fbpx
शनिवार, फ़रवरी 27, 2021

ओवैसी का भाजपा से सवाल, “मुज़फ्फरनगर दंगे के बाद 50,000 मुसलमानों ने किया पलायन, कौन है ज़िम्मेदार?”

NewBuzzIndia:

कैराना पलायन मामले से उत्तर प्रदेश राजनीति ही नहीं राष्ट्रीय राजनीति में एक हलचल पैदा हो गया है। हुकुम सिंह ने जब अपना ‘हुकुम का इक्का’ फेंका तो उन्हें भी अंदाज़ा नहीं रहा होगा की उनके इस कदम से प्रदेश की सियासत किस तरह से प्रभावित होगी।

साल 2013 के मुजफ्फरनगर दंगों के बाद 50,000 मुसलमानों के पलायन करने का दावा करते हुए एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने शनिवार (18 जून) को भाजपा से कहा कि क्या वह वहां एक तथ्यान्वेषी टीम भेजेगी, जैसा कि इसने हिंदुओं के कथित पलायन के मुद्दे पर कैराना भेजी है। हैदराबाद से लोक सभा सदस्य ने उत्तर प्रदेश के कैराना से कथित तौर पर पलायन करने वाले 346 परिवारों की सूची को ‘फर्जी’ बताया है। उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर नाटक करना भाजपा और सपा दोनों के हितों के अनुकूल बैठता है।
ओवैसी ने दावा किया कि मुजफ्फरनगर दंगों के बाद 50,000 से अधिक लोगों ने अपना मूल स्थान छोड़ दिया जहां वे पीढ़ियों से रहते आ रहे थे। उन्होंने इसे देश की आजादी के बाद अल्पसंख्यकों को सामूहिक रूप से हटाने का कार्य बताया। उन्होंने कहा, ‘क्या भाजपा एक तथ्यान्वेषी टीम भेजेगी ? (मुजफ्फरनगर दंगों के बाद) विस्थापित हुए 50,000 लोगों के साथ क्या हुआ उसका पता लगाने के लिए क्या भाजपा कोई समय निकालेगी?’

कैराना मामले पर योगी आदित्यनाथ ने उगला ज़हर, पढ़ें पूरी खबर

ओवैसी ने दावा किया कि मूल रूप से उसके (भाजपा) पास कोई और मुद्दा नहीं है और यह (कैराना मुद्दा) भाजपा का असली चेहरा उजागर करता है जो सबका साथ सबका विकास की बात करती है। उन्होंने कहा कि यह भाजपा और सपा दोनों के लिए उपयुक्त बैठता है, भाजपा बहुसंख्यक समुदाय के बीच डर की भावना पैदा करना चाहती है। सपा मुसलमानों को यह संदेश देना चाहती है कि यदि आप सपा को नहीं चुनते हैं तो आप असुरक्षित हैं। इस तरह यह नाटक भाजपा और सपा, दोनों के अनुकूल बैठता है।
उन्होंने कहा कि जब ऐसा मुद्दा सामने आता है तो सपा खुश होती है क्योंकि इसे अपने मकसद में नाकाम रहने और कुशासन पर सवालों का जवाब नहीं देना पड़ता है। ओवैसी ने कहा कि एआईएमआईएम अगले साल के शुरुआत में उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव लड़ेगा। उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी ने उत्तर प्रदेश में एक गठबंधन बनाने के लिए विकल्प खुले रखे हैं।

1 टिप्पणी

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

ताजा समाचार

रायपुर की अंजली ने जीता प्रथम पुरस्कार

रायपुर: बारहवीं की छात्रा अंजली शर्मा ने मध्यप्रदेश के उज्जैन में आयोजित “खनक” नामक अखिल भारतीय डान्स और म्यूजिक फेस्टिवल 2021 में प्रथम पुरस्कार...

बजट पर बोले कमलनाथ- आमजन के लिए निराशा के अलावा और कुछ नहीं

कांग्रेस नेता कमलनाथ ने कहा कि मेक इन इंडिया,डिजिटल इंडिया के पुराने नारों की तरह अब आत्मनिर्भर के नए नारे के साथ आंकड़ों की...

Budget 2021 Live: FM निर्मला ने टैक्स रिफॉर्म में किए कई ऐलान, जानिए बजट की बड़ी बातें

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज आम बजट पेश किया. कोरोना महामारी के दौरान प्रभावित हुई भारत की अर्थव्यवस्था को लेकर सबकी निगाहें...

Related Articles

बजट पर बोले कमलनाथ- आमजन के लिए निराशा के अलावा और कुछ नहीं

कांग्रेस नेता कमलनाथ ने कहा कि मेक इन इंडिया,डिजिटल इंडिया के पुराने नारों की तरह अब आत्मनिर्भर के नए नारे के साथ आंकड़ों की...

बंगाल विधानसभा चुनाव: साथ लड़ेंगे कांग्रेस- लेफ्ट, सीटों को हुआ बटवारा

बंगाल में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए हलचल शुरू हो गई है। कांग्रेस और लेफ्ट पार्टियों में गठबंधन को लेकर चल रही चर्चाओं...

अर्नब की व्हाट्सऐप चैट पर कांग्रेस हमलावर, चार पूर्व मंत्रियों ने कहा- इसमें नहीं मिल सकती माफी

रिपब्लिक टीवी के संपादक अर्नब गोस्वामी BARC के पूर्व सीईओ पार्थ दासगुप्ता की कथित व्हाट्सऐप चैट को लेकर कांग्रेस ने केंद्र सरकार से कड़ी...