fbpx
Wednesday, May 12, 2021

3 मई तक बड़ा लॉकडाउन, रेलवे और फ्लाइट्स का इंतजार कर रहे लोगों के लिए बड़ा ऐलान

कोरोनावायरस महामारी से लोगों को बचाने के लिए केंद्र सरकार की उर से प्रधानमंत्री मोदी ने आज लॉकडाउन को आगे बढ़ाने का ऐलान किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र के नाम संबोधन के दौरान लॉकडाउन को 3 मई तक बढ़ाने की जानकारी दी है। इसी के मद्देनजर, सरकार ने घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय फ्लाइट साथ ही रेल परिचालन को 3 मई तक रद्द करने का फैसला लिया है।

नागरिक उड्डयन मंत्रालय की ओर से जारी बयान के मुताबिक सभी उड़ानें 3 मई रात 11:59 बजे तक रद्द की जाती है। लॉकडाउन खत्म होने के बाद हवाई यात्रा करने वाले लोगों को कई नए नियमों का पालन करना होगा। सेंट्रल इंडस्ट्रियल सिक्योरिटी फोर्स (सीआईएसएफ) ने कुछ नए नियम बनाए हैं। यात्रा से पहले एयरपोर्ट पर सभी पैसेंजर्स की रिपोर्टिंग टाइम 120 मिनट तक बढ़ सकता है। सभी यात्रियों की रिपोर्टिंग के दौरान इस बात को सुनिश्चित किया जाएगा कि सोशल डिस्टेंसिंग को ध्यान में रखते हुए हर चैनल पर यात्रियों की चेकिंग पूरी की जा सके। पैसेंजर्स के लिए निर्देश जारी किया जा सकता है कि यात्रा के दौरान वो व्यक्तिगत सुरक्षा को पूरा खयाल रखें। उनके पास जरूरी प्रोटेक्टिव गियर उपलब्ध हो।

रद्द की ये सभी ट्रेनें


रेलवे के इस अधिकारी ने कहा कि हमने लॉकडाउन की अवधि में हुए विस्तार को देखते हुए यह निर्णय लिया है कि जल्द ही इस बारे में और अपडेट उपलब्ध कराए जाएंगे। बता दें कि इसके पहले सभी पैसेंजर सेवाएं 14 अप्रैल की मध्यरात्रि तक के लिए स्थगित कर दी गई थी। बता दें कि इससे पहले सरकार ने प्रीमियम ट्रेन, मेल/एक्सप्रेस ट्रेन, पैसेंजर ट्रेन, सबर्बन ट्रेन, कोलकाता मेट्रो रेल और कोंकण रेलवे आदि को 3 मई तक के लिए निलंबित करने का फैसला किया है। इसके साथ ही आगे कोई भी टिकट बुकिंग नहीं होगी।

तीन मई तक बढ़ा लॉकडाउन


कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए लागू देशव्यापी लॉकडाउन को 3 मई तक बढ़ा दिया गया है। मंगलवार को घोषणा करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि संक्रमण पर रोक लगाने में लॉकडाउन के प्रभावी नतीजे मिले हैं। प्रधानमंत्री ने करीब 25 मिनट के राष्ट्र के नाम संबोधन में कहा कि दूसरे चरण में लॉकडाउन का सख्ती से पालन सुनिश्चित किया जायेगा और बुधवार को इस संबंध में विस्तृत दिशानिर्देश जारी किए जाएंगे ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि यह नये क्षेत्रों में न फैले।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

ताजा समाचार

Related Articles