fbpx
शनिवार, जनवरी 16, 2021

राजस्थान विधानसभा उपचुनाव में कांग्रेस की बड़ी जीत, छुआ 100 का आंकड़ा

राजस्थान के रामगढ़ विधानसभा उपचुनाव में कांग्रेस की शाफिया जुबैर खां ने जोरदार प्रदर्शन करते हुए 12,228 वोटों से जीत हासिल कर ली है। इस जीत के साथ राजस्थान के विधानसभा में कांग्रेस के पास बहुमत के जादुई आंकड़े से महज एक सीट कम रह गई है। अभी तक कांग्रेस के पास 99 सीटें थीं जबकि सहयोगी आरएलडी के साथ एक सीट मिलाकर कांग्रेस ने यहां सरकार बनाई थी। इस जीत के बाद कांग्रेस के पास अब कांग्रेस के पास 100 सीटें हैं।
इस लिहाज से कांग्रेस के लिए रामगढ़ विधानसभा सीट शुरू से ही अहम मानी जा रही थी। यह जीत मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के लिए भी खास है। वह अपनी पहली परीक्षा में पास हो गए हैं। अशोक गहलोत ने जीत पर कहा, ‘मैं खुश हूं कि लोगों ने सोच-विचारकर कदम उठाया है। उन्होंने सही फैसला किया है। मैं उन्हें धन्यवाद देता हूं और उनके प्रति आभार व्यक्त करता हूं। उन्होंने ऐसे समय में संदेश दिया है जब इसकी जरूरत थी। यह पार्टी को लोकसभा चुनाव के लिए प्रोत्साहित करेगा।’


इस सीट पर विधानसभा चुनाव के पहले बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) के उम्मीदवार प्रत्याशी लक्ष्मण सिंह के निधन के कारण चुनाव स्थगित कर दिए गए थे। रामगढ़ में कांग्रेस ने शाफिया जुबैर खां पर भरोसा जताया था, वहीं बीजेपी ने सुखवंत सिंह और बीएसपी ने जगत सिंह को मैदान में उतारा था। रामगढ़ में दूसरे नंबर पर बीजेपी रही। सुखवंत सिंह को 71,083 वोट मिले। लोकसभा चुनाव से पहले हुए इस आखिरी उपचुनाव को काफी अहम माना जा रहा था क्योंकि पिछले लोकसभा चुनाव में राजस्थान में बीजेपी को क्लीन स्वीप मिली थी।

10 बार कांग्रेस यहां से जीत चुकी है


कांग्रेस का मानना है कि इस मामले में बीजेपी और उसके स्थानीय नेता ज्ञानदेव आहूजा की काफी किरकरी हुई थी जो बीजेपी की हार की मुख्य वजह रही। जीत के बाद कांग्रेस की प्रत्याशी शाफिया खां ने मीडिया से कहा कि ध्रुवीकरण की राजनीति के चलते ही बीजेपी को यहां हार मिली है। उन्होंने कहा कि रकबर खान की हत्या के मामले में रामगढ़ को काफी बदनाम किया गया था। उन्होंने कहा, ‘लोगों को पता है कि हम काम करने में यकीन करते हैं।’

बीएसपी ने लगाई वोटों में सेंध


रामगढ़ में इस बार कांग्रेस, बीजेपी के साथ बीएसपी के प्रत्याशी के बीच भी मुकाबला था। बीएसपी के वजह से कांग्रेस को कुछ वोटों का नुकसान भी उठाना पड़ा। कांग्रेस का मानना है कि उनका वोटबैंक दलित भी है इस वजह से बीएसपी ने उनके वोटों पर सेंध लगाने का काम किया है वरना जीत का आंकड़ा और अधिक होता।

कांग्रेस का हौसला बुलंद


रामगढ़ में पलड़ा कांग्रेस का ही भारी रहा है। यहां अब तक 14 विधानसभा चुनावों में 10 बार कांग्रेस और 4 बार बीजेपी जीती है। बीजेपी के ज्ञानदेव आहूजा यहां से तीन बार विधायक रह चुके हैं। वहीं शाफिया के पति जुबैर खां भी इस सीट से 3 बार विधायक रह चुके हैं। रामगढ़ की इस जीत से अब आने वाले लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस का हौसला और मजबूत हो गया है। अब कांग्रेस की निगाहें राज्य की 25 लोकसभा सीटों पर है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

ताजा समाचार

नारायण त्रिपाठी से खफा हुए भाजपा प्रदेशाध्यक्ष,इस मुद्दे पर लगाएंगे क्लास

भोपाल:- अपनी बेबाकी के लिए पहचाने जाने वाले मैहर विधानसभा के भाजपा विधायक नारायण त्रिपाठी से भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बीडी शर्मा रुष्ट दिखाई दे...

वैक्सीनेशन लॉन्चिंग में भावुक हुए पीएम, बोले कई हेल्थ वर्कर लौटकर घर नहीं आए उसी का कर्ज उतार रहे हैं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कोरोना वैक्सीनेशन की लॉन्चिंग के दौरान भावुक हो गए भावुक होते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि कई हेल्थ वर्कर इस भयंकर...

मध्यप्रदेश में शुरू हुआ कोरोना का टीकाकरण, भोपाल के हरिदेव को लगने जा रहा है पहला टीका

कोरोना(Corona) के खिलाफ टीकाकरण(Vaccination) अभियान की शुरुआत पूरे देश भर मे शुरू हो चुका है। आज मध्य प्रदेश(Madhya Pradesh) में कुल 150 सेंटर(150 Centre's)...

Related Articles

शिवराज सिंह अच्छे कलाकार है उन्हें मुंबई जाकर प्रदेश का नाम रोशन करना चाहिए-कमलनाथ

कृषि कानूनों को लेकर दिल्ली और भोपाल में जारी कांग्रेस के प्रदर्शनों के बीच मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज...

मोदी सरकार की किसानों के साथ 10वीं बैठक भी रही बेनतीजा, कृषि मंत्री बोले कुछ तो आप भी…

दिल्ली:- कृषि कानूनों पर बढ़ते गतिरोध के बीच आज केंद्र सरकार ने किसानों के साथ रश्मि बैठक की यह बैठक भी पिछली 9 बैठकों...

Separate budget for children in Chhattisgarh

Raipur: The state government has planned to brought child budget for the first time. The chief minister Bhupesh Baghel is going to have meeting...