श्रंखला में कहा कि राहुल गांधी जी, मेरी हिम्मत के लिए मुझे आप के सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं है लेकिन आश्‍चर्य इस बात का है की एक राष्ट्रीय पार्टी के अध्यक्ष होने बाद भी हमारी सरकार पर हमला करने के लिए आपको मीडिया द्वारा ट्विस्ट किए गए खबरों का सहारा लेना पड़ रहा है।

गडकरी ने कहा कि यही मोदी जी और हमारे सरकार की कामयाबी है की आप को हमला करने के लिए कंधे ढूंढने पड़ रहे हैं। रही बात आपके उठाए गए मुद्दों की तो मैं डंके की चोट पर कहता हूं की राफेल में हमारी सरकार ने देश हित सामने रख कर सबसे पारदर्शक व्यवहार किया है।
इसी के साथ केंद्रीय मंत्री ने कांग्रेस पार्टी और उसकी नीतियों पर भी हमला बोला। उन्होंने कहा कि आपकी नीतियों ने किसानों को जिस बदतर स्थिति में खड़ा किया उससे उनको बाहर निकालने की ईमानदार कोशिश मोदीजी कर रहे हैं और हम इसमें कामयाब भी हो रहे है। आप समेत कुछ लोगों को मोदीजी का प्रधानमंत्री बनना सहन नहीं हो रहा इसलिए आपको असहिष्णुता व संवैधानिक संस्थाओं पर हमले का सपना आता है।

Loading...

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.