कमलनाथ सरकार में केबीनेट मंत्री पी.सी.शर्मा ने आज शासकीय कमला नेहरू उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में कुष्ठ रोग को जड़ से मिटाने के लिए विद्यार्थियों को संकल्प दिलाते हुए कहा कि कुष्ठ रोग भी अन्य बीमारियों की तरह ही है, जिसे उपचार द्वारा ठीक किया जा सकता है। यह छूआछूत या संक्रमण की बीमारी नहीं है। शर्मा ने इस अवसर पर छात्राओं को इस दिशा में उत्कृष्ट प्रयासों के लिये पुरस्कार भी वितरित किए।

राष्ट्रीय कुष्ठ उन्मूलन कार्यक्रम के अंतर्गत कुष्ठ जागरूकता अभियान का शुभारंभ करते हुए शर्मा ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने स्वयं कुष्ठ रोगियों की सेवा की थी। उन्होंने यह संदेश दिया था कि यह रोग किसी को स्पर्श करने से नहीं होता है। शर्मा ने गांधी जी की पुण्यतिथि पर उनका स्मरण करते हुए विद्यार्थियों से कहा कि दूसरों को सीख देने से पहले खुद को उस पर अमल करना चाहिए। यह गांधी जी के मूल सिद्धांतों में शामिल है। जनसम्पर्क मंत्री ने छात्राओं से लगन और समर्पण के साथ अपना कार्य करने का आव्हान किया।

कुष्ठ निवारण के लिए दिलाया संकल्प


मंत्री पीसी शर्मा ने कार्यक्रम में विद्यालय की छात्राओं को संकल्प दिलाया कि सभी कुष्ठ पीड़ित अथवा कुष्ठ मुक्त परिवार से समान व्यवहार रखेंगे। कुष्ठ रोगियों को सम्मान देंगे। उनके साथ किसी प्रकार का भेदभाव नहीं करेंगे। कुष्ठ रोगियों को उपचार दिलाने में सहयोग करेंगे। गांव, प्रदेश और देश को कुष्ठ मुक्त बनाने के लिए सतत् प्रत्यनशील रहेंगे। शर्मा ने स्वास्थ्य विभाग के साथ ही सभी को यह संकल्प भी दिलाया कि वे आगामी एक वर्ष में भोपाल में मौजूद सभी 220 कुष्ठ रोगियों को कुष्ठ मुक्त करेंगे।

स्पर्श अभियान का किया शुभारंभ


जनसम्पर्क मंत्री पीसी शर्मा ने विद्यालय में स्पर्श अभियान का भी शुभारंभ किया औऱ कुष्ठ रोगी जावेद और नफीस से हाथ मिलाते हुए संदेश दिया कि कुष्ठ रोगियों से हाथ मिलाने या उनके साथ रहने से सामान्य व्यक्ति को कुष्ठ रोग नहीं होता।

स्कूली विद्यार्थियों को ब्लैक बोर्ड और कुर्सियों की सौगात


कार्यक्रम के संयुक्त आयोजक भोपाल क्लासिक लायंस क्लब द्वारा छात्राओं को दो ब्लैक बोर्ड भेंट किए गए। कार्यक्रम में मौजूद मध्यप्रदेश तृतीय श्रेणी संघ के कार्यकारी अध्यक्ष प्रमोद तिवारी ने छात्राओं के लिए दो सौ कुर्सियां प्रदान करने की स्वीकृति दी।

Advertisements
Loading...

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.