Newbuzzindia : तुम डाल-डाल मैं पात-पात की कहावत पाकिस्तान पर एक दम सटीक बैठती है। पड़ोसी देश पाकिस्‍तान ने भी पीएम मोदी के नक्‍शे कदम पर चलते हुए बड़े नोट बंद करनी की तैयारी में है। पाकिस्‍तान में बड़े नोट बंद करने में एक सीनेटर का हाथ है।

पाकिस्‍तान में बड़े नोट बंद होने से जाली नोटों पर लगेगी लगाम

पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के सीनेटर उस्मान सैफुल्ला खान ने संसद में प्रस्ताव रखा है जिसमें 5000 और 1000 के नोट बंद किए जाने की बात की गई है। पाकिस्तान के हुक्मरानों की इस तैयारी का मकसद जाली नोटों पर काबू पाना और लोगों को अधिक से अधिक बैंकिंग सेवाओं का इस्तेमाल करने के लिए उत्साहित करना है।

भारत की देखदेखी पाकिस्‍तान ने चली चाल
पाकिस्तान के राजनेताओं की तरफ से यह कदम उठाने का ऐलान ऐसे वक्त पर हुआ है जब भारत में भ्रष्टाचार और जाली नोटों के खिलाफ अभियान जारी है। बीते 8 नवंबर को रात 8 बजे पीएम नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र के नाम संदेश में 500 और 1000 के पुराने नोट बंद किए जाने का ऐलान किया। पीएम मोदी ने 2000 के नए नोट चलाने का भी ऐलान किया. भारत सरकार ने काले धन और जाली नोटों पर अंकुश लगाने के लिए यह कड़ा फैसला किया है।