यह दो सवाल आज सुबह-सुबह मेरे दिमाग में घर कर गए है . दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र में क्या ईवीएम से छेड़छाड़ की जा रही है ? अगर ऐसा है तो हमारा देश किस तरफ जा रहा है ? 

लेकिन अगर ऐसा नही है तो यह उससे भी बुरा है . क्योंकि तमपेरिंग ईवीएम से नही बल्कि देश वोटरों के दिमाग से की जा रही है . एक और बाद सवाल यह उठ रहा है कि आज का वोटर किन मुद्दों को देखकर वोट कर रहा है ? आज का वोटर वोट नही कर रहा है . आज का वोटर फ़िल्म रिव्यु कर रहा है . सभी नेता अपनी फिल्म हिट करने में लगे है .

Loading...

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.