fbpx
Wednesday, May 12, 2021

रूपये में गिरावट लगातार जारी, डॉलर के मुकाबले न्यूनतम स्तर तक पहुंचा

देश की तगातार कमजोर होती अर्थव्यवस्था में कोरोना वायरस के कारण और भारी गिरावट देखने को मिल रही है। रोजमर्रा की चीजें एक ओर महंगी हो रही है तो वहीं बड़ी-बड़ी कंपनियां बंद होने की कगार पर है। वैसे तो कोरोना वायरस के प्रकोप से पूरी दुनिया परेशान है लेकिन भारत पर इसका ज्यादा असर दिखाई दे रहा है। पहले से कमजोर अर्थव्यवसथा पर कोरोना से हुए लॉकडाउन के कारण भरतीय मुद्रा में भारी गिरावट देखने को मिली है।

Photo by Pixabay on Pexels.com


घरेलू शेयर बाजारों में कमजोरी के बीच बुधवार को रुपया 70 पैसे टूटकर 76.34 प्रति डॉलर के अपने अभी तक के सबसे निचले स्तर तक पहुंच गया है। इसका असर भारत में आयात होने वाली चीजों पर पड़ेगा। जिसमें मुख्य रूप से पेट्रोल-डीज़ल और बाहर से आने वाली दवाईयों पर होगा।

Photo by David McBee on Pexels.com

कारोबारियों के अनुसार कोरोना वायरस के देश दुनिया की अर्थव्यवस्था पर पड़ने वाले असर को लेकर निवेशकों की धारणा कमजोर बनी हुई है। एचडीएफसी सिक्योरिटीज के प्रमुख-परामर्श (पीसीजी) देवर्ष वकील ने कहा कि अन्य एशियाई मुद्राओं के रुख की वजह से अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपये में जोरदार गिरावट आई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

ताजा समाचार

Related Articles