fbpx
Monday, April 19, 2021

जानिए मोदी के आगे क्यों फ़ीके पड़ जाते हैं दुनिया भर के दिग्गज नेता

NewBuzzIndia:

देश के अंदर चाहे कितने भी प्रधानमंत्री मोदी के आलोचक हो, पर इस बात पर तो विरोधियों को भी ऐतराज़ नहीं होगा की मोदी ने विश्व भर में भारत का पक्ष मज़बूती से रखा है। अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भारत की छवि को सुधरने और सवारने में मोदी का अथक योगदान रहा है।

आज प्रधानमंत्री मोदी ने भारत को एक और कामयाबी दिलाई। बातचीत के बाद स्विट्जरलैंड सरकार भारत को NSG मेम्बरशिप दिलाने के लिए राजी हो गयी साथ ही कालेधन पर भी एक दूसरे के सहयोग पर सहमति बनी। प्रधानमंत्री मोदी केवल दो ही वर्षों में दुनिया के पावरफुल नेताओं में गिने जाने लगे हैं, मोदी जहाँ भी जाते हैं वहां पर अपनी छाप जरूर छोड़ते हैं इसके अलावा भारत को एक मजबूत देश की तरह पेश करते हैं।

यह कहना गलत नहीं होगा कि एक मजबूत प्रधानमंत्री की वजह से देश भी मजबूत दिखता है। अक्सर देखने में आता है कि दुनिया के ज्यादातर नेता जॉइंट प्रेस स्टेटमेंट में लिखा हुआ भाषण पढ़ते हैं लेकिन मोदी के मामले में ऐसा नहीं है। मोदी अक्सर दिल और दिमाग से बोलते हैं, चाहे वे यूएस की संसद को संबोधित करें, भारत की संसद को संबोधित करें, रैलियों में भाषण दें या राष्ट्र प्रमुखों के साथ जॉइंट प्रेस स्टेटमेंट जारी करें।
आपने देखा होगा कि लिखा हुआ भाषण पढने वाले नेता उतना प्रभाव नहीं छोड़ पाते जिनता प्रभाव बिना देखे बोलने वाले नेता छोड़ते हैं। हम पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की आलोचना नहीं करना चाहते लेकिन वे हमेशा लिखा हुआ भाषण पढ़ते थे और भाषण पढ़ते वक्त एक बार भी ऊपर की तरफ नहीं देखते थे, इससे वे कम विदेश जाते थे, कब आते थे, किसी नेता से क्या बात करते थे, किसी देश से क्या समझौता करते थे, पता नहीं चल पाता था।

लेकिन मोदी के मामले में ऐसा नहीं है, वे जब भी बोलते हैं बिना देखे बोलते हैं और कॉन्फिडेंस के साथ बोलते हैं। आज स्विट्जरलैंड में जॉइंट प्रेस स्टेटमेंट जारी करते वक्त भी ऐसा ही हुआ। स्विट्जरलैंड के राष्ट्रपति जॉन स्नाइडर अम्मान ने लिखा हुआ भाषण पढ़ा जबकि वे अपने ही देश में बोल रहे थे लेकिन मोदी ने सीना तानकर, आँखों में आँखें डालकर बिना देखे हुए अपनी बात कही। मोदी की यही खूबियाँ उन्हें दुनिया में सबसे ताकतवर नेताओं में शुमार करती जा रही हैं। आप खुद वीडियो देखिये, समझ जाएंगे कि मोदी में कितना कांफिडेंस है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

ताजा समाचार

इंदौर के एक परिवार ने 16 लाख चुकाए तब मिले शव

मध्य प्रदेश(Madhya Pradesh) के इंदौर(indore) के पांच लोगों के परिवार में से तीन की कोरोना के चलते मौत हो गई। बाकी दो सदस्यों में...

राजस्थान में 3 मई तक लगा लॉकडाउन लागू, जानें क्या खुलेगा और क्या रहेगा बंद

राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार ने बढ़ते कोरोना संक्रमण के मामलों को देखते हुए 19 अप्रैल से 3 मई तक के लिए लॉकडाउन लगाने...

जहां ऑक्सीजन की कमी पूरे देश भर में है, वहीं ऑक्सीजन टैंकर की हो रही है पूजा

मध्य प्रदेश में कोरोना से महामारी मची हुई है। ना ऑक्सीजन मिल रहा है और ना ही बेड। ऐसे में इंदौर में ऑक्सीजन टैंकर...

Related Articles

जहां ऑक्सीजन की कमी पूरे देश भर में है, वहीं ऑक्सीजन टैंकर की हो रही है पूजा

मध्य प्रदेश में कोरोना से महामारी मची हुई है। ना ऑक्सीजन मिल रहा है और ना ही बेड। ऐसे में इंदौर में ऑक्सीजन टैंकर...

क्यों कोरोना के लक्षण के बाद भी रिपोर्ट आती है नेगेटिव, जानिए कारण

देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर तेजी से फैल रही है। यह बुजुर्गों के साथ-साथ बच्चों और युवाओं के लिए भी...

हिमाचल सरकार रेमडिसीवीर इंजेक्शन की सप्लाई को लेकर मध्यप्रदेश सरकार को कर सकती है मदद

मध्य प्रदेश के विधायक अजय विश्नोई ने मुख्यमंत्री से सहयोग लेकर हिमाचल प्रदेश की दवा निर्माता कंपनी से इंजेक्शन की उपलब्धता सुनिश्चित की है।...