शिक्षकों को विद्यार्थियों को पढ़ाते हुए देखा जाता है. लेकिन कुछ शिक्षक ऐसे भी हैं जो अपना कर्त्तव्य भूलकर चुनाव प्रचार में लगे हुए हैं. ताजा मामला सीधी जिले के रामगढ़ नंबर 2 का है. राकेश रोशन शुक्ला नाम का शिक्षक जो कि सरकारी स्कूल में कार्यरत है वह अपना काम भूलकर चुनाव प्रचार में लगा हुआ है। बता दें कि सीधी विधानसभा के कई गावों में 17 जनवरी को ग्राम पंचायतों के चुनाव होने हैं।

अगले पेज पर देखें कैसे चुनाव प्रचार में जुटे हुए है शिक्षक और आंगनबाड़ी कार्यकर्ता

4शिक्षक कर रहे प्रचार

राकेश रोशन शुक्ला को लगातार रामगढ़ में प्रत्याशी के समर्थन में चुनाव प्रचार करते हुए एवं पोस्टर और बुलेटिन बांटते हुए देखा जा रहा है. आंकड़ों की माने तो मध्यप्रदेश में पहले से ही हजारों शिक्षकों की कमी है ऐसे में अगर राज्य के शिक्षक , शिक्षण कार्य छोड़कर राजनीति में सक्रिय रहेंगे तो छात्रों का भविष्य किस दिशा में जाएगा यह विषय चिंतनीय है. गौरतलब है कि शुक्ला को पहले भी कई मौकों पर ऐसे ही शिक्षण कार्य छोड़कर अन्य कार्य करते हुए देखा जा चुका है।

Back