Saturday, July 24, 2021

हरियाणा: बदले समीकरण, जेजेपी के समर्थन से कांग्रेस बना सकती है सरकार

हरियाणा विधानसभा चुनाव में मतदान के पहले जहां सभी लोग भाजपा की जबरदस्त वापसी की उम्मीद कर रहे थे तो वहीं मतदान के बाद सभी समीकण बदले नजर आ रहे है। इंडिया टुडे और माय एक्सिस द्वारा जारी किये गए एक्सिट पोल में किसी भी पार्टी को बहुमत मिलता नजर नही आ रहा है। एक्जित पोल में कांग्रेस और भाजपा के बीच कांटे की टक्कर देखने को मिल रही है और जेजेपी किंगमेकर की भूमिका में नजर आ रही है। इंडिया टुडे-एक्सिस माई इंडिया एग्जिट पोल का ये अनुमान मंगलवार शाम को सामने आया।

हरियाणा की 90 विधानसभा सीटों में से बीजेपी को 32-44 के बीच सीट मिलने का अनुमान है जबकि कांग्रेस को फायदा होता दिख रहा है। एग्जिट पोल के मुताबिक राज्य में कांग्रेस को 30-42 सीटें और जेजेपी को 6-10 सीटें मिल सकती है। अगर एग्जिट पोल के आंकड़े हकीकत में तब्दील होते हैं तो हरियाणा में त्रिशंकु विधानसभा होगी और उम्मीद के मुकाबले जेजेपी के साथ मिलकर कांग्रेस सरकार बना सकती है।

वहीं इंडिया टुडे-एक्सिस माई इंडिया एग्जिट पोल के नतीजों पर दुष्यंत चौटाला ने कहा, ‘मैं पहले दिन से ही कह रहा हूं कि हरियाणा में JJP सरकार गठन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी। अगर त्रिशंकु विधानसभा होती है तो पार्टी नेतृत्व तय करेगा कि नतीजों के घोषित होने के बाद किसे समर्थन देना है।’

एग्जिट पोल के मुताबिक किसी भी पार्टी को बहुमत नहीं मिलने की स्थिति में 6-10 सीटें हासिल करती दिख रही जेजेपी किंगमेकर की भूमिका में आ सकती है। हिसार, रोहतक और करनाल में मजबूत पकड़ रखने के कारण चौटाला और जाट वोट जेजेपी की तरफ जाता दिख रहा है।

वोट शेयर के लिहाज से देखा जाए तो हरियाणा में बीजेपी को 33 फीसदी, कांग्रेस को 32 फीसदी और जेजेपी को 14 फीसदी वोट मिलते दिख रहे हैं। वहीं अन्य के खाते में 21 फीसदी वोट जाते दिख रहे हैं।

बता दें कि आजतक-एक्सिस माई इंडिया के एग्जिट पोल में 23,118 लोगों से बातचीत कर आंकड़े जुटाए गए हैं।

दीपेंदर हुड्डा ने फिर जताया सरकार बनाने का भरोसा

मतदान के 3 दिन पहले पूर्व सांसद और भूपेंदर हुड्डा के बेटे दीपेंदर हुड्डा ने ट्वीट करते हुए कहा था कि, “मेरे इस ट्वीट को सेव करना, हरियाणा खट्टर सरकार का घमण्ड तोड़ने जा रहा है।” वहीं मतदान के अगले दिन एक बार फिर दीपेंदर में अपनी बात दोहराते हुए कहा कि मेरे एक हफ़्ता पहले वाले इस ट्वीट को दुबारा सेव करना।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

ताजा समाचार

Related Articles