Saturday, October 23, 2021

खुलासा: बीजेपी आईटी सेल में काम कर चुका यह कंप्यूटर इंजीनियर है ईवीएम हैकिंग का मास्टर माइंड !

उत्तरप्रदेश नगरीय निकाय चुनाव के दौरान ईवीएम गड़बड़ी की कई खबरें सामने आई है। इसी बीच शिमला पुलिस ने सचिन राठौर नाम के एक व्यक्ति को पकड़ा है। सचिन राठौर का दावा है कि वह भारत में इस्तेमाल की जाने वाली ईवीएम को आसानी से हैक करके किसी भी उम्मीदवार को जिता सकता है।

हिमाचल प्रदेश चुनाव में किया था नेताओं से संपर्क।
आरोपी सचिन राठौर ने हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव के दौरान कई नेताओं से संपर्क करके यह दावा किया था कि वह ईवीएम हैक कर सकता है। आरोपी ने चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशियों से उनको जिताने के लिए 10 लाख रुपये की मांग की थी। जिसके बाद कुछ नेताओं ने इसकी शिकायत चुनाव आयोग से की थी। जिसके बाद शिमला पुलिस से इस व्यक्ति के खिलाफ एफआईआर दर्ज की।

एफआईआर दर्ज करने के बाद शिमला पुलिस ने एक टीम का गठन किया और आरोपी सचिन राठौर को महाराष्ट्र के नांदेड़ जेल के किंवट से गरफ्तार किया। जिसके बाद आरोपी को शिमला के जिला एवं सत्र न्यायाधीश के आवास पर पेश किया गया है।

 

पुलिस से दर्ज किया देशद्रोह का मामला।

पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धारा 502(2) के तहत गलत जानकारी देने और 1424(ए) के तहत देशद्रोह का मामला दर्ज किया है। पुलिस ने बताया की आरोपी सचिन राठौर ने हिमाचल के करीब 30 नेताओं को मैसेज भेजकर संपर्क किया था। अब यह जानना बाकी है कि कितने नेता आरोपी की बातों में आए और कितने नही आए।

भाजपा आईटी सेल में काम करने का दावा। 

हिंदी न्यूज़ वेबसाइट newshindi के अनुसार आरोपी सचिन राठौर कंप्यूटर इंजीनियर है और बीजेपी आईटी सेल में काम करता था। अब देखना दिलचस्प होगा कि पुलिस इस मामले की कितनी गहराई से छानबीन करती है और यह मामला क्या मोड़ लेता है।

ताजा समाचार

Related Articles