««« *आज का पंचांग* »»»

कलियुगाब्द……………………5120विक्रम संवत्…………………..2075शक संवत्……………………..1940रवि…………………………दक्षिणायनमास……………………………अश्विनपक्ष………………………………कृष्णतिथी…………………………..सप्तमीप्रातः 10.17 पर्यंत पश्चात अष्टमीसूर्योदय……………….06.23.16 परसूर्यास्त………………..06.01.46 परसूर्य राशि…………………………कन्याचन्द्र राशि………………………….धनुनक्षत्र…………………………पूर्वाषाढ़ासंध्या 06.16 पर्यंत पश्चात उत्तराषाढ़ायोग……………………………अतिगंडप्रातः 07.47 पर्यंत पश्चात सुकर्माकरण……………………………वणिजप्रातः 10.17 पर्यंत पश्चात विष्टिऋतु……………………………….शरददिन…………………………..मंगलवार
🇬🇧 *आंग्ल मतानुसार* :-  16 अक्तूबर सन 2018 ईस्वी |
⚜ *त्रिरात्रोत्सव आरंभ :-*
*सप्तम कालरात्रि -**कालरात्रि माता : मां दुर्गा का सप्तम  स्वरूप :-*माँ दुर्गा के सातवें रूप को “माँ कालरात्रि” के नाम से पूजा जाता है। माँ कालरात्रि का वर्ण रात्रि के समान काला है परन्तु वे अंधकार का नाश करने वाली हैं। दुष्टों व राक्षसों का अंत करने वाला माँ दुर्गा का यह रूप देखने में अत्यंत भयंकर लेकिन शुभ फल देता है इसलिए माँ “शुभंकरी” भी कहलाई जाती हैं। माँ कालरात्रि के ब्रह्माण्ड के समान गोल नेत्र हैं। अपनी हर श्वास के साथ माँ की नासिका से अग्नि की ज्वालाएं निकलती रहती हैं। अपने चार हाथों में खड्ग, लोहे का अस्त्र, अभयमुद्रा और वरमुद्रा किये हुए माँ अपने वाहन गर्दभ पर सवार हैं।
☸ शुभ अंक………….7🔯 शुभ रंग………..काला 

👁
🗨

 *राहुकाल :* दोप 03.04 से 04.30 तक । 

🚦

 *दिशाशूल :-*उत्तरदिशा – यदि आवश्यक हो तो गुड़ का सेवन कर यात्रा प्रारंभ करें।
✡ *चौघडिया :-*प्रात: 09.18 से 10.45 तक चंचलप्रात: 10.45 से 12.11 तक लाभदोप. 12.11 से 01.37 तक अमृतदोप. 03.03 से 04.30 तक शुभरात्रि 07.30 से 09.04 तक लाभ । 

📿

 *आज का मंत्र :-*|| ॐ कालरात्र्ये नमः ||

🎙

 *संस्कृत सुभाषितानि :-*नाम्नामकारि बहुधानिज सर्व शक्तिस्तत्रार्पितानियमितः स्मरणे न कालः।एतादृशी तव कृपाभगवन्ममापि दुर्दैवमीदृश-मिहाजनि नानुरागः॥२॥अर्थात :-हे प्रभु, आपने अपने अनेक नामों में अपनी शक्ति भर दी है, जिनका किसी समय भी स्मरण किया जा सकता है। हे भगवन्, आपकी इतनी कृपा है परन्तु मेरा इतना दुर्भाग्य है कि मुझे उन नामों से प्रेम ही नहीं है॥२॥

🍃

 *आरोग्यं :-*

😬

 *दांत की सफाई के उपाय -*
*2. बेकिंग सोडा -*बेकिंग सोडा न केवल आपके दांतों को सफ़ेद करने के लिए प्रयोग किया जाता है, बल्कि इसमें कई स्वास्थ्य और स्वच्छता के भी गुण हैं जिनका आप लाभ उठा सकते हैं। बेकिंग सोडे का इस्तेमाल किचन के साथ-साथ सौंदर्य के लिए भी किया जाता है। त्वचा और सनबर्न से छुटकारा के लिए आप इसका इस्तेमाल कर सकते हैं। दांतों का पीलापन दूर करने के लिए भी यह बहुत ही उपयोगी है। इसके लिए आप एक टेबलस्पून बेकिंग सोडा में एक चुटकी नमक मिला लें। रोजाना दिन में 2 बार ब्रश पर इस पाउडर को हल्का सा लगा कर दांत साफ करें। 
⚜ *आज का राशिफल :-*

🐏

 *राशि फलादेश मेष* :-पूजा-पाठ में मन लगेगा। किसी साधु-संत से मुलाकात होगी। कोर्ट व कचहरी के काम निबटेंगे। धनलाभ सुगमता से होगा। प्रसन्नता एवं उत्साह बने रहेंगे। अज्ञात भय सताएगा। प्रतिद्वंद्वी शांत रहेंगे। मस्तिष्क पीड़ा हो सकती है। कार्य समय-समय पर बनते रहेंगे। प्रमाद न करें। 

🐂

 *राशि फलादेश वृष* :-कीमती वस्तुएं संभालकर रखें। वाहन व मशीनरी के प्रयोग में सावधानी रखें। जल्दबाजी भारी पड़ सकती है। घर-परिवार की चिंता रहेगी। क्रोध पर नियंत्रण रखें। व्यवसाय ठीक चलेगा। आय होगी। संतुष्टि नहीं होगी। जोखिम न उठाएं। 

👫

 *राशि फलादेश मिथुन* :-चोट व रोग से बचें। वैवाहिक प्रस्ताव मिल सकता है। कानूनी बाधा दूर होगी। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। व्यस्तता रहेगी। आराम का समय नहीं मिलेगा। आशंका-कुशंका रहेगी। प्रयास करते रहें। अनुकूलता होती रहेगी। दुष्टजनों से दूरी बनाए रखें। लाभ होगा। 

🦀

 *राशि फलादेश कर्क* :-शत्रु पस्त होंगे। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। संपत्ति की खरीद-फरोख्त की योजना बनेगी। लाभ में वृद्धि होगी। प्रमाद से बचते हुए कोशिश करें। बेरोजगारी दूर करने के प्रयास सफल रहेंगे। पारिवारिक उन्नति होगी। घर-बाहर प्रसन्नता रहेगी। 

🦁

 *राशि फलादेश सिंह* :-आय के नए स्रोत प्राप्त हो सकते हैं। परीक्षा व साक्षात्कार आदि में सफलता प्राप्त होगी। अटके कार्यों में गति आएगी। यात्रा मनोरंजक रहेगी। मनपसंद भोजन का आनंद प्राप्त होगा। वरिष्ठजनों का सहयोग व मार्गदर्शन प्राप्त होगा। कल के काम आज ही निबटा लें। 

👱

🏻‍♀ *राशि फलादेश कन्या* :-बुरी सूचना मिल सकती है। चिंता तथा तनाव रहेंगे। विवाद को बढ़ावा न दें। परिवार में मतभेद हो सकता है। पुराना रोग उभर सकता है। लापरवाही न करें। काम में मन नहीं लगेगा। व्यवसाय ठीक चलेगा। आय से संतोष नहीं होगा। धैर्य रखें। 

⚖ *राशि फलादेश तुला* :-थोड़े प्रयास से ही कार्य पूर्ण होंगे। सामाजिक प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। धनलाभ होगा। व्यवसाय ठीक चलेगा। वाणी पर नियंत्रण रखें। जल्दबाजी न करें। कानूनी अड़चन आ सकती है। भागदौड़ अधिक होगी। शारीरिक कष्ट संभव है। समय बेहतर है। प्रसन्नता रहेगी। 

🦂

 *राशि फलादेश वृश्चिक* :-घर में अतिथियों का आगमन होगा। व्यय होगा। शुभ सूचना प्राप्त होगी। प्रसन्नता रहेगी। यात्रा सुखद रहेगी। कीमती वस्तुएं संभालकर रखें। धनहानि संभव है। व्यवसाय ठीक चलेगा। परिवार के सदस्य सहायता करेंगे। मतभेद समाप्त होंगे। लाभ होगा। 

🏹

 *राशि फलादेश धनु* :-भाग्योन्नति के प्रयास सफल रहेंगे। रोजगार प्राप्त होगा। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। अप्रत्याशित लाभ हो सकता है। लॉटरी-सट्टे से दूर रहें। बेचैनी रहेगी। नेत्र पीड़ा हो सकती है। विरोध होगा। अपेक्षाकृत कार्य समय पर पूर्ण होने से प्रसन्नता में वृद्धि होगी। 

🐊

 *राशि फलादेश मकर* :-पुराना रोग उभर सकता है। अप्रत्याशित खर्च सामने आएंगे। बनते कामों में विलंब होगा। बेवजह कहासुनी हो सकती है। शांति बनाए रखें। अपरिचित व्यक्तियों पर अतिविश्वास न करें। धोखा खा सकते हैं। व्यवसाय ठीक चलेगा। आय कम रहेगी। 

🏺

 *राशि फलादेश कुंभ* :-स्वास्थ्य का ध्यान रखें। परिवार की आवश्यकताओं पर खर्च होगा। चिंता रहेगी। बकाया वसूली के प्रयास सफल रहेंगे। आय में वृद्धि होगी। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। उच्चाधिकारी प्रसन्न रहेंगे। घर-बाहर प्रसन्नता रहेगी। जल्दबाजी से बचें। 

🐋

 *राशि फलादेश मीन* :-नई योजना बनेगी। कार्यप्रणाली में सुधार होगा। तत्काल लाभ नहीं मिलेगा। सामाजिक कार्यों में भाग लेने का अवसर मिल सकता है। मान-सम्मान बढ़ेगा। कार्यसिद्धि होगी। प्रसन्नता रहेगी। जीवनसाथी के स्वास्थ्य की चिंता रहेगी। व्यवसाय ठीक चलेगा। 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.