Newbuzzindia: लगता है जेएनयू छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार सुर्खियों में बना रहना चाहते हैं। इसी कड़ी में उन्होंने आज एक शख्स पर आरोप लगाया कि विमान में मेरा गला दबाने की कोशिश की। कन्हैया कुमार ने तथाकथित हमलावर को भाजपा समर्थक बताया। वहीं दूसरी ओर कन्हैया के साथी ने दर्ज शिकायत में लिखा है कि विमान में धक्का मुक्की और गाली गलौच हुई।

वहीं आरोपी का कहना है कि पांव में तकलीफ की वजह से कन्हैया और उसके साथियों को धक्का लग गया, उसका ऐसा करने का कोई इरादा नहीं था।  जेएनयू छात्र संघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार के विमान में गला दबाए जाने के आरोपों को मुंबई पुलिस ने खारिज कर दिया है। पुलिस ने कहा है कि कन्हैया ने शिकायत दर्ज कराने से इनकार कर दिया है।

कन्हैया ने मुंबई से पुणे जाने वाली फ्लाइट में अपने सहयात्री मानस ज्योति डेका को भाजपा का समर्थक बताया, विमान के अंदर मारपीट और गला दबाने की कोशिश का आरोप लगाते हुए कन्हैया ने ट्वीट किया, एक बार फिर, इस बार प्लेन के अंदर एक शख़्स ने मेरा गला घोंटने की कोशिश की। इस घटना के बाद जेट एयरवेज ने हमला करने वाले के खिलाफ कार्रवाई करने से इनकार कर दिया।

जेट एयरवेज का कहना है कि उसके लिए हमला करने वाले और जिसपर हमला हुआ उसमें कोई अंतर नहीं है। अगर आप शिकायत करते हैं तो आप दोनों को प्लेन से उतार दिया जाएगा। कन्हैया के साथी ने भी मीडिया को बताया कि दो बार उसका गला दबाने की कोशिश की, मैं बगल में ही बैठा था।

वहीं कन्हैया पर हमले के कथित आरोपी मानव डेका ने खुद को निर्दोष बताया है, उसका कहना है कि उसके पैर में चोट लगी है, जिस वजह से धक्का लगा। वो नौकरी के सिलसिले में कोलकाता से पुणे जा रहा था, उसका बीजेपी से कोई नाता नहीं है। मानस ने कहा मैं टीसीएस में काम करता हूं, नौकरी के सिलसिले में मैं कोलकाता से वाया मुंबई-पुणे जा रहा था, मैं शिकायत करुंगा, मेरा पूरा दिन बर्बाद कर दिया मेरा, मेरा बीजेपी से कोई रिश्ता नहीं है।

वहीं इस पूरे मामले में पुलिस का कहना है कि जांच में शिकायत झूठी निकली और कन्हैया ने बातें बढ़ा-चढ़ाकर पेश कीं, ज्वाइंट कमिश्नर देवेन भारती ने कहा जब कन्हैया से कहा गया कि वो शिकायत दाखिल करें, तो उसने शिकायत नहीं दी। 8 लोग धक्का-मुक्की में शामिल थे, कन्हैया के साथी ने जो भी कहा है जांच में वो गलत पाया गया। कन्हैया ने बातों को बढ़ा-चढ़ा कर सामने रखा।

NewBuzzIndia से फेसबुक पे जुड़ने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें..
**Like us on facebook**
[wpdevart_like_box profile_id=”858179374289334″ connections=”show” width=”300″ height=”150″ header=”small” cover_photo=”show” locale=”en_US”]

3 COMMENTS

  1. महाराष्ट्र की पुलिस मानस डेका को बचाना चाहती है।मानस डेका का झूट पुलिस ने सच माना।लेकिन मानस डेका भाजपा कार्यकर्ता है।उसके उपर कन्हैया को जान से मारने के इरादे से किया हुआ हमला गुनाह दर्ज होना चाहिये।पुलिस पर भी मानस को बचाने का प्रयास करने पर कारवाई होनी चाहिये। नीचे दिये हुये लिंक पर देख सकते है वो भाजपा का एक्टिव कार्यकर्ता है।
    http://bjp.org/en/media-resources/press-releases/list-central-committee-by-bjp-national-security-cell

  2. मानस डेकाको महाराष्ट्र पुलिस बचा रही है क्योंकि वो भाजपा का एक्टिव कार्यकर्ता है।मानस झूट बोल रहा है।उसके उपर हत्या करने के इरादे से किया हुआ हमला,ऐसा एफ आय आर दर्ज होना चाहिये।पुलिस पर भी कारवाई होनी चाहिये।साथ ही साथ जेट एअरवेज पर भी कारवाई होनी चाहिये।नीचे दिये लिंक पर साफ होता है मानस भाजपा का है । और वो कन्हैया की हत्या करने के इरादे से हवाई सफर कर रहा था

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.