fbpx
Monday, May 10, 2021

मध्यप्रदेश में अब पर्यटकों को भारतीय संस्कृति और आध्यात्म से जोड़ा जाएगा

मध्यप्रदेश में नगरीय निकाय चुनाव (Urban Body Election) और पंचायत चुनाव (Panchayat Election) होने से पहले शिवराज सरकार हिन्दुत्व की राह पर चल पड़ी है। राम मंदिर (Ram Mandir) और धर्म स्वातंत्र्य विधेयक 2020 (Religious Freedom Bill 2020) कानून बनाने के बाद अब प्रदेश सरकार ने फैसला लिया है कि पर्यटकों को भारतीय संस्कृति और आध्यात्म से जोड़ा जाएगा।इसके पीछे सरकार का मुख्य उद्देश्य रोजगार और पर्यटन को बढ़ावा देना है।

इसी दौरान साँची में बुद्ध जम्बूद्वीप पार्क तथा पर्यटक सुविधा केन्द्र का लोकार्पण करने पहुंची पर्यटन, संस्कृति एवं आध्यात्म मंत्री उषा ठाकुर ने कहा कि प्रदेश में पर्यटकों को पर्यटन के साथ साथ भारतीय संस्कृति और आध्यात्म से जोड़ा जाएगा। परिणाम स्वरूप पर्यटकों के बीच साँची और भी अधिक लोकप्रिय बनेगा।

मंत्री ने कहा कि हम सिटी म्यूजियम के माध्यम से मध्यप्रदेश की आने वाली पीढ़ी को सच्चा इतिहास बताना चाहते हैं। गुरुनानक देव जी की 550वीं जयंती को दृष्टिगत रखते हुए सिक्ख गुरुओं की बलिदानी पावन परम्परा पर सुंदर संग्रहालय बनाया जायेगा । उन्होंने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की मंशा के मद्देनजर प्रदेश में स्प्रिचुएबल टूरिज्मको बढ़ावा दिया जाएगा।

मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने कहा कि साँची क्षेत्र में किये जा रहे विकास और सौंदर्यीकरण कार्यों से नि:संदेह पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा और लोगों को रोजगार के नवीन अवसर भी प्राप्त होंगे। साँची आने वाले पर्यटकों को सभी प्रकार की सुविधाएँ मुहैया कराने के लिये 5 करोड़ की लागत से पर्यटक सुविधा केन्द्र स्थापित किया गया है।

स्वदेश दर्शन योजना के तहत बुद्धिस्ट स्थलों पर सुविधाएँ बढ़ाई गई हैं। मध्यप्रदेश पर्यटन विकास निगम द्वारा 25 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित बुद्ध जम्बूद्वीप थीम पार्क 17 एकड़ में फैला हुआ है। पार्क महात्मा बुद्ध के जीवन सिद्धांतों के अनुसार बनाया गया है। बुद्ध जम्बूद्वीप पार्क में इंटरप्रिटेशन सेंटर भी बनाया गया है। इसमें बुद्ध और बौद्ध धर्म का कालानुक्रमिक समय, इसका उद्भव, विस्तार और प्रसार सेंटर की गैलरियों में प्रस्तुत किया गया है।

ताजा समाचार

Related Articles