image

Newbuzzindia: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मास्टर (एम.ए.) की डिग्री को लेकर एक बार फिर नया विवाद छिड़ गया है। गुजरात यूनिवर्सिटी के रिटायर्ड प्रोफैसर जयंतीभाई पटेल ने पी.एम. की डिग्री पर सवाल खड़े किए हैं।

उन्होंने खुलासा किया है कि मोदी की एम.ए. की डिग्री में बहुत बड़ी गड़बड़ी है। यही नहीं, जिन विषयों का जिक्र किया गया है, असल में वे विषय तब यूनिवर्सिटी में पढ़ाए ही नहीं जाते थे।

जयंतीभाई ने दावा किया है कि मोदी की एम.ए. की डिग्री को लेकर गुजरात यूनिवर्सिटी की जो मार्कशीट दिखाई जा रही है उसमें और रैगुलर मार्कशीट में काफी फर्क है। वह कहते हैं कि गुजरात यूनिवर्सिटी के मोदी के एम.ए. पार्ट-2 के जो पेपर्स बताए गए हैं, उनके नाम में कुछ गड़बड़ है और मेरी जानकारी के मुताबिक इंटरनल और एक्सटरनल के छात्रों के ऐसे विषयों के पेपर्स नहीं होते थे।

कालेज से गैर-हाजिर रहते थे मोदी
जयंतीभाई गुजरात यूनिवर्सिटी के राजनीति शास्त्र विभाग में साल 1969 से 1983 तक बतौर प्रोफैसर कार्यरत रह चुके हैं। इसी दौरान नरेंद्र मोदी ने भी इंटरनल छात्र के तौर पर एम.ए. के लिए राजनीति शास्त्र विषय में एडमिशन लिया था, हालांकि जयंती पटेल बताते हैं कि मोदी कालेज में सबसे ज्यादा गैर-हाजिर रहते थे।

NewBuzzIndia से फेसबुक पे जुड़ने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें..
**Like us on facebook**
[wpdevart_like_box profile_id=”858179374289334″ connections=”show” width=”300″ height=”150″ header=”small” cover_photo=”show” locale=”en_US”]

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.