Newbuzzindia:  सपा का कलह, सपाइयों के बीच झड़प, सपा के नेताओं की टक्कर और सपा का बिखरने तक पहुँचना, इन बातों से कोई भी अंजान नही है। उत्तरप्रदेश ही नही देश के हर राज्य और राज्य का हर व्यक्ति सपा के इस गृह कलह से भलीभांति परिचित है। सपा में इतना कुछ हुआ और आखिरकार मामला शांत हो गया। पर क्या आपने सोचा है कि इन सब से फायदा किसको हुआ ? कहा जा रहा था कि सपा में चल रहे इस बवाल से राजनीति में सपा की पकड़ ढीली पड़ जाएगी और सपा का अस्तित्व तक खतरें में पड़ जाएगा। पर ऐसा कुछ भी नही हुआ, इतना सब कुछ हो गया और इसका फायदा भी मिला।

सपा के कलह और अंतर्द्वंद से जिस व्यक्ति को फायदा हुआ है, वह है उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ! एक सर्वे से खुलासा हुआ है कि सपा में चल रहे बवाल से अखिलेश यादव को अधिक लोग जानने लगे है। उनके चर्चे आम लोगों तक पहुचें है और इसी के चलते उनकी लोकप्रियता में इजाफा भी हुआ है।

यह सर्वे सी-वोटर की तरफ से किया गया था जिसमे सितम्बर और अक्टूबर के आंकड़े जारी किये गए है। जो की आम लोगों तक जाकर इकट्ठा किये गए है। सर्वे के मुताबिक सितंबर अखिलेश को पसंद करने वालों की संख्या 77.1 फीसदी थी, तो अक्तूबर में 83.1 फीसदी लोगों ने अखिलेश को पसंद किया। बतौर मुख्यमंत्री अखिलेश को 66.7 फीसदी लोगों ने पसंद किया। वहीं, उन्हें अक्टूबर मुख्यमंत्री के तौर पसंद करने वालों की आंकड़ा 75.7 फीसदी रहा।

वहीँ सर्वें से चौकाने वाला खुलासा भी हुआ है। सपा के अंतर्द्वंद से सपा के महानायक मुलायम सिंफह यादव की छवि को खासा नुकसान हुआ है। उत्तरप्रदेश में उनके चाहने वालों की संख्या में गिरावट देखी गयी है। मुलायम सिंह यादव को मुख्यमंत्री के रूप में देखने वालों को संख्या पहले 19.1 फीसदी थी जो अब मात्र 14.9 फीसदी रह गयी है।

Advertisements
Loading...