fbpx
Wednesday, September 30, 2020

A Japanese Company that pays its employee for a Full Night Sleep

जेएनयू में एबीवीपी की गुंडागर्दी, कमरें में घुसकर 16 लोगों ने की छात्र की पिटाई

दिल्ली में जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में छात्रों के साथ हिंसा का एक और मामला सामने आया है। ऑल...

एक साल में 42480 किसानों ने की आत्हत्या, मीडिया और सरकार खामोश

एनसीआरबी (नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो) के ताज़ा आंकड़ों के मुताबिक, साल 2019 में 42480 किसानों -मजदूरों को आत्महत्या...

SBI ने ATM से पैसे निकालने के नियम बदले, ट्रांजैक्शन फेल होने पर लगेगा जुर्माना

भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने अपने ग्राहकों के लिए ATM से कैश निकालने के नियमों में कुछ बदलाव किए हैं। 1 जुलाई...

राजस्थान: अशोक गहलोत के नेतृत्व में कांग्रेस सरकार को विधानसभा में मिला विश्वासमत

लगभग 1 महीने चले राजनैतिक ड्रामे के बाद आज हुई हुए विधानसभा सत्र में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में कांग्रेस ने...

कोर्ट की अवमानना के मामले में प्रशांत भूषण दोषी करार, 20 को सजा पर फैसला करेगा सुप्रीम कोर्ट

अदालत की अवमानना मामले में आज सुप्रीम कोर्ट ने सीनियर वकील प्रशांत भूषण को दोषी करार दिया है।...

Japan has always been in the eyes of the researchers when it comes to increasing suicide rates and depression and the reasons – work pressure being dominant.

In an uninterrupted toxic environment with social media at its peak with the heavy rise in competition at workplaces, employees sleep cycle is getting interrupted. The National Sleep Foundation after two years of continuous research came out with their recommended guideline on sleep patterns for different age groups. Among which they have stated that an adult/ Older adult sleep pattern should range from 7 – 8 hours a day and for the younger adults it is 7 – 9 hours.

Image source: Bloomsberg

An appreciable initiative has been taken by Kazuhiko Moriyama, CEO of the Japanese company Crazy Inc. a wedding organizing firm, where he will be paying the employee for sleeping. He also goes on by pointing the flaw in the system and the pattern of work. The productivity gets hampered due to the inaction of the employee due to fatigue or lack of sleep. “ You have to protect workers’ rights, otherwise the country itself will weaken,” Says Moriyama to Business Today. He also adds – he wants to reach a million employees and do something that other people will think is crazy.

In this fast brittle world of a company lifestyle, one tends to ignore the core generating productivity.  An app made by Airweave Inc. needs to be installed in order to track the sleep cycle of the employees. “Employees with happier lives will lead to better performance,” he adds. Employees who sleep at least six hours a night for at least five days a week are awarded points. The points awarded to them could be used for food in the company cafeteria worth as much as 64,000 yen per night.it

It is therefore important for companies to understand that productivity comes from treating employees right. Every company should take this not ‘with a pinch of salt’ but with a serious concern.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

ताजा समाचार

जेएनयू में एबीवीपी की गुंडागर्दी, कमरें में घुसकर 16 लोगों ने की छात्र की पिटाई

दिल्ली में जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में छात्रों के साथ हिंसा का एक और मामला सामने आया है। ऑल...

एक साल में 42480 किसानों ने की आत्हत्या, मीडिया और सरकार खामोश

एनसीआरबी (नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो) के ताज़ा आंकड़ों के मुताबिक, साल 2019 में 42480 किसानों -मजदूरों को आत्महत्या...

SBI ने ATM से पैसे निकालने के नियम बदले, ट्रांजैक्शन फेल होने पर लगेगा जुर्माना

भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने अपने ग्राहकों के लिए ATM से कैश निकालने के नियमों में कुछ बदलाव किए हैं। 1 जुलाई...

Related Articles

Vizag: Another Bhopal?

Vizag saw a gas leak on morning of May7, 2020 at LG Polymers Industry. 11 people have died and...

अमरीका में विमान कंपनियों को मदद की शर्त, न सैलरी कम करे और न निकाले किसी को

अमरीकी ट्रेज़री विभाग ने शनिवार को विमान कंपनियों की मदद के लिए 9.5 अरब डॉलर जारी किए हैं।...

Lifesavers are helpless due to traffic jams

By: Ankita Mukherjee Patients suffer as ambulances do not reach on time due to heavy traffic congestion across...