Thursday, June 24, 2021

धार्मिक स्थल खोले जाने की मांग को लेकर भाजपा विधायक ने लिखा मुख्यमंत्री को पत्र

मध्यप्रदेश में कोरोना महामारी की दूसरी लहर को रोकने के लिए लगाए गए लॉकडाउन (कोरोना कर्फ्यू) को अब प्रशासन संक्रमण की घटती दर को देखते हुए धीरे-धीरे हटा रहा है अब वह सख्ती भी नहीं अपनाई जा रही जो अप्रैल और मई के महीने में प्रशासन और पुलिस प्रशासन द्वारा की गई थी।

इस बीच सतना जिले के मैहर विधानसभा से विधायक नारायण त्रिपाठी ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पत्र लिखकर धार्मिक स्थल खोलने की मांग की है इसके पीछे त्रिपाठी का तर्क है कि धार्मिक स्थलों से कई परिवारों की आजीविका लगी हुई है और वह परिवार इस कोरोना संकट में बहुत परेशानी से जूझ रहे हैं अगर धार्मिक स्थल खोल दिए जाएंगे और मंदिरों में दर्शन की व्यवस्था पुनः प्रारंभ हो जाएगी तो इनकी रोजी रोटी का संकट उत्पन्न नहीं होगा।

त्रिपाठी ने कहा कि भिखारी से लेकर मंदिर के बाहर दुकान चलाने वाले चप्पलों को सहेज कर रखने वाले पार्किंग स्टैंड वाले सभी की आजीविका इन धार्मिक स्थलों से लगी हुई है इसलिए मंदिरों और अन्य धार्मिक स्थलों को खोला जाना चाहिए।

पार्टी ने मैहर के शारदा माता मंदिर उज्जैन के बाबा महाकाल,चित्रकूट की कामदगिरि परिक्रमा कामतानाथ मंदिर,ओंकारेश्वर मंदिर समेत पूरे प्रदेश के समस्त धार्मिक स्थलों को खोलने की मांग की है।

त्रिपाठी ने मुख्यमंत्री से अभी मांग की है कि धार्मिक स्थलों पर भीड़ नियंत्रण के लिए स्थानीय प्रशासन कोई ऐसी वैकल्पिक व्यवस्थाओं का निर्माण सुनिश्चित करें जिससे लोगों को दर्शन भी मिल सके और वह संक्रमण से भी बच सके।

बता दें कि त्रिपाठी की विधानसभा मैहर में शारदा माता का विश्व प्रसिद्ध मंदिर है यहां पर करोड़ों की संख्या में लोग प्रतिवर्ष आते हैं और देवी से मन्नतें मांगते हैं नवरात्रि में तो रोज 500000 से ऊपर लोग दर्शनों के लिए आते हैं उनकी विधानसभा के अधिकतम लोग प्रसाद चोला और मंदिर साफ सफाई इत्यादि से जुड़े हुए हैं इसलिए त्रिपाठी ने मुख्यमंत्री से यह मांग की है।

ताजा समाचार

Related Articles