Newbuzzindia: राजनीति में बीजेपी को ऐसी पार्टी माना जाता रहा है जो वंशवाद की राजनीति का विरोध करती है। हालांकि बीजेपी में ऐसे नेताओं की कोई कमी नहीं जिनके परिजन खुद राजनीति में सक्रिय हैं। इस लिस्ट में अब पार्टी अध्यक्ष अमित शाह का नाम भी जुड़ने वाला है। अमित शाह बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं। पार्टी में उनका दबदबा है। उनका फैसला हर मुद्दे पर आखिरी माना जाता है।

इसी कड़ी में अब अमित शाह के बेटे जय शाह को राजनीति में उतारने की तैयारी की जा रही है। पिछले काफी दिनों से अमित शाह के बेटे का नाम सियासी गलियारों में चर्चा में रहा है लेकिन जय शाह को राजनीति में लॉन्च करने का जरिया अमित शाह क्रिकेट को बनाना चाहते हैं। पार्टी का इंटर वार्ड क्रिकेट टूर्नामेंट कर्नावती प्रीमियम लीग जय शाह के राजनीतिक करियर का लॉन्चिंग प्लेटफॉर्म माना जा रहा है।

इसके पीछे ये तर्क जिया जा रहा है कि इन दिनों देश में आईपीएल का खुमार छाया हुआ है। ऐसे में क्रिकेट के जरिए अमित शाह अपने बेटे को राजनीति की पिच पर उतारना चाहते हैं। हालांकि बीजेपी के बड़े नेताओं ने अभी जय शाह को लेकर औपचारिक रुप से कोई बातचीत नहीं की है। बताया जा रहा है कि जय शाह को काफी लंबे समय से राजनीति में उतारने पर विचार चल रहा था। पार्टी में इसको लेकर सुगबुगाहट साफ देखी जा रही है।

अमित शाह के बेटे जय शाह की दिलचस्पी भी राजनीति में है। वो गुजरात क्रिकेट संघ में खासी पकड़ रखते हैं। बता दें कि गुजरात क्रिकेट संघ के अध्यक्ष खुद अमित शाह हैं। वहीं इस बात को लेकर भी पार्टी विचार कर रही है कि जय शाह के राजनीति में आने के बाद विरोधी उन पर हमला करेंगे। पीएम मोदी अक्सर सार्वजनिक मंचों से कांग्रेस की वंशवादी राजनीति को उखाड़ फेंकने की बात कहते रहते हैं। ऐसे में देखना दिलचस्प होगा कि जय शाह के राजनीति में आने पर बीजेपी को किस तरह के हमलों का सामना करना पड़ता है।

NewBuzzIndia से फेसबुक पे जुड़ने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें..
**Like us on facebook**
[wpdevart_like_box profile_id=”858179374289334″ connections=”show” width=”300″ height=”150″ header=”small” cover_photo=”show” locale=”en_US”]

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.