fbpx

Media Remains Unheard This Time

Must Read

राहुल गांधी का केंद्र सरकार पर निशाना, बोले बीमारों और मृतकों की इतनी भीड़ पहली बार देखी है

कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष और वायनाड से सांसद राहुल गांधी ने एक बार फिर मोदी सरकार पर निशाना...

नही काम आई मुख्यमंत्री की अपील, कोरोना के डर से दमोह में हुआ सिर्फ 59.81% मतदान, कांग्रेस को फायदा मिलने की संभावना

दमोह चुनाव में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का एक भाषण और टू इट काफी वायरल हुआ था जिसमें उन्होंने...

कुम्भ मेला हरिद्वार से आने वालों की होगी जांच, गृह विभाग ने जारी किया आदेश।

हरिद्वार कुंभ में फैले कोरोना संक्रमण से प्रदेश के श्रद्धालुओं को बचाने के उद्देश्य से मध्यप्रदेश सरकार कुंभ मेला...

पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा को मिल सकता है बंगाल में 8 चरण के चुनाव कराने का फायदा, बनाये जा सकते हैं राज्यपाल

मोदी सरकार पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त(Chief Election Commissioner) सुनील अरोड़ा(Sunil Arora) को बंगाल चुनाव को 8 चरणों मे करे...

चारा घोटाला केस में लालू यादव को मिली सशर्त जमानत, बाहर आने का रास्ता साफ

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल(RJD) सुप्रीमों लालू प्रसाद यादव(Lalu Prasad Yadav) को झारखंड उच्च न्यायालय ने...

Corona Update

India
14,788,109
Total confirmed cases
Updated on April 18, 2021 1:33 pm

The Wire v/s Shah duo:
According to the published piece by news portal “the Wire”, on 8 of October 2017, allegations against Jay shah, son of BJP chief Amit Shah was put on the grounds that after the drastic step of Demonetisation, Jay’s business grew enormously.
It has been accused that since current Prime Minister of the country came into the action from 2014, Jay Shah’s work expanded in 16,000-folds unexpectedly.
This article is held responsible for various political storms which include the firm and RSS. This growth is claimed to be the outcome of corruption and Congress blame Narendra Modi and Demonetisation for the so-called ‘conspiracy’.
On 14 of October, RSS General Secretary, Suresh Bhaiyyaji Joshi stated that no individual or organization can accuse Shah’s on any grounds until an official announcement is made. It’s court’s responsibility to dig the soil and study the root. He also said that if this expansion is a result of corruption then Jay Shah won’t have courage for defamation suing against The Wire.

The Wire statement: “The Wire was neither served notice nor given an opportunity to be heard before this ex-parte injunction was sought and granted”.

To get more such updates delivered first to you, like our Facebook Page. Also dont forget to follow us onTwitter, Instagram and Google News. To send guest post or press release, mail us at editor.newbuzzindia@gmail.com

Connect on Social Media

37,326FansLike
1,100FollowersFollow
11,454FollowersFollow
760FollowersFollow
15SubscribersSubscribe

Editor's Pick

भाजपा मंडल अध्यक्ष का फूटा गुस्सा, शिवराज को कहा निकम्मा

कोरोना महामारी से अपने करीबियों को खोने के बाद जबलपुर के भाजपा मंडल अध्यक्ष का गुस्सा फूटा है। और...

Trending News