विरिष्ट पत्रकार ॐ थानवी ने छत्तीसगढ़ के पीडब्लूडी मंत्री के सीडी कांड पर जबरदस्त तप्पणी की है । ॐ थानवी ने एक के बाद एक 2 पोस्ट की । अपनी पहली फेसबुक पोस्ट में ॐ थानवी ने छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह की जमकर आलोचना की । वहीं दूसरी पोस्ट में ॐ थानवी ने विरिष्ट पत्रकार विनोद वर्मा के साथ सरकार के बर्ताव पर भी सरकार की आलोचना की । देखें ॐ थानवी के दोनों पोस्ट
ॐ थानवी का पहला पोस्ट

​रमन सिंह से बेवक़ूफ़ मुख्यमंत्री कौन होगा? अपने प्रदेश के प्रतिष्ठित पत्रकार को उनकी सेवाओं के लिए सम्मानित करने की जगह दिल्ली/यूपी पुलिस भेजकर उठवाया है। एक दुराचारी मंत्री के अहम की तुष्टि के लिए। 

और इसके लिए देश भर में उनकी सरकार की थूथू हो रही है। दूसरी तरफ़ यौन विडियो क्लिप वायरल हो चुका है। दस-बारह बार तो अनचाहे मेरे पास ही आ चुका। इस प्रसार का अंदेशा मुझे तभी हो गया था जब छत्तीसगढ़ सरकार ने विनोद वर्मा पर हाथ डाला।

क्या इसे ही नहीं कहते, प्याज़ भी खाना और जूते भी?

ॐ थानवी का दूसरा पोस्ट

वरिष्ठ पत्रकार को छत्तीसगढ़ पुलिस ने मुँह से पकड़ कर इस तरह किया अपमानित। जैसे पत्रकार पर लगे छिछले आरोप प्रमाणित हों और पत्रकार शातिर अपराधी निकला हो। यह रवैया, यह सलूक एक पत्रकार का नहीं, पूरे पत्रकार समाज का अपमान है। 

– जिस मंत्री का क़िस्सा है, उसने कोई रिपोर्ट पुलिस ने दर्ज़ नहीं करवाई। 

– जिसने रिपोर्ट दर्ज़ करवाई, उसने विनोद वर्मा को पार्टी नहीं बनाया है। 

फिर भी पुलिस वालों ने, शायद ऊपर के हुक्म पर, अपने ही प्रदेश से आने वाले पत्रकार को महज़ एक शाम की जाँच में संगीन अपराध के घाट उतार दिया।