पीएम मोदी और अमित शाह की आलोचना पर इतिहासकार रामचंद्र गुहा को मिल रहे है धमकी भरे ईमेल।

0
644

इतिहासकार रामचंद्र गुहा ने मंगलवार को कहा कि बीजेपी, पार्टी अध्यक्ष अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना करने के चलते उन्हें कई धमकी भरे ईमेल आए हैं। इन ईमेल में उन्हें ‘दिव्य महाकाल’ से सजा की चेतावनी दी गई है। फोन पर बातचीत में उन्होंने बताया कि बीते तीन-चार दिनों में उन्हें दर्जनों ईमेल मिले हैं। सभी में एक जैसी ही बात लिखी है साथ ही इनमें पत्रकारों और नेताओं को मार्क किया गया है। एक ईमेल उन्होंने हमारे साथ भी साझा किया।

इस संबंध में उन्होंने ट्विटर पर लिखा, ‘कई लोगों ने मुझे एक जैसे ईमेल भेजे हैं जिसमें उन्होंने चेताया है कि बीजेपी की आलोचना करने के लिए मैं दिव्य महाकाल की सजा के लिए तैयार रहूं। मुझे यह भी चेतावनी दी गई है कि मैं नरेंद्र मोदी और अमित शाह की आलोचना न करूं क्योंकि दिव्य शक्ति महाकाल ने उन्हें दुनिया बदलने के लिए चुना है और आशीर्वाद दिया है।’

उन्होंने कहा, ‘जब मुझे कई मेल मिले तो मुझे लगा कि इन्हें ट्विटर पर डाल दूं, ताकि दूसरे लोगों को आंशिक रूप से रोक सकूं।’

इन ईमेल्स में गुहा के बीते सालों में दिए गए कई बयानों का हवाला दिया गया है। दिसंबर 2015 में गुहा ने मौजूदा सरकार को बुद्धिजीवियों का विरोध करने वाली देश की अब तक की सबसे बड़ी सरकार करार दिया था। बीते साल नवंबर में टाइम्स लिटरेचर फ़ेस्टिवल में उन्होंने कहा था कि उन्हें पूर्व पीएम इंदिरा गांधी और पीएम मोदी में समानताएं दिखती हैं।

यह मामला जून 2016 में गुहा के ‘द टेलीग्राफ’ अखबार में लिखे एक कॉलम से शुरू हुआ था। इसमें उन्होंने लिखा था, ‘इंदिरा गांधी की तरह ही नरेंद्र मोदी एकाकी हैं।’ इसमें उन्होंने अमित शाह की तुलना संजय गांधी से करते हुए लिखा था, ‘उन्हें भी सत्ता का लोभ है।’

loading...