प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री मैल्कम टर्नबुल के साथ सोमवार को दिल्ली के अक्षरधाम मंदिर का दर्शन करने पहुंचे. दोनों देशों के प्रधानमंत्री ने इस दौरान मेट्रो का सफर किया, वह मंडी हाउस से अक्षरधाम मंदिर मेट्रो से पहुंचे. सोमवार को मीडिया और सोशल मीडिया पर मोदी के इस एक्शन की खूब चर्चा हुई. लेकिन सवाल है कि क्या नरेंद्र मोदी और मैल्कम टर्नबुल ने इस यात्रा के दौरान कोई नियम तोड़ा.

मेट्रो में खींची फोटो

दरअसल, अपनी मेट्रो यात्रा के दौरान दोनों नेताओं ने खूब सेल्फियां ली, और कैमरे का इस्तेमाल किया. मेट्रो के नियमों के अनुसार मेट्रो स्टेशन परिसर और मेट्रो में कैमरे का इस्तेमाल करने पर मनाही है. मतलब दोनों नेताओं ने दिल्ली मेट्रो का नियम तोड़ा है, नियमों के अनुसार पीएम मोदी और मैल्कम टर्नबुल पर 500 रुपये का जुर्माना लगना चाहिए. हालांकि, सवाल यह भी है कि क्या दिल्ली पुलिस/मेट्रो ने वीवीआईपी यात्रा के कारण नियमों में थोड़ी नरमी बरती है.

मेट्रो स्टेशन पर लगे मोदी-मोदी के नारे
सोमवार अचानक दोनों प्रधानमंत्री मंडी मेट्रो स्टेशन पहुंचे. जिसे देखकर वहां मौजूद अन्य यात्री भी चौंक गये, पीएम मोदी को वहां देख लोगों ने मोदी-मोदी के नारे भी लगाये. दोनों पीएम ने यात्रा के दौरान तस्वीरें खिंचवाई और बातें की.

पहली बार नहीं है मोदी का मेट्रो सफर
पहली बार नहीं है जब मोदी दिल्ली के मेट्रो स्टेशन से सफर कर रहे हैं. फरीदाबाद रूट और एयरपोर्ट रूट पर मोदी मेट्रो में सफर कर चुके हैं. पिछले साल पीएम मोदी ने फ्रेंच प्रेसीडेंट फ्रांस्वा ओलांद के साथ भी मैट्रो में यात्रा की थी. उस वक्त पीएम मोदी ने दिल्ली से गुड़गांव तक की यात्रा मेट्रो में की थी.

Loading...