fbpx
Wednesday, September 30, 2020

Gesture of support from France as it freezes JeM founder Masood Azhar’s assets

जेएनयू में एबीवीपी की गुंडागर्दी, कमरें में घुसकर 16 लोगों ने की छात्र की पिटाई

दिल्ली में जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में छात्रों के साथ हिंसा का एक और मामला सामने आया है। ऑल...

एक साल में 42480 किसानों ने की आत्हत्या, मीडिया और सरकार खामोश

एनसीआरबी (नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो) के ताज़ा आंकड़ों के मुताबिक, साल 2019 में 42480 किसानों -मजदूरों को आत्महत्या...

SBI ने ATM से पैसे निकालने के नियम बदले, ट्रांजैक्शन फेल होने पर लगेगा जुर्माना

भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने अपने ग्राहकों के लिए ATM से कैश निकालने के नियमों में कुछ बदलाव किए हैं। 1 जुलाई...

राजस्थान: अशोक गहलोत के नेतृत्व में कांग्रेस सरकार को विधानसभा में मिला विश्वासमत

लगभग 1 महीने चले राजनैतिक ड्रामे के बाद आज हुई हुए विधानसभा सत्र में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में कांग्रेस ने...

कोर्ट की अवमानना के मामले में प्रशांत भूषण दोषी करार, 20 को सजा पर फैसला करेगा सुप्रीम कोर्ट

अदालत की अवमानना मामले में आज सुप्रीम कोर्ट ने सीनियर वकील प्रशांत भूषण को दोषी करार दिया है।...

In a bright gesture of support, France approves sanctions on JeM founder Masood Azhar. It also freezed his assets in on it’s soil. Few days ago, they pledged to designate Jaish-e-Mohammed chief Masood Azhar as a global terrorist at the United Nations. JeM claimed the responsibility of Pulwama attack.

“France has decided to sanction Masood Azhar at the national level by freezing his assets in application of the Monetary and Financial Code. A joint decree of the Ministries of the Interior, and Economy and Finance was published today in the Official Gazette,” said a press statement from the Government of France that was also placed on social media by the French Ambassador to India.

Apart from creating hurdles for financial transactions, the sanction from France will also help in stopping travel by Azhar and his known followers.

Such a nice gesture by France. It would definitely put pressure on Pakistan to act against the terror groups based in its territory. Since Pulwama attack, India has sought tough actions on terrorist groups and individuals like Azhar. This move would also induce support from nations which are not openly supporting India through actions.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

ताजा समाचार

जेएनयू में एबीवीपी की गुंडागर्दी, कमरें में घुसकर 16 लोगों ने की छात्र की पिटाई

दिल्ली में जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में छात्रों के साथ हिंसा का एक और मामला सामने आया है। ऑल...

एक साल में 42480 किसानों ने की आत्हत्या, मीडिया और सरकार खामोश

एनसीआरबी (नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो) के ताज़ा आंकड़ों के मुताबिक, साल 2019 में 42480 किसानों -मजदूरों को आत्महत्या...

SBI ने ATM से पैसे निकालने के नियम बदले, ट्रांजैक्शन फेल होने पर लगेगा जुर्माना

भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने अपने ग्राहकों के लिए ATM से कैश निकालने के नियमों में कुछ बदलाव किए हैं। 1 जुलाई...

Related Articles

अमरीका में विमान कंपनियों को मदद की शर्त, न सैलरी कम करे और न निकाले किसी को

अमरीकी ट्रेज़री विभाग ने शनिवार को विमान कंपनियों की मदद के लिए 9.5 अरब डॉलर जारी किए हैं।...

Nepal objects to India’s inclusion of Kalapani in their new map

By: Talat Mohsin After India released a new map which showed Kalapani as part of the country, Nepal has...

“Bionic Man” Brings In Hope For The Disability With His New Innovation

They say that there is no stop to invention and innovation and amongst these inventors and innovators, Hugh Herr is one of...