fbpx
Monday, May 10, 2021

सोशल मीडिया के माध्यम से कोरोना ग्रसितों को मिला निशुल्क परामर्श, जानें मुख्य सवालों के जवाब

कोरोना पीड़ितों की मदद में लगी गैर सरकारी संस्था “उद्देश्य” ने एक फिर कोरोना महामारी से लड़ाई में अपना योगदान दिया है। संस्था ने जाने माने डॉक्टर रुचिर वार्ष्णेय के साथ मिलकर अपने फेसबुक पेज पर निशुल्क परामर्श का आयोजन किया। जिसके माध्यम से सैकड़ों रोगियों को कोरोना से लड़ाई में मददगार जानकारी प्राप्त हुई।

उद्देश्य युवा सामाजिक एवं जन कल्याण समिति द्वारा कोरोना महामारी में जो संक्रमित मरीज घरों में आइसोलेट है ओर जो मरीज कोरोना की वजह से किसी समस्या को लेकर डॉक्टरों से परामर्श नहीं ले पा रहे हैं उनके लिये संस्था के फेसबुक पेज NGO uddeshya yuva samajik evam jankalyan samity से लाइव कर नाक काल गला एवं एलर्जी विशेषज्ञ डॉक्टर रुचिर वार्ष्णेय से परामर्श करवाया

संस्था के समन्वयक भव्य सक्सेना ने बताया कि फेसबुक पर 100 से अधिक मरीजों ने डाॅ. रुचिर वार्ष्णेय से परामर्श के लिये चर्चा की जिसमें कई कोविड पाॅजिटीव मरीजों ने भी अपने उपचार ओर स्वास्थ्य को लेकर सवाल पूछे ओर सामान्य मरीजों ने भी अपने सवाल पूछे


जिसमें मुख्य सवाल ये सवाल थे -:


सवाल 1 – कोरोना होने पर हमें कौनसा टेस्ट करवाना है रैपिड एंटीजन या आरटी-PCR मे से कौनसा ज्यादा भरोसेमंद हैं ?
सवाल 2 – अगर कोविड पॉजिटिव मरीजों की बीपी शुगर की दवाई चल रही हो तो क्या लेना चाहिए ?
सवाल 3 – गले में खरास हो रही उसके लिये क्या उचित होगा ?
सवाल 4 – कोविड से रिकवर होने के कितने दिन बाद हम प्लाज्मा डोनेट कर सकते हैं ?
सवाल 5 – कोविड की वजह से शरीर में काफी ज्यादा कमजोरी आती है तो उसके लिये आहार ( Diet ) में क्या बदलाव करे ?

डाॅ. रुचिर वार्ष्णेय ने बताया कि अगर कोविड होता हैं तो घबराने की आवश्यकता नहीं आप को अगर कोई समस्या नहीं हो तो आप डॉक्टर की सलाह लेकर घर पर ही आइसोलेट होकर उपचार ले सकते हैं ओर किसी प्रकार की समस्या होने पर नजदीकी कोविड सेंटर पर दिखा सकते हैं

डॉ रुचिर ने कोरोना से बचाव के लिये कहा कि कोरोना वायरस नाक ओर मुँह के माध्यम से ही फैलता है इसलिये आप हमेशा मास्क को उपयोग करे ओर हमेशा नाक , मुंह को छूने से पहले हाथो को अच्छे तरीके से धोये या सैनिटाइज करें ओर अगर आवश्यक कार्य हो तो ही घर से निकले |

संस्था के संदीप राजपूत ने मरीजों को निशुल्क परामर्श और अपना अनुभव साझा करने के लिए डाॅक्टर रूचिर वार्ष्णेय का आभार व्यक्त किया |

ताजा समाचार

Related Articles