NewBuzzIndia:

चीन में लगे रोज़े और रमज़ान के प्रतिबंध का असर भारत में भी साफ़ तौर पर देखा जा रहा है। इस मुद्दे पर देश के मुसलमानों ने दिखाई एकता और विरोध में सभी ‘मेड इन चाईना’ उत्पादों का बहिष्कार कर दिया है। बाज़ार में खास कर के टोपियों का बहिष्कार किया गया है। दुकानदारों ने थोक मंडी से बेचने के लिए टोपियां नहीं खरीदी और ना ही कोई और चाइनीज़ सामान उठाया। वही पाकिस्तान, इंडोनेशिया और बाकि इस्लामी देशों में मस्तकी टोपियों की ज़बरदस्त बिक्री हुई।

ये भी पढ़ें…100 करोड़ लेने और ब्लैकमेल के मामले में ZEE NEWS के संपादक को सुप्रीम कोर्ट से पड़ी फटकार

इस बार चीन की सरकार ने अपने देश में रोजे पर पाबंदी लगा दी है। इसका विरोध भारत में कई जगह हुआ। बरेली के कई संगठनों ने राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री को ज्ञापन भेज कर इस मामले में चीन की सरकार से बात करने की मांग की थी। रोजे पर रोक के विरोध में बरेली के दुकानदारों ने चाइना का माल नहीं उठाया।

ये भी पढ़ें… मोदी सरकार के खिलाफ खुल के सामने आए स्वामी, प्रधानमंत्री मोदी के “अच्छे दिन” और बेहतर जीडीपी पर किया हमला

टोपी के अलावा दूसरे इस्लामी सामान जैसे कार हैंगिंग, तसबीह, तुगरे, घड़ी आदि बिलकुल नहीं खरीदे गए। लोगों ने चाइनीज सामान से पूरी तरह बहिष्कार किया है।

यर भी पढ़ें… बकरीद पर इरफ़ान खान ने दिया विवादित बयान, कहा ‘बकरे की कुर्बानी देना है गलत, देना है तो अपने अज़ीज़ की दें कुर्बानी।’

Loading...

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.